जिस्‍म के ऑनलाइन बाजार में लगी इस खूबसूरत मॉडल की बोली, पूरी दुनिया को सुनाई आपबीती

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। ब्रिटेन की रहने वाली 20 साल की एक मॉडल ने किडनैप होने से लेकर सेक्‍स स्‍लेव बनाए जाने के लिए नीलाम होने तक की पूरी कहानी बयां किया है। उसने बताया कि किस तरह किडनैप करने के बाद उसके हाथ पैर बांधे गए और फिर बेहोशी की दवा पिलाकर बैग में बंद कर दिया गया। उसके कपड़े उतारे गए और तस्‍वीरें ली गईं ताकि जिस्‍म की मंडी में उसे ऊंचे दामों में बेचा जा सके। इटली की पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। मॉडल सुरक्षित है। तो आइए आपको इस मॉडल पर हुए जुल्‍म की पूरी कहानी विस्‍तार से बताते हैं।

फार्महाउस में 6 दिनों तक किडनैपर्स के चंगुल में रही मॉडल

फार्महाउस में 6 दिनों तक किडनैपर्स के चंगुल में रही मॉडल

मॉडल की पहचान क्लोइ अइलिन के रूप में हुई है। इटली पुलिस के मुताबिक किडनैपर ने मॉडल के एजेंट से उसे डार्क वेबसाइट पर बिकने से बचाने के लिए 3 लाख डॉलर की फिरौती मांगी थी। ब्रिटिश मॉडल 6 दिनों तक अपने पोलिश किडनैपर की गिरफ्त में रही। क्लोइ को इटली के दूरदराज में स्थित एक फॉर्महाउस में रखा गया था। जब किडनैपर को पता चला कि वह एक बच्चे की मां है, तब उसने उसे छोड़ दिया।

फोटो शूट के बहाने बुलाया गया था

फोटो शूट के बहाने बुलाया गया था

क्लोइ ने बताया कि उसे एक फोटोशूट के बहाने मिलान बुलाया गया था। क्लोइ के एजेंट ने 11 जुलाई के लिए मिलान में एक फोटोशूट बुक किया था। वहां एक खाली इमारत में मॉडल पर हमला हुआ। किडनैपर ने मॉडल को बताया था कि उसे अरब देशों में बेचा जाएगा।

बैग में किया बंद

बैग में किया बंद

‘काले दस्ताने पहना हुए एक आदमी मेरे पीछे से आया. उसने एक हाथ मेरे गले पर और एक मुंह पर रख दिया ताकि मैं शोर न मचा सकूं। साथ में मौजूद एक दूसरे आदमी ने मेरे सीधे हाथ में एक इंजेक्शन लगाया। इंजेक्शन लगते ही मैं बेहोश हो गई। इसके बाद मुझे नहीं पता कि मेरे साथ क्या हुआ।

बेहोशी में खींच ली नंगी तस्‍वीर

बेहोशी में खींच ली नंगी तस्‍वीर

जब होश आया तो खुद को कार के अंदर एक ट्रैवल बैग में बंद पाया। मेरे मुंह पर टेप लगा था और हाथ-पैर बंधे हुए थे। बैग में छोटी सी जगह थी, जो सांस लेने के लिए छोड़ी गई थी। मॉडल ने आगे बताया, ‘बाद में पता चला कि जब मैं बेहोश थी तो किडनैपर ने मेरी गंदी तस्वीरें ले लीं और फिर मुझे बेचने के लिए उन्हें वेबसाइट पर अपलोड कर दिया।'

जब पता चला बच्‍चे की मां है तो किडनैपर्स ने मांगी माफी

जब पता चला बच्‍चे की मां है तो किडनैपर्स ने मांगी माफी

बाद में क्लोइ ने उन्हें बताया कि वह एक बच्चे की मां है। इसके बाद किडनैपर्स ने कहा कि उनसे गलती हो गई। किडनैपर्स ने दावा किया कि यह उनके ग्रुप के नियमों के खिलाफ हो गया जिससे उसके सीनियर्स नाराज हैं। इसके बाद उन्होंने उसके हाथ-पैर खोल दिए और फॉर्महाउस के आसपास घूमने की छूट दे दी।

ये फोटो दिखाकर बेचने की हुई कोशिश

ये फोटो दिखाकर बेचने की हुई कोशिश

डेली मेल की रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि जो तस्वीरें वेबसाइट पर बेचने के लिए डाली गई। वो मॉडल की नहीं लगती, बल्कि ऐसा लगता है कि फेक तस्वीर के ज़रिये मॉडल को बेचा जा रहा था।

इंजीनियरिंग की छात्रा जो कैमरे पर न्यूड होकर कमाती है करोड़ों

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A British woman who says she was kidnapped in Milan and held captive for six days while a criminal gang tried to auction her online as a sex slave has spoken out.
Please Wait while comments are loading...