India
  • search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

अफगानिस्तान में रहने वाले हिंदु और सिख आएंगे भारत, हमले के बाद मोदी सरकार ने जारी किया ई-वीजा

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, जून 19: अल्पसंख्यकों के लिए खतरनाक बनते जा रहे अफगानिस्तान में रहने वाले हिंदुओं और सिखों को भारत सरकार ने देश बुलाने का फैसला किया है और काबुल में गुरुद्वारे पर हमले के बाद हिंदुओं और सिखों को ई-वीजा जारी कर दिए गये हैं। रिपोर्टों के अनुसार, राजधानी काबुल शहर में सिख गुरुद्वारा पर लक्षित हमले के बाद, भारत सरकार ने अफगानिस्तान में रहने वाले 100 से अधिक सिखों और हिंदुओं को प्राथमिकता के आधार पर ई-वीजा दे दिया है।

Nupur Sharma के Prophet वाले बयान का बदला Gurdwara Attack- ISIS | वनइंडिया हिंदी | *International
हिंदू और सिख आएंगे भारत

हिंदू और सिख आएंगे भारत

आपको बता दें कि, इस्लामिक आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ने अफगानिस्तान में रहने वाले हिंदुओं और सिखों पर हमले करने की धमकी दी थी और परवन गुरुद्वारे पर शनिवार को हमला भी किया गया था, जिसके बाद भारत सरकार ने हिंदुओं और सिखों को देश में शरण देने का फैसला किया है। बाग-ए-बाला में गुरुद्वारा में शनिवार को हुए हमले में दो लोगों की मौत हो गई थी और सात घायल हो गए थे।

हो सकता था भीषण हमला

हो सकता था भीषण हमला

यह हमला एक बड़ी त्रासदी बन सकता था अगर मौके पर मौजूद सुरक्षा गार्डों ने अपनी जान जोखिम में डालकर विस्फोटक से भरे एक वाहन को गुरुद्वारे में पहुंचने से पहले ही नहीं रोका गया होता। हमला सुबह सुबह हुआ था और उस वक्त करीब 30 लोग गुरुद्वारे के अंदर मौजूद थे। मृतकों में गुरुद्वारे में एक सिख व्यक्ति और गोलीबारी में तालिबान की इस्लामिक अमीरात सेना का एक जवान शामिल था। पझवोक समाचार एजेंसी ने बताया कि तीन हमलावरों को बाद में तालिबान बलों ने मार गिराया।

इस्लामिक स्टेट बन चुका है बड़ा खतरा

आपको बता दें कि, इस्लामिक स्टेट लगातार अफगानिस्तान में अल्पसंख्यकों और शिया मुस्लिमों को निशाना बना रहा है। आईएसआईएस खुरासान से जुड़े हमलावरों ने घातक हमले की जिम्मेदारी ली थी। एसोसिएटेड प्रेस ने गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के हवाले से कहा कहा कि, "पहले बंदूकधारियों ने एक हथगोला फेंका जिससे गुरुद्वारे के गेट के पास आग लग गई।" वहीं, शनिवार को, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने "बर्बर" आतंकवादी हमले की निंदा की और कहा कि वह भक्तों की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना कर रहे हैं। पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा कि, ‘काबुल में करता परवन गुरुद्वारे के खिलाफ कायरतापूर्ण आतंकवादी हमले से स्तब्ध हूं। मैं इस बर्बर हमले की निंदा करता हूं और भक्तों की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं।" वहीं, भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी गुरुद्वारे पर "कायराना हमले" की कड़ी निंदा की और कहा कि सरकार घटना के बाद की स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रही है।

भारत में शरण की गुहार

वहीं, अफगानिस्तान में सिखों पर लगातार हो रहे हमलों के बाद सिख समुदाय ने मोदी सरकार से शरण देने की गुहार लगाई थी। बीबीसी से बात करते हुए हमले में घायल सिख परिवार के एक सदस्य ने मोदी सरकार से गुहार लगाते हुए भारत बुलाने की मांग की थी। घायल के परिवार ने कहा कि, अफगानिस्तान में सिखो के सिर्फ 20 परिवार बचे हैं और उन्होंने मोदी सरकार से जल्द से जल्द अफगानिस्तान से बाहर निकालने की गुहार लगाई थी। उन्होंने कहा कि, अगर मोदी सरकार उन्हें वीजा देती है, तो वो फौरन भारत आ जाएंगे और अब रिपोर्ट है कि, मोदी सरकार ने सिखों के साथ साथ डर के साये में जीने वाले अफगान हिंदुओं को भी वीजा दे दिया गया है।

सेक्स वर्कर ने तकिए के नीचे रखी हुई थी धार्मिक किताब, आगबबूला कस्टमर ने किया ये हालसेक्स वर्कर ने तकिए के नीचे रखी हुई थी धार्मिक किताब, आगबबूला कस्टमर ने किया ये हाल

Comments
English summary
The Modi government of India has issued e-Visa for Sikhs and Hindus living in Afghanistan after the Kabul Gurdwara incident.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X