• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ग्रीस पत्रकार का दावा- तुर्की राष्ट्रपति सीरिया से कश्मीर में भेजने जा रहे हैं आतंकी

|

एथेंस। पाकिस्तान लगातार कश्मीर में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने की कोशिश करता रहता है। उसके इस नापाक मंसूबों को कई इस्लामिक देश सहयोग करते हैं। इनमें से एक देश तुर्की है। तुर्की के राष्ट्रपति रेचप तैयप एर्दोगन कई अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर पाकिस्तान का समर्थन कर चुके हैं। एर्दोगन ने संयुक्त राष्ट्र फोरम से भी कई बार कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का समर्थन किया है। ग्रीस के एक फेमस जर्नालिस्ट ने तुर्की के राष्ट्रपति को लेकर एक बेहद ही चौंकाने वाला दावा किया है।

तुर्की के अधिकारियों ने कई आतंकी समूहों से बात भी की

तुर्की के अधिकारियों ने कई आतंकी समूहों से बात भी की

ग्रीस की समाचार वेबसाइट 'पेंटापोस्टाग्मा' पर प्रकाशित अपने लेख में एंड्रियास माउंटजौरौली ने लिखा है कि सीरियाई राष्ट्रीय आर्मी मिलिशिया के सुलेमान शाह ब्रिगेड्स के कमांडर मुहम्मद अबू इम्सा ने कुछ दिन पहले ही अपने साथी मिलिशिया सदस्यों से कहा है कि तुर्की यहां से अपनी कुछ इकाइयों में शामिल है। कश्मीर में तैनात करना चाहता है सुलेमान शाह ब्रिगेड को तुर्की का खुला समर्थन प्राप्त है, जिसका उत्तरी सीरिया के अफरीन जिले पर पूरा नियंत्रण है। एंड्रियास माउंटजौरौली ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि इसके लिए तुर्की के अधिकारियों ने कई आतंकी समूहों से बात भी की है।

कश्मीर जाने वाले आतंकवादियों को 2000 डॉलर की राशि भी दी जाएगी

कश्मीर जाने वाले आतंकवादियों को 2000 डॉलर की राशि भी दी जाएगी

सुलेमान शाह ब्रिगेड के कमांडर अबू इम्सा ने यह भी कहा कि तुर्की के अधिकारी इस बारे में अन्य सीरियाई सशस्त्र गिरोहों से बात कर रहे हैं। वे गिरोह के कमांडरों से उन लोगों का नाम पूछ रहे हैं जो कश्मीर जाना चाहते हैं। अबू इम्सा ने कहा कि तुर्की से कश्मीर जाने वाले आतंकवादियों को 2000 डॉलर की राशि भी दी जाएगी। कमांडर ने अपने गिरोह को बताया कि कश्मीर उतना ही पहाड़ी है जितना कि अरगोनिया का नर्गोनो करबाख।

तुर्की ने अर्मेनिया के साथ लड़ाई में अज़रबैजान का खुलकर समर्थन किया

तुर्की ने अर्मेनिया के साथ लड़ाई में अज़रबैजान का खुलकर समर्थन किया

रिपोर्ट में कहा गया है कि, तुर्की ने अर्मेनिया के साथ लड़ाई में अज़रबैजान का खुलकर समर्थन किया। इतना ही नहीं, तुर्की ने सीरिया में अपने सहयोगी आतंकवादी गुटों के लड़ाकों को भी करबाख में लड़ने के लिए तैनात किया था। खुद फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो ने इसकी पुष्टि की थी। 'किलिंग मशीन' कहे जाने वाले इन आतंकवादियों को मुस्लिम देश अजरबैजान के पक्ष में ईसाई देश आर्मीनिया से युद्ध के लिए काफी पैसा भी दिया गया था।

एर्दोगन मुस्लिम दुनिया के सबसे महान नेता बनने की कोशिश में

एर्दोगन मुस्लिम दुनिया के सबसे महान नेता बनने की कोशिश में

रिपोर्ट आगे लिखती है कि, तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगन मुस्लिम दुनिया के सबसे महान नेता बनने की कोशिश कर रहे हैं। राष्ट्रपति एर्दोगन इस्लामिक दुनिया पर सऊदी अरब के प्रभुत्व को चुनौती देने के लिए ऐसे कदम उठा रहे हैं। पत्रकार ने यहां तक लिखा है कि एर्दोगन यहां तक कि कश्मीर मुद्दे में भारत को धमकी भी दे रहे हैं। उन्होंने लिखा कि तुर्की लंबे समय से भूमध्य सागर क्षेत्र में ग्रीस, साइप्रस और मिस्र के खिलाफ आक्रामक तैयारियों में जुटा हुआ है।

कश्मीर मुद्दे पर पाक की सहायता के लिए आतंकी समूह भेजने की योजना

कश्मीर मुद्दे पर पाक की सहायता के लिए आतंकी समूह भेजने की योजना

ग्रीक पत्रकार ने दावा किया है कि तुर्की और पाकिस्तान आपस में रक्षा सहयोग बढ़ाकर दूसरे देशों की जमीन लूटना चाहते हैं। पाकिस्तान के लड़ाकू विमान हाल ही में भूमध्यसागरीय युद्धाभ्यास के दौरान तुर्की पहुंचे थे। राष्ट्रपति एर्दोगन पाकिस्तान की मदद से ग्रीस की जमीन पर कब्ज़ा करने की कोशिश करना चाहते हैं। यही कारण है कि उसने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान की सहायता के लिए आतंकवादी समूह भेजने की योजना बनाई है।

कोरोना वायरस वैक्सीन के लिए वॉलिंटियर बने ओबामा, बुश और क्लिंटन, TV पर लाइव लेंगे डोज

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Greece journalist claims Turkish President Erdogan send terrorists from Syria to Kashmir
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X