• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Flashback 2020: UAE और इजरायल के बीच शांति समझौता बना चौंकाने वाली घटना

|

नई दिल्‍ली। अब बस कुछ ही दिन बचे हैं जब साल 2020 की विदाई हो जाएगी। 100 साल बाद आई महामारी ने इस साल का कभी न भूल सकने वाले साल में तब्‍दील कर दिया है। महामारी के बीच ही कई घटनाएं ऐसी थी जिन्‍होंने पूरी दुनिया को हैरान कर दिया। इन्‍हीं कुछ खास घटनाओं में से एक था इजरायल और यूनाइटेड अरब अमीरात (यूएई) के बीच हुआ शांति समझौता। इस समझौते में अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की अहम भूमिका रही। यहां तक कि उन्‍हें साल 2020 के नोबेल शांति पुरस्‍कार तक के लिए नॉमिनेट कर दिया गया था। दोनों ही घटनांए काफी एतिहासिक थीं। जानिए साल 2020 की इस चौंकाने वाली सबसे बड़ी घटना के बारे में।

israel-uae.jpg

इजरायल को मान्‍यता देने वाला तीसरा अरब

देश इजरायल और यूएई के बीच हुए इस शांति समझौते में अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की बड़ी भूमिका रही है। दोनों देशों के बीच हुए इस समझौते को मीडिल ईस्‍ट में शांति और स्थिरता के लिए काफी महत्‍वपूर्ण माना जा रहा है। इस समझौते के बाद दोनों देशों के बीच पूर्ण राजनयिक संबंध बहाल हो सकेंगे। साथ ही दोनों देश 72 साल पुरानी दुश्‍मनी को भुला कर आगे बढ़ सकेंगे। इजरायल के साथ सक्रिय राजन‍यिक संबंध स्‍थापित करने वाला यूएई पहला खाड़ी देश और तीसरा अरब देश है। इससे पहले इजिप्‍ट ने साल 1979 और जॉर्डन ने साल 1994 में इजरायल के साथ शांति समझौता किया था। यह बात भी गौर करने वाली है कि इजरायल और यूएई, दोनों ही अमेरिका के लिए काफी अहम हैं। 13 अगस्‍त 2020 को इजरायल और यूएई इस शांति समझौते पर रजामंद हुए थे।

वेस्‍ट बैंक पर अपना नियंत्रण छोड़ेगा इजरायल

15 सितंबर को समझौते पर साइन होते ही यूएई और इजरायल के बीच औपचारिक राजनयिक संबंध बहाल हो जाएंगे। समझौते के तहत इजरायल इस बात पर राजी हुआ है कि वह वेस्‍ट बैंक के हिस्‍सों पर कॉलोनी बनाने की अपनी योजना पर विराम लगा देगा। वेस्ट बैंक, इजरायल और जॉर्डन के बीच स्थित है। वेस्‍ट बैंक का एक अहम शहर है रामल्लाह जो फिलीस्‍तीन की राजधानी है। इजरायल ने सन् 1967 में छह दिनों तक चले अरब-इजरायल वॉर के बाद इस हिस्‍से को अपने नियंत्रण में ले लिया। इसके बाद यहां पर उसने अपनी बस्तियां बनाई थीं। अमेरिका, यूएई और इजरायल की तरफ से जारी एक साझा बयान में कहा गया था कि इस समझौते के तहत दोनों देशों के बीच डायरेक्‍ट फ्लाइट्स, सुरक्षा, एनर्जी, टूरिज्‍म और मेडिकल जैसे अहम बिंदुओं पर साइन होंगे। पिछले दिनों इजरायल और यूएई के बीच डायरेक्‍ट फ्लाइट की शुरुआत भी हो गई है।

वेस्‍ट बैंक पर नहीं थी इजरायल को मान्‍यता

दरअसल में साल 1971 से यूएई, वेस्‍ट बैंक पर पर इजरायल के नियंत्रण को मान्‍यता नहीं देता था। हाल के कुछ वर्षों में ईरान के साथ भी इजरायल की दुश्‍मनी बढ़ी है। इसके साथ ही लेबनान के आतंकी संगठन हेजबोल्‍ला के कारण खाड़ी के अरब देशों और इजरायल के बीच करीबी बढ़ी है। साथ ही मुस्लिम ब्रदरहुड और हमास के विरोध की भी वजह से इजरायल के साथ संबंध कुछ सामान्‍य हुए हैं। इजरायल और यूएई के बीच यह समझौता ऐसे समय में हुआ जब प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्‍याहू की गठबंधन सरकार को देश के अंदर भारी विरोध झेलना पड़ रहा है। माना जा रहा है कि यह समझौता पीएम की राजनीतिक मदद कर सकता है। हालांकि समझौते का विरोध भी हो रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Flashback 2020: UAE recognises Israel the biggest shocking event of the year.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X