• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

यूरोपीय देशों में एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के इस्तेमाल को मंजूरी, चीन ने की थी बैन की मांग

|
Google Oneindia News

EU Authorizes AstraZeneca COVID-19 vaccine: ब्रसेल्स: कोरोना वायरस के कहर से यूरोपीय देशों को बचाने के लिए यूरोपीयन यूनियन ने एस्ट्राजेनेका वैक्सीन को इस्तेमाल की इजाजत दे दी है। हालांकि, एस्ट्राजेनेका कोविड वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर यूरोपीयन यूनियन ने कुछ शर्तें जरूर लगाईं हैं मगर EU का कहना है कि उसकी सर्वोच्च प्राथमिकता यूरोपीय लोगों को जल्द से जल्द वैक्सीन का डोज देकर उनकी जिंदगी बचानी है।

AstraZeneca

यूरोपीयन यूनियन के यूरोपीयन कमीशन ने एस्ट्राजेनेका वैक्सीन को मंजूरी देते हुए कहा कि वैक्सीन को CMA यानि कंडिशनल मार्केटिंग ऑथोराइजेशन के तहत वैक्सीनेसन की मंजूरी दी गई है। कमीशन ने अपने बयान में कहा है कि एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन 18 साल से ज्यादा उम्र वाले लोगों को लगाई जाएगी।

एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के मिले पॉजिटिव रिजल्ट

यूरोपीय संघ ने अपनी जांच के दौरान एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के पॉजिटिव रिजल्ट्स पाए हैं। जिसके बाद यूरोपीय यूनियन के वैज्ञानिकों ने एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल की इजाजत दे दी है। EU ने अपने बयान में कहा है कि लोगों की जिंदगी हमारे लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है लिहाजा हमने हर पैमाने पर वैक्सीन को परखा है। हमने लोगों की सेफ्टी का सबसे ज्यादा खयाल रखा है और फिर वैक्सीन को मंजूरी दी गई है।

यूरोपीय देशों में एस्ट्राजेनेका वैक्सीन को मंजूरी

यूरोपीय यूनियन की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डे लीन(URSULA VON DER LEYEN) ने अपने बयान में कहा है कि 'सबसे सुरक्षित वैक्सीन के इस्तेमाल की इजाजत देना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। इस वक्त हमने एस्ट्राजेनेका को वैक्सीन के 400 मिलियन डोज का ऑर्डर दिया है, जो बहुत जल्द यूरोप में लोगों के लिए उपलब्ध होगा। मैं उम्मीद करती हूं कि कंपनी यूरोप को तय सौदे के मुताबिक जल्द वैक्सीन उपलब्ध कराएगी ताकि जल्द से जल्द वैक्सीनेशन का प्रोसेस शुरू हो सके। हम यूरोपीय लोगों की जिंदगी बचाने के लिए हर संभव कदम उठाएंगे'

EU की कमिश्नर ऑफ हेल्थ एंड फूड सेफ्टी स्टेला किरियाकिड्स ने एस्ट्राजेनेका वैक्सीन को मंजूरी देते हुए कहा कि 'यूरोपीय चिकित्सा एजेंसी का लोगों को वैक्सीन उपलब्ध कराने के वादे की दिशा में उठाया गया एक और कदम है। यूरोप और हमारे अंतरराष्ट्रीय भागीदारों के लिए अधिक से अधिक टीकों को सुरक्षित करने के लिए आयोग हर वक्त अपना काम जारी रखे हुआ है। हम इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में कोई कोताही बरतना नहीं चाह रहे हैं'

अभी तक एस्ट्राजेनेका वैक्सीन को लेकर आई रिपोर्ट के मुताबिक, फिलहाल 18 से 55 साल तक उम्रवाले लोगों को वैक्सीन का टीका दिया गया है। जिसमें अभी तक कोई विपरीत असर नहीं देखा गया है। डॉक्टर लगातार ट्रायल पर नजर रखे हुए हैं। आपको बता दें कि चीन बार बार एस्ट्राजेनेका वैक्सीन पर सवाल उठा रहा था। यहां तक की चीन ने एस्ट्राजेनेका वैक्सीन पर प्रतिबंध लगाने तक की मांग कर दी थी।

Special Report: भारत से 10 गुना कम आबादी लेकिन ज्यादा मौतें, राष्ट्रपति की सनक ने मेक्सिको में लाखों को माराSpecial Report: भारत से 10 गुना कम आबादी लेकिन ज्यादा मौतें, राष्ट्रपति की सनक ने मेक्सिको में लाखों को मारा

English summary
To protect European countries from the havoc of Coronavirus, the European Union has allowed the use of the Astrazenka vaccine
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X