• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

5 तोतों ने कटवाई चिड़ियाघर की नाक, पर्यटकों को देखते ही देने लगते थे गंदी-गंदी गालियां

|

नई दिल्ली। अक्सर आपने बोलने वाले तोते के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या आपने कभी ऐसे तोते देखे हैं जो गालियां देते हों। ब्रिटेन में एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एक चिड़ियाघर से पांच तोते इसलिए हटा लिए गए, क्योंकि वो तोते वहां आने वाले लोगों को गालियां दे रहे थे। एरिक, जेड, एल्सी, टायसन और बिली नाम के ग्रे कलर के ये पांच अफ्रीकी तोते हाल ही में ब्रिटेन के लिंकनशायर वन्यजीव पार्क में दर्शकों के देखने के लिए लाए गए थे। हालांकि पार्क के अधिकारियों को जैसे ही इन तोतों की हरकतों का पता चला, इन्हें तुरंत वहां से हटा लिया गया। (सभी तस्वीरें: लिंकनशायर वन्यजीव पार्क के फेसबुक पेज से साभार)

अधिकारियों तक पहुंची तोतों की शिकायत

अधिकारियों तक पहुंची तोतों की शिकायत

'लिंकनशायर लाइव' की खबर के मुताबिक, वन्यजीव पार्क के अधिकारी भी इन तोतों को देखकर हैरान हैं। एक हफ्ते पहले ही वन्यजीव पार्क के अधिकारियों ने पांच अलग-अलग लोगों से इन तोतों को लिया था और इसके बाद पांचों को एक साथ एक ही पिंजरे में रखने का फैसला लिया। हालांकि कुछ ही दिनों में अधिकारियों के पास इन तोतों की शिकायत पहुंच गई।

साथ रहने के दौरान आपस में सीखा गाली देना

साथ रहने के दौरान आपस में सीखा गाली देना

पार्क के कर्मचारियों के मुताबिक, पहले ये तोते आपस में ही एक दूसरे को गालियां दे रहे थे और इसके बाद वहां आने वाले दर्शकों को भी इन्होंने गालियां देनी शुरू कर दी। पार्क के अधिकारियों का कहना है कि उन्हें ऐसा लगता है कि एक साथ रहने के दौरान इन तोतों ने आपस में गालियां देना सीख लिया। पार्क के कर्मचारियों का भी कहना है कि समय के साथ-साथ इन तोतों की भाषा बदल जाएगी।

'25 सालों में पहली बार देखे ऐसे तोते'

'25 सालों में पहली बार देखे ऐसे तोते'

वन्यजीव पार्क के चीफ एग्जीक्यूटिव स्टीव निकोल्स ने इस मामले के बारे में जानकारी देते हुए बताया, 'हम लोग एकदम से हैरान हैं, वो सारे तोते गालियां दे रहे थे। हम यहां आने वाले बच्चों के बारे में थोड़ा चिंतित थे। पिछले 25 सालों में हमने यहां अक्सर देखा है कि कुछ तोते कभी-कभी भद्दी बातें बोल देते हैं और हम लोगों के लिए ये सामान्य बात है। अब अचानक हमें पता चला कि कुछ तोते दर्शकों को गालियां दे रहे हैं और ये वाकई अजीब है।'

'एक पिंजरे में केवल गाली देने वाले पक्षी साथ रहे'

'एक पिंजरे में केवल गाली देने वाले पक्षी साथ रहे'

स्टीव निकोल्स ने आगे बताया, 'लेकिन, सबसे बड़ा संयोग यह है कि हमने ये पांचों तोते एक ही हफ्ते में लिए और इन्हें एक पिंजरे में एक साथ रखा...इसका मतलब ये हुआ कि हमारे पार्क में एक पिंजरा ऐसा था, जिसमें केवल गाली देने वाले पक्षी एक साथ रहे। पार्क के कर्मचारियों ने इन तोतों को लोगों के देखने के लिए इसलिए रखा, ताकि ये अपनी बुरी आदतें छोड़े दें। लेकिन, इनकी गालियां सुनकर जब यहां आने वाले लोग हंसने लगे तो इन तोतों को बढ़ावा मिला और ये ज्यादा गालियां देने लगे।'

'ना सुधरे ये तोते तो फिर पता नहीं क्या करना होगा'

'ना सुधरे ये तोते तो फिर पता नहीं क्या करना होगा'

स्टीव निकोल्स ने बताया, 'जैसे-जैसे ये तोते गालियां देते थे, लोग इनपर हंसते थे और जितना ज्यादा लोग हंसते थे, ये उतनी ज्यादा गालियां देते थे। इसके बाद पार्क में आने वाले बच्चों का ध्यान रखते हुए हम लोगों ने इन तोतों को वहां से हटाने और अलग-अलग करने का फैसला लिया। मुझे उम्मीद है कि अलग-अलग होने के बाद ये तोते कुछ नए शब्द सीखेंगे, लेकिन अगर उन्होंने इस दौरान और ज्यादा बुरी भाषा सीख ली, तो फिर मुझे नहीं पता कि क्या करना होगा।'

ये भी पढ़ें- महिला के घर में घूम रहा था दो सिर वाला यह दुर्लभ सांप

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Five Parrots Removed From Lincolnshire Wildlife Park For Their Foul Language.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X