• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सिंगल डोज में ही कोरोना को मात दे रही जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन, फेज 3 ट्रायल शुरू

|

वाशिंगटन। दुनियाभर में इस समय कोरोना वायरस महामारी के खातमे के लिए वैक्सीन पर काम चल रहा है। इस बीच अमेरिकी दवा निर्माता कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन (johnson & johnson) की वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर आई है। जॉनसन एंड जॉनसन की प्रयोगात्नक कोविड-19 वैक्सीन सिंगल डोज में ही संक्रमण के खिलाफ प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने पर काम कर रही है। ये नतीजा वैक्सीन के प्रारंभिक से मध्य क्लिनिकल ट्रायल में सामने आया है। Ad26.COV2.S नामक इस वैक्सीन को दो अलग-अलग डोज में दिया गया था, जिसके बाद ये परिणाम मिले।

johnson & johnson covid-19 vaccine, johnson & johnson covid-19 vaccine trial, johnson & johnson covid 19 vaccine news in hindi, covid 19 vaccine news update, coronavirus vaccine india, Johnson & Johnson, Coronavirus, vaccine, COVID-19 vaccine, covid-19, कोरोना वैक्सीन लेटेस्ट न्यूज़, वैक्सीन, कोरोना वायरस, कोविड-19 कोरोना वैक्सीन ट्रायल, कोरोना वैक्सीन इन इंडिया, कोरोना वैक्सीन अपडेट, जॉनसन एंड जॉनसन कोरोना वैक्सीन, जॉनसन एंड जॉनसन कोरोना वैक्सीन ट्रायल, जॉनसन एंड जॉनसन कोरोना वैक्सीन रिजल्‍ट्स

मॉडर्ना (Moderna Inc) और फाइजर (Pfizer Inc) ने वैक्सीन को सिंगल और डबल डोज के साथ टेस्ट किया। हालांकि अभी ये साफ नहीं है कि वैक्सीन जिस तरह से युवाओं को लाभ दे रही है, उसी तरह से बुजुर्गों को भी लाभ देगी, जिन्हें वायरस का खतरा सबसे ज्यादा है। वैक्सीन का ट्रायल 1000 स्वस्थ युवाओं पर किया गया है, जिसे अमेरिकी सरकार ने भी समर्थन दिया। ये ट्रायल जुलाई के बाद शुरू हुआ था, जब वैक्सीन का बंदरों पर प्रयोग सफल साबित हुआ था।

    Coronavirus India Update: China का दावा, उसकी वैक्सीन को WHO से मिली हरी झंडी | वनइंडिया हिंदी

    अब वैक्सीन का ट्रायल सबसे अधिक 60 हजार लोगों पर होगा। तीसरे चरण के ट्रायल के लिए बुधवार को घोषणा की गई है। ताकि इसे बाद में मंजूरी मिल सके। कंपनी का कहना है कि तीसरे चरण के ट्रायल के नतीजे इस साल के अंत में या फिर अगले साल की शुरुआत तक आ सकते हैं। हालांकि वैक्सीन का अध्ययन खत्म होने के बाद ही इसकी सुरक्षा को लेकर विस्तृत जानकारी मिल पाएगी। लेकिन ऐसा कहा जा रहा है कि वैक्सीन के गंभीर प्रतिकूल प्रभाव का पता लगाने के लिए बड़ी संख्या में लोगों पर कई अध्ययन करने की जरूरत है।

    देश में कोरोना संक्रमण के कुल मामले 59 लाख से अधिक हुए, एक दिन में मिले 85 हजार से ज्यादा केस

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    good news johnson & johnson coronavirus vaccine produced strong immune in single dose
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X