India
  • search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

पुतिन और शी जिनपिंग के खिलाफ एकजुट हो रहा NATO, कहा, चीन है चुनौती, रूस है खतरा

|
Google Oneindia News

मैड्रिड ,30 जून : उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन ( NATO) ने चीन को सुरक्षा की दृष्टिकोण से सबसे बड़ा खतरा बताया है। स्पेन की राजधानी मैड्रिड में नाटो शिखर सम्मेलन में सदस्य देश इस 'सबसे बड़ी चुनौती' से निपटने की रणनीति पर चर्चा की। बैठक के दौरन नाटो के महासचिव येंस स्टॉल्टेनबर्ग ने रूस को भी 'सुरक्षा के लिए सीधा खतरा' बताया है। इस बीच नाटो गठबंधन को बड़ा सैन्य हिस्सा प्रदान करने वाले अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि यह शिखर सम्मेलन एक अचूक संदेश भेजेगा कि नाटो मजबूत और एकजुट है।

photo

चीन और रूस के संबंध पश्चिमी देशों के हितों के खिलाफ
सैन्य संगठन ने बुधवार को कहा कि चीन ने नाटो को चुनौती दी है और उसके रूस के साथ घनिष्ठ संबंध पश्चिमी देशों के हितों के खिलाफ हैं। नाटो ने यह भी कहा कि सभी नाटो सहयोगी चीन द्वारा यूरो-अटलांटिक सुरक्षा के लिए 'व्यवस्थित चुनौतियों' का समाधान करने के लिए मिलकर काम करेंगे और साझा जागरूकता को बढ़ावा देते हुए लचीलापन और तैयारियों को बढ़ाएंगे, और चीन की "जबरदस्ती रणनीति" से रक्षा करेंगे।

photo

चुनौती दे रहा है चीन
नाटो ने आगे कहा कि चीन की महत्वकांक्षाएं और नीतियां हमारे हितों, सुरक्षा और मूल्यों को चुनौती देती हैं। चीन अपने ग्लोबल फुटप्रिंट और प्रोजेक्ट पावर को बढ़ाने के लिए राजनीतिक, आर्थिक और सैन्य उपकरणों की एक विस्तृत श्रृंखला को नियोजित करता है जबकि अपनी रणनीति, इरादों और सैन्य निर्माण को लेकर अपारदर्शी रहता है।

photo

चीन की चाल और NATO की एकता
नाटो ने आगे कहा कि बीजिंग प्रमुख तकनीकी और औद्योगिक क्षेत्रों, महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचों और रणनीतिक सामग्री आपूर्ति श्रृंखलाओं को नियंत्रित करना चाहता है। संगठन ने कहा, हम सुरक्षा के लिए चीन द्वारा पेश की गई प्रणालीगत चुनौतियों का समाधान करने के लिए जिम्मेदारी से काम करेंगे और सहयोगियों को रक्षा और सुरक्षा की गारंटी देने के लिए नाटो की स्थायी क्षमता सुनिश्चित करेंगे।

photo

बता दें कि,बहुप्रतीक्षित रणनीतिक अवधारणा, 2010 के बाद पहली, मैड्रिड में एक ऐतिहासिक नाटो शिखर सम्मेलन के दौरान जारी की गई थी जिसमें ऑस्ट्रेलिया, जापान, न्यूजीलैंड और कोरिया की भागीदारी देखी गई थी।

ये भी पढ़ें : नाटो में शामिल होने के लिए जो बाइडेन ने स्वीडन और फिनलैंड को दिया न्योताये भी पढ़ें : नाटो में शामिल होने के लिए जो बाइडेन ने स्वीडन और फिनलैंड को दिया न्योता

Comments
English summary
The North Atlantic Treaty Organisation (Nato) on Wednesday for the first time in its history recognised China’s “stated ambitions and coercive policies” as a threat to the alliance’s interests, security and values in a sign of the rapid shift in European geopolitical attitudes.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X