• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Fact Check: क्या बाथरूम पाइप से भी फैलता है कोरोना वायरस?

|

बेंगलुरु। चीन में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। अब तक इस जानलेवा वायरस से मरने वालों की संख्‍या 1,114 पहुंच चुकी है। दुनिया भर में 45 हजार से अधिक लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं। वहीं, जापानी क्रूज में कोरोना वायरस से संक्रमित 175 मरीजों पाए जाने से हडकंप मच चुका है।

corona

वहीं दूसरे क्रूज में 2 हजार से ज्यादा लोग फंसे हुए हैं, जिसकी मेडिकल जांच चल रही है। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (डब्‍लूएचओ) ने इस वायरस को नया नाम दिया है और अब संस्‍था की तरफ से इसे कोविड-19 के नाम से जाना जाता है। कोरोना वायरस की वजह से अब तक 44,742 लोग संक्रमित हैं जिसमें से 33,300 केसे अकेले हुबेई प्रांत से हैं। हुबेई का वुहान ही इस महामारी का केंद्र है।

कोरोना वायरस बाथरूम पाइप के जरिए भी फैलता है?

कोरोना वायरस बाथरूम पाइप के जरिए भी फैलता है?

तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमण फैलने के लिए अब यह भी खबर सामने आ रही है कि कोरोना बाथरुम के पाइप के जरिए भी फैलता हैं। दरअसल जापनी क्रूज में कोरोना वायरस के संक्रमण फैलने की सूचना के बाद हांगकांग में वैज्ञानिक इस बात का पता लगाने में जुट चुके हैं कि क्या कोरोना वायरस बाथरूम पाइप के जरिए भी फैलता है? जानिए इसकी सच्‍चाई

चमगादड़ या सांप से नहीं बल्कि इस जीव से फैला जानलेवा कोरोनावायरस, कहीं आप तो नहीं कर रहे अनजाने में इसका सेवन

इसलिए लोगों को खाली पड़ने अपॉर्टमेंट

इसलिए लोगों को खाली पड़ने अपॉर्टमेंट

गौरतलब है कि हांगकांग में कोरोना वायरस से फैले खौफ के कारण लोगों से उनके घर तक खाली करवा दिए गए हैं। इतना ही नहीं कई अपार्टमेंट को ब्लॉक कर दिया गया है। ऐसा इसीलिए किया गया है कि कहीं ये जानलेवा कोरोना वायरस पाइप लाइन के माध्‍यम से एक घर से दूसरे घर तक पहुंच न जाए। ऐसा डाक्‍टरों की सलाह पर किया गया है। हांगकांग के मेडिकल ऑफीसर का मानना है कि बिल्डिंग में अलग-अलग फ्लोर पर रहने वाले लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। ये लोग जिस अपार्टमेंट में रहते हैं वो गगनचुंबी इमारत है, जिसे हांग मीई हाउस के नाम से बुलाया जाता है।

कोरोना वायरस से बचने के लिए लें होम्योपैथ, आयुर्वेद की ये दवाएं, आयुष मंत्रालय ने जारी की है ये लिस्‍ट

इस घटना के बाद होने लगी ये चर्चा

इस घटना के बाद होने लगी ये चर्चा

बता दें ऐसा सच तब हुआ जब इस सोसाइटी में रहने वाली एक 62 वर्षीय महिला कोरोना वायरस की चपेट में आयी। इसी के एक सप्‍ताल बाद अन्‍य 75 वर्षीय वृद्ध महिला इससे संक्रेमित हो गयी। बता दें कोरोना वायरस वृद्धजनों और बच्‍चों को जल्‍द ही संक्रमित करता है क्योंकि दोनों ही आयु में शरीर की रोगों से लड़ने वाली प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। फिलहाल इन दो महिलाओं के बाद तीन नए मामले सामने आए। महिला के पति, बेटा और उसकी पत्नी भी कोरोना वायरस की चपेट में आ गए थे। इससे सोसाइटी में दहशत फैल गयी और लोग कहने लगे कि यह खतरनाक वायरस बाथरूम के पाइप के जरिए एक घर से दूसरे घर में फैल रहा है।

एक ही बिल्डिंग के फ्लैटों में फैला संक्रमण

एक ही बिल्डिंग के फ्लैटों में फैला संक्रमण

इसी खबर के बाद हांगकांग के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अधिकारियों ने सोसाइटी के उस फ्लोर को ही खाली करा दिया। बता दें जो महिला इस वायरस से संक्रमित थी वो इसी बिल्डिंग के 10वें माले पर रहती थी और उसके बाद जो व्यक्ति संक्रमित हुआ वो सातवें फ्लोर पर रह रहा था। इसलिए सभी से अपॉर्टमेंट खाली करवाया गया।

जुड़े हुए थे बाथरूम के पाइप

जुड़े हुए थे बाथरूम के पाइप

स्वास्थ्य अधिकारियों ने तीस फ्लोर की इस पूरी बिल्डिंग को ही खाली कर दिया। इस बिल्डिंग के टॉयलेट पाइप एक-दूसरे से जुड़े हुए थे। ऐसे में वैज्ञानिक इस बात का पता लगा रहे हैं कि किसी व्यक्ति के संपर्क में आने के अलावा क्या यह वायरस पाइप लाइन के जरिए भी एक घर से दूसरे घर में पहुंचकर लोगों को अपनी चपेट में ले सकता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Fact Check: Does corona virus spread through bathroom pipes?For this reason many people have been evacuated to flats in Hong Kong.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X