• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिका: व्हाइट हाउस तक पहुंची हिंसा की आग, राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा- जॉर्ज फ्लॉयड को मिलेगा न्याय

|

नई दिल्ली। अमेरिका में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद भड़की हिंसा शांत होने के नाम नहीं ले रही है। हिंसा की आग अब व्हाइट हाउस तक पहुंच गई है। हिंसा के कारण फिर से कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं व्हाइट हाउस की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। व्हाइट हाउस के पास प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े हैं।

 Fully committed to provide justice to George and his family, says Trump

वहीं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी प्रदर्शनकारियों से मॉब हिंसा को रोकने की अपील की। उन्होंने कहा कि वो जॉर्ड फ्लॉयड और उसके परिवार को न्याय दिलाने के लिए प्रतिबंधित है। वो उन्हें न्याय दिलाकर रहेंगे, लेकिन उन्होंने हिंसा के दौरान दुकानों में लूट-पाट कर रहे प्रदर्शनकारियों पर नाराजगी जाहिर की और कहा कि हिंसा और लूटपाट कर रहे लोगों ने जॉर्ज का अपमान किया है।

पुलिस हिरासत में मिनियापोलिस के अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद अमेरिका में हिंसा भड़की हुई है। राष्ट्रपति ट्रंप ने जॉर्ज फ्लॉयड की मौत को त्रासदी बताते हुए कहा कि ऐसा कभी नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस घटना ने देश को भय, क्रोध और शोक से भर दिया है। उन्होंने कहा कि मैं न्याय और शांति की मांग करने वाले हर अमेरिकी का दोस्त और सहयोगी बनकर आपके सामने खड़ा हूं, लेकिन लूट-पाट और मारपीट कर हिंसा को भड़काने वाले लोग जॉर्ज का अपमान कर रहे हैं। ट्रंप ने कहा कि शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों के अधिकार का वो समर्थन करते हैं, लेकिन अमेरिका की सड़कों पर जो कुछ भी देखने को मिला है उसका शांति और इंसाफ से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि लोगों को डराने, नौकरियों को खत्म करने, दुकानों-बाजारों को नुकसान पहुंचाने और इमारतों को जलाने वाले दंगाइयों, लूटेरों से जॉर्ज फ्लॉयड की यादों को अपमानित किया जा रहा है।

अमेरिका में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद भड़की हिंसा शांत होने के नाम नहीं ले रही है। हिंसा की आग अब व्हाइट हाउस तक पहुंच गई है। हिंसा के कारण फिर से कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं व्हाइट हाउस की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। व्हाइट हाउस के पास प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े हैं।इस, घटना के बाद भड़की हिंसा के कारण अमेरिका के 40 शहरों में कर्फ्यू जारी है। वहीं हिंसा से नाराज राष्ट्रपति ट्रंप ने सभी राज्यों के गवर्नरों को जमकर फटकार लगाई है। ट्रंप ने सभी राज्यों के गवर्नरों को संबोधित करते हुए हिंसा पर रोक न लगा पाने पर उन्हें जमकर फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि आप लोगों के रवैये पर दुनिया हंस रही है। आप यदि हिंसा नहीं रोक पाएंगे तो किसी काम के नहीं रह जाएंगे। उन्होनंे कहा कि हिंसा रोकने के लिए कठोर कदम उठाए जाए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Admn fully committed that for George&his family,justice will be served. But can't allow righteous cries&peaceful protesters to be drowned out by angry mob.Biggest victims of rioting are peace loving citizens in our poorest communities&as Pres I'll fight to keep them safe: US President
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more