• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कट्टरपंथी मुल्ला के अवतार में इमरान खान ! ईशनिंदा कानून नहीं बनाने पर विदेशी सामानों के बहिष्कार की धमकी

|
Google Oneindia News

इस्लामाबाद, अप्रैल 28: पाकिस्तान कट्टरपंथियों का देश है और पाकिस्तानी नेता कट्टरपंथियों के आगे अकसर घुटने टेकते रहते हैं। लेकिन, इमरान खान खुद एक कट्टरपंथी हैं और उनके बयानों से जाहिर हो रहा है कि किसी मुल्ले से ज्यादा वो कट्टरपंथी हैं। पाकिस्तान में ईशनिंदा कानून की पूरी दुनिया में आलोचना होती है लेकिन पिछले हफ्ते कट्टरपंथियों के आगे घुटने टेकने वाले इमरान खान ने अब मुस्लिम देशों के नये मसीहा बनने की कोशिश करनी शुरू कर दी है। ये अलग बात है कि पाकिस्तान पूरी दुनिया से मिले भीख से खाना खा रहा है। पाकिस्तानी अखबार ट्रिब्यून के मुताबिक पाकिस्तान के पास सिर्फ 3 हफ्ते का गेहूं बचा है, लेकिन पाकिस्तान की कंगाली से बेफिक्र इमरान खान ने कहा है कि वो यूरोपीयन देशों में भी ईशनिंदा कानून बनवाने की कोशिश करेंगे। इतना ही नहीं, पाकिस्तान के इस कट्टरपंथी प्रधानमंत्री ने लोगों से अपील कर दी कि वो यूरोपीयन देशों से आए सामानों का बहिष्कार कर दें।

इमरान की कट्टरपंथी सोच!

इमरान की कट्टरपंथी सोच!

पाकिस्तान में महंगाई चरम पर है। चीनी की कीमत सवा सौ रुपये से ज्यादा है, लेकिन पाकिस्तान के ये प्रधानमंत्री अपने देश को और ज्यादा जहालत में धकेलता जा रहा है। पंजाब प्रांत के मुल्तान में एक सचिवालय का स्थापना करते हुए इमरान खान ने कहा कि उनका लक्ष्य पश्चिमी देशों में ईशनिंदा कानून बनवाने की है। इसके लिए विश्व के तमाम मुस्लिम देशों से बात करेंगे। इसके साथ ही इमरान खान ने अपने देश के लोगों से अपील कर डाली कि वो पश्चिमी देशों के सामानों की बहिष्कार कर दें ताकि पश्चिमी देशों पर प्रेशर आए। यानि इमरान खान ने पश्चिमी देशों को ब्लैकमेल करने की कोशिश की। लेकिन, मुल्ला इमरान ये भूल गये कि पश्चिमी देशों ने अगर एक घंटे के लिए भी पाकिस्तान का बहिष्कार कर दिया तो पाकिस्तान बर्बाद ही हो जाएगा। ये कट्टरपंथियों के देश पाकिस्तान की पुरानी आदत है, यहां पैसे कमाने वाला हर शख्स पश्चिमी देश जाकर रहना चाहता है लेकिन हर पाकिस्तानी पश्चिमी देशों की बुराई करता है। अब सोचिए पाकिस्तान के पास क्या है जो वो पश्चिमी देशों के सामान का बहिष्कार करेगा। पाकिस्तानियों के तन पर लिपटे कपड़े से लेकर हलक से नीचे उतरने वाला अन्न का एक एक दाना पश्चिमी देशों का है और पाकिस्तान ने किस पश्चिमी देश से कर्ज नहीं लिया है।

मुस्लिम देशों से साथ आने की अपील

मुस्लिम देशों से साथ आने की अपील

सऊदी अरब के प्रिंस सलमान ने इमरान खान को फ्लाइट से नीचे उतार दिया...ये है इमरान खान की मुस्लिम देशों में इज्जत, लेकिन पाकिस्तान का ये प्रधानमंत्री अब मुस्लिम देशों का नया मुल्ला बनने की कोशिश में है। सऊदी अरब और यूएई जैसे देश अब आधुनिकता को अपना रहे हैं। पिछले हफ्ते में सऊदी अरब ने नई शिक्षा नीति जारी करते हुए सऊदी अरब के कोर्स की किताबों में रामायण और महाभारत को शामिल किया है, लेकिन पाकिस्तान के इस मुल्ला प्रधानमंत्री ने कहा है कि वो दुनिया के मुस्लिम देशों को पश्चिमी देशों के खिलाफ साथ लाने की कोशिश करेंगे। इमरान खान भूल गये कि दुनिया के 90 फीसदी से ज्यादा मुस्लिम देश में पाकिस्तानियों के लिए इज्जत नहीं है तो भला वो पाकिस्तान की बात कब से मानने लगे। इसके साथ ही फ्रांस के मुद्दे पर भी पाकिस्तान को छोड़कर किसी भी मुस्लिम देश में प्रदर्शन नहीं हुआ, और पाकिस्तानियों ने खुद अपना ही घर फूंक डाला, ऐसे में इमरान खान कितना कामयाब हो पाएंगे ये भी देखने वाली बात होगी।

निशाने पर फ्रांस

निशाने पर फ्रांस

पाकिस्तान ने फ्रांस से 18 अरब रुपये का कर्जा ले रखा है, फिर भी पाकिस्तानी अहसानफरामोश होकर फ्रांस के खिलाफ बोलते हैं। पैसे लेते वक्त ये पाकिस्तानी फ्रांस के सामने घुटने के बल लेट गये थे लेकिन अब फ्रांस के सामने अकड़ दिखा रहे हैं। इमरान खान ने फ्रांस पर जमकर हमला बोला है। इमरान खान ने कहा कि पाकिस्तान की सरकार फ्रांस को लेकर कई मुस्लिम देशों से संपर्क में है। इमरान खान ने कहा कि पाकिस्तान के विदेशमंत्री ने चार मुस्लिम देशों के नेताओं से बात की है और वो ईशनिंदा के खिलाफ फ्रांस पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हैं। इमरान खान भूल गये कि अगर फ्रांस ने एक बार अपना पैसा मांग लिया तो इमरान खानी की पतलून उतर जाएगी और सीधे चीन के चरणों में नतमस्तक हो जाएंगे। और इमरान खान ये भी भूल गये कि पाकिस्तान को छोड़कर बाकी के मुस्लिम देश तरक्की करना चाहते हैं और उन्हें यूरोपीयन यूनियन की जरूरत है। हां, पाकिस्तान को व्यापार से मतलब नहीं है क्योंकि डॉन अखबार के मुताबिक पाकिस्तान में विदेश निवेश और गिर गया है। ऐसे में इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि इमरान खान कट्टरपंथियों को लुभाने में चक्कर में पाकिस्तान का बेड़ा गर्क कर देंगे।

पाकिस्तान में कोरोना वैक्सीन को लेकर जानलेवा अफवाह, लोगों ने कहा इस्लाम के खिलाफ है वैक्सीनपाकिस्तान में कोरोना वैक्सीन को लेकर जानलेवा अफवाह, लोगों ने कहा इस्लाम के खिलाफ है वैक्सीन

English summary
Imran Khan has warned Western countries to boycott goods if they do not make blasphemy laws.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X