• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

'सिर्फ वही लोग बचेंगे, जिन्होंने वैक्सीन ली है, बाकी मारे जाएंगे, इस देश ने जारी की खतरनाक चेतावनी

|
Google Oneindia News

बर्लिन, नवंबर 23: जर्मनी की सरकार ने अपने देश के नागरिकों के लिए कोरोना वायरस के मामलों में फिर से बढ़ोतरी को देखते हुए अब तक की सबसे खतरनाक चेतावनी जारी की है। जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि, 'या तो वैक्सीन लेकर अपनी जान बचा लो, या फिर कुछ महीने में मरने के लिए तैयार हो जाओ'। जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट को लेकर खतरनाक चेतावनी जारी की है।

स्वास्थ्य मंत्री ने जारी की चेतावनी

स्वास्थ्य मंत्री ने जारी की चेतावनी

जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने सोमवार को देश के उन लोगों के लिए चेतावनी जारी की है, जो वैक्सीन नहीं ले रहे है। जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि, कुछ महीने में सिर्फ वही लोग बचेंगे, जिन्होंने कोविड-19 का टीका ले लिया है और कोविड-19 का टीका नहीं लेने वाले लोग मारे जाएंगे। जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री ने देश के सभी लोगों से कोविड-19 का टीका लेने का आग्रह किया है। जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि, ''शायद इस साल के अंत तक या सर्जी खत्म होने तक, जर्मनी में वही लोग बचेंगे, जिन्होंने कोविड-19 का टीका लगवा लिया है, या फिर जिन्हें कोविड-19 हो चुका है और वो ठीक हो चुके हैं...नहीं तो बाकी सभी मारे जाएंगे''।

बेहद खतरनाक डेल्टा वेरिएंट

बेहद खतरनाक डेल्टा वेरिएंट

जर्मनी की सरकार ने कोविड-19 के डेल्टा वेरिएंट को काफी ज्यादा खतरनाक बताया है और कहा है कि, इससे बचने का एकमात्र उपाय कोविड-19 का टीका लगाना है। उन्होंने सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि, जर्मनी की सरकार एक बार फिर से कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए लड़ाई लड़ रही है और हम एक बार फिर से कोविड-19 को लेकर अलार्म जारी कर रहे हैं, हम अस्पतालों का जायजा ले रहे हैं, अस्पतालों में व्यवस्था बहाली की तरफ ध्यान दे रहे हैं, क्योंकि ये वेरिएंट काफी ज्यादा खतरनाक है।

    Coronavirus India Update: भारत ने August में Vaccination का बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड | वनइंडिया हिंदी
    68 प्रतिशत आबादी को लगा वैक्सीन

    68 प्रतिशत आबादी को लगा वैक्सीन

    जर्मनी की सरकार ने अपने देश के नागरिकों के लिए मुफ्त में वैक्सीन की व्यवस्था की है और जर्मनी की आबादी भारत जैसे देशों के मुकाबले काफी ज्यादा कम है, फिर भी भी तक देश में सिर्फ 68 प्रतिशत लोगों ने ही कोविड-19 का टीका लिया है और जर्मनी के स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि, ''देश में महामारी को नियंत्रण में रखने के लिए ये प्रतिशत काफी कम है''। आपको बता दें कि, जर्मनी, यूरोपीय संघ का सबसे ज्यादा आबादी वाला देश है। और रॉबर्ट कोच इंस्टीट्यूट स्वास्थ्य एजेंसी के अनुसार, सोमवार को देश में 30,643 नये मामले सामने आने के बाद देश में अब तक 53 लाख लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण हो चुका है।

    एक लाख से ज्यादा लोगों की मौत

    एक लाख से ज्यादा लोगों की मौत

    जर्मनी में पिछले 24 घंटे में 62 लोगों की मौत कोरोना वायरस की वजह से हुई है और अब तक देश में एक लाख से ज्यादा लोगों की मौत कोरोना महामारी की वजह से हो चुकी है। वहीं, जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री ने स्थिति पर चिंता जताते हुए कहा कि, "हमारे अस्पतालों की स्थिति अब काफी खराब हो चुकी है''। आपको बता दें कि, जर्मनी ने पिछले हफ्ते कोविड-19 के खतरनाक चौथी लहर को रोकने के लिए सख्त कोरोनावायरस प्रतिबंधों की घोषणा की है। देश में सिनेमाघरों को फिर से बंद कर दिया गया है, जिम, इनडोर डाइनिंग समेत सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ लगाने पर प्रतिबंध जारी कर दिया गया है।

    सख्त गाइडलाइंस जारी

    सख्त गाइडलाइंस जारी

    जर्मनी की सरकार ने सरकारी और निजी क्षेत्र के कर्मचारियों को एक बार फिर से 'वर्क फ्रॉम होम' की तरफ वापस लौटने को कहा है, वहीं सख्त आदेश जारी करते हुए निजी क्षेत्र की कंपनियों से कहा गया है कि, जिन कर्मचारियों ने वैक्सीन की खुराक नहीं ली है, उन्हें काम करने की इजाजत नहीं दी जाए और नियमित तौर पर सभी कर्मचारियों का कोविड-19 टेस्ट करवाने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही देश में इस साल भी क्रिसमस कार्यक्रमों को रद्द कर दिया गया है और सभी बड़े आयोजनों पर प्रतिबंध लगा दिए गये हैं। वहीं, देश के वरिष्ठ नागरिकों से कहा गया है कि, वैक्सीन को कारगर बनाए रखने के लिए वो वैक्सीन का बूस्टर डोज भी 6 महीने पर लें।

    भारतीय बाजार से क्यों उखड़ गई स्पुतनिक वैक्सीन? जानिए रूसी वैक्सीन के साथ क्या गलत हुआभारतीय बाजार से क्यों उखड़ गई स्पुतनिक वैक्सीन? जानिए रूसी वैक्सीन के साथ क्या गलत हुआ

    Comments
    English summary
    The corona virus epidemic has once again increased rapidly in Germany, about which the Ministry of Health has issued a warning.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X