• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

एफबीआई ट्रांसलेटर ने की आईएस चरमपंथी से शादी

By Bbc Hindi

इस्लामिक स्टेट
EPA
इस्लामिक स्टेट

अमरीकी खुफ़िया एजेंसी ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि सीरिया गई उसकी एक ट्रांसलेटर ने इस्लामिक स्टेट के एक चरमपंथी के साथ गुप्त रूप से शादी कर ली है. इस ट्रांसलेटर को इसी शख़्स की जांच का जिम्मा सौंपा गया था जो इस्लामिक स्टेट के लिए लड़ाकों की नियुक्ति करता था.

एफ़बीआई ने बीबीसी न्यूज़ से कहा है कि इस घटना के बाद, "अलग अलग क्षेत्रों में कई कदम उठाए हैं जिससे की सुरक्षा के लिहाज़ से संवेदनशीलता की पहचान हो सके और उन्हें कम किया जा सके."

अमरीकी न्यूज़ चैनल सीएनएन ने ये ख़बर दी है और उसका कहना है कि डैनियेला ग्रीन ने अपने अधिकारियों से 2014 में की गई सीरिया की यात्रा के बारे में झूठ बोला.

38 साल की डैनियेला जब भाग कर अमरीका वापस आई तो उसे दो साल तक जेल में रखा गया.

इस्लामिक स्टेट
Getty Images
इस्लामिक स्टेट

एक अमरीकी जज ने उसकी कहानी को गोपनीय रखने के लिए कहा था. हालांकि सोमवार को पहली बार ये कहानी बाहर आई जब संघीय अदालत के दस्तावेजों को खोला गया.

ग्रीन ने जिससे शादी की थी उसका नाम डेनिस कुस्पर्ट है और वो एक जर्मन रैपर था जो बाद में आईएस के लिए लोगों की भर्ती करने लगा.

फरवरी 2015 में अमरीकी सरकार ने उसे वैश्विक आतंकवादी घोषित किया. प्रचार के लिए बनाए गए एक वीडियो में उसे तुरंत मारे गए एक व्यक्ति का सिर हाथ में लिए देखा जा सकता है.

ग्रीन एफबीआई के डेट्रॉयट फील्ड ऑफिस में काम करती थीं. सीएनएन के मुताबिक जनवरी 2014 में उन्हें कुस्पर्ट की जांच करने का काम सौंपा गया.

छह महीने बाद जर्मन बोलने वाली ग्रीन ने सीरिया जा कर उससे शादी कर ली.

'वो पाकिस्तानी लड़की कभी सीरिया गई ही नहीं थी'

प्राचीन शहर अल-हतरा को इस्लामिक स्टेट से छुड़ाया गया

चेकोस्लोवाकिया में जन्मी ग्रीन ने अपने अधिकारियों को बताया कि वो अपने मां-बाप से मिलने जर्मनी जा रही है.

लेकिन जर्मनी जाने की बजाय वो तुर्की चली गईं जहां एक स्थानीय आईएस कार्यकर्ता की मदद से सीरियाई सीमा पर कर गईं.

उस वक्त ग्रीन एक अमरीकी अधिकारी के साथ शादी कर चुकी थीं.

सीरिया आऩे के कुछ ही दिन बाज जून 2014 में उन्होंने कथित रूप से कुस्पर्ट से शादी कर ली.

इस बीच कुस्पर्ट ने अपना स्टेज नाम डेसो डॉग छोड़ दिया था और खुद को अबू ताल्हा अल अल्मानी कहने लगा.

हालांकि ग्रीन को जल्दी ही अपने नए पति के बारे में दूसरी राय बनने लगी. सीएनएऩ के मुताबिक उन्होंने अमरीका में एक अज्ञात शख़्स को लिखा, "मैंने सचमुच इस वक्त चीजों को अस्तव्यस्त कर दिया है." अगले दिन उन्होंने लिखा, "मैं जा रही हूं और मैं वापस नहीं आ सकती."

तीन साल बाद आईएस की क़ैद से आज़ाद हुए 36 यज़ीदी

'भाई एनएसजी में, बहन इस्लामिक स्टेट में'

सीरिया आऩे के एक महीने बाद ही वो वहां से भाग निकलीं और अमरीका वापस चली गईं.

सीएनएन के मुताबिक ग्रीन ने कुस्पर्ट को बता दिया कि वो एफबीआई के निशाने पर है. हालांकि अभी ये साफ नहीं है कि ग्रीन आइएस के कब्ज़े वाले इलाक़े से भागने में कैसे कामयाब हुई.

ग्रीन ने दिसंबर 2014 में अंतरराष्ट्रीय चरमपंथ के बारे झूठ बोलने की गलती मान ली. अमरीका की संघीय जेल में दो साल की सज़ा काटने के बाद पिछले साल गर्मियों में उनकी रिहाई हुई.

अब वो किसी अज्ञात जगह पर एक होटल में बतौर होस्टेस काम करती हैं.

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
FBI Translator married ISIS extremist
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X