• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चीन: टीचर ने 3 घंटे तक बर्फ में जबरन कराया काम, अब काटनी पड़ सकती हैं उंगलियां

|

बीजिंग। आजकल छात्रों पर शिक्षकों के अत्याचार से जुड़ी खबरें आम हो गई हैं, लेकिन कई बार ऐसी घटनाओं से छात्रों का जीवन ही संकट में पड़ जाता है। ऐसा ही एक मामला अब उत्तर-पूर्वी चीन से सामने आया है। यहां कड़ी ठंड के बीच एक शिक्षक ने स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं को बर्फ साफ करने का काम दिया। करीब 3 घंटे तक छात्राओं को बर्फ में काम करना पड़ा। इन्हीं छात्राओं में 13 साल की लू यानयान भी शामिल थी।

-1 डिग्री तापमान के बीच काम किया

-1 डिग्री तापमान के बीच काम किया

डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, बर्फ के बीच काम करने का नतीजा ये हुआ कि उसकी उंगलियां बुरी तरह से सूज गईं और काली पड़ गईं। डॉक्टरों का कहना है कि हालात ज्यादा खराब हुए तो उसकी उंगलियां भी काटनी पड़ सकती हैं। घटना बीते हफ्ते की बताई जा रही है। लू ने अपने साथियों के साथ -1 डिग्री तापमान के बीच ये काम किया। उसने हाथों में दस्ताने भी नहीं पहने थे। कई बार बोलने के बावजूद भी शिक्षक ने कक्षा में आने की इजाजत नहीं दी और कहा कि जब तक बर्फ साफ नहीं हो जाती, तब तक कोई कक्षा में नहीं आएगा।

सातवीं में पढ़ती है लू

सातवीं में पढ़ती है लू

सातवीं में पढ़ने वाली लू अंकिंग स्थित ताइपिंगजुआंग टाउन मिडल स्कूल की छात्रा है। ये चीनी सीमा के पास हेइलोंगजियांग प्रांत का एक शहर है। बच्चों को हाथों में फावड़ा और झाड़ू पकड़ाए गए थे। लू का कहना है कि वो अपने हाथों को सुन्न महसूस कर रही थी लेकिन शिक्षक ने जबरन काम पूरा करने को कहा। जब बर्फ हटाने का काम पूरा हो गया तो सभी बच्चों को कक्षा में आने दिया गया, लेकिन तब तक लू अपनी उंगलियों को महसूस नहीं कर पा रही थी।

स्कूल ने मानी गलती

स्कूल ने मानी गलती

लू की मां का कहना है कि कई स्थानीय अस्पताल उनकी बेटी का इलाज करने से मना कर चुके हैं। इन डॉक्टरों का कहना है कि वो उस इलाज की जिम्मेदारी नहीं ले सकते जो संभव नहीं है। हालांकि अब लू डाकिंग स्थित एक अस्पताल में भर्ती है, जहां वह डॉक्टरों की निगरानी में है। यहां के डॉक्टरों का कहना है कि उंगलियों का सूजा हुआ हिस्सा जल्द ठीक हो जाएगा। लेकिन काले पड़ चुके हिस्से को ठीक होने में वक्त लगेगा और अगर यह ठीक नहीं हुआ तो इन्हें काटना पड़ सकता है। स्कूल ने भी जिम्मेदारी ली है कि लू की ये हालत बर्फ साफ करने के कारण हुई है। स्कूल के प्रिंसिपल का कहना है कि वह स्कूल की इंश्योरेंस कंपनी से बात कर रहे हैं और स्कूल लू की सेहत से जुड़ी जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार है।

जेएनयू में हमले की जिम्मेदारी लेने वाले पिंकी चौधरी के दावों की दिल्ली पुलिस करेगी जांच

English summary
fingers of school girl swell and turn black after she forced to sweep snow by her teacher in china.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X