• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Disease X:क्या है जल्द दस्तक देने को तैयार कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी

|

नई दिल्ली- दुनिया भर में कई वैक्सीन आने की वजह से करीब एक साल बाद लोगों ने कोरोना महामारी को लेकर थोड़ी राहत की सांस लेनी शुरू ही की थी, लेकिन एक बड़े वैज्ञानिक ने एक और भी खतरनाक और घातक महामारी की आशंका जताकर हड़कंप मचा दिया है। इस रहस्यमयी बीमारी का नाम 'डिजीज एक्स' (Disease X) दिया गया है और इबोला का पता लगाने वाले वैज्ञानिक ने आशंका जताई है कि यह बीमारी जल्द ही कहर ढानी शुरू कर सकती है, जो कि कोविड-19 की तरह ही तेजी से फैलने वाली और इबोला वायरस जैसी घातक बीमारी हो सकती है।

कोरोना जैसी खतरनाक,इबोला जैसी घातक बीमारी की दस्तक

कोरोना जैसी खतरनाक,इबोला जैसी घातक बीमारी की दस्तक

करीब एक साल के बाद पूरे विश्व के लोगों में यह उम्मीद जगी थी कि आने वाले कुछ महीनों में जिंदगी एकबार फिर से पटरी पर लौट सकती है। जैसे-जैसे कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन की डोज पड़नी शुरू हुई है, एक आस जगी है कि इस जानलेवा महामारी का असर धीरे-धीरे कम हो सकता है। लेकिन, एक नई रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया को जल्द ही एक और जानलेवा वायरस का सामना करना पड़ सकता है, जिसे 'डिजीज एक्स' (Disease X) का नाम दिया गया है। इस गंभीर बीमारी के कोरोना वायरस (Coronavirus) की तरह ही तेजी से फैलने की आशंका है और इसकी वजह से इबोला वायरस (Ebola virus) की तरह ही काफी तादाद में लोगों की जान जा सकती है। इस बात की पुष्टि किसी और ने नहीं, बल्कि 1976 में खुद इबोला वायरस का पता लगाने वाले वैज्ञानिक जीन-जैक्‍स मुयेम्‍बे तामफूम ने की है।

कोरोना से भी खतरनाक वायरस फैलने की आशंका

कोरोना से भी खतरनाक वायरस फैलने की आशंका

वैज्ञानिक तामफूम के मुताबिक नई बीमारी को लेकर भविष्य के लिए मानवता को सावधान रहने की जरूरत है। उनके मुताबिक 'डिजीज एक्स' (Disease X) नाम काल्पनिक (hypothetical) है, लेकिन यह दुनिया में एक और महामारी की वजह बन सकती है। उन्होंने यह भी आशंका जाहिर की है कि अफ्रीका के ऊष्णकटिबंधीय वर्षावनों (tropical rainforests) से कई नए और खतरनाक वायरस पैदा हो रहे हैं। उनके मुताबिक कई बीमारियां जैसे कि येलो फीवर, इंफ्लूएंजा, रेबीज और यहां तक कि कोरोना वायरस जानवरों से इंसानों में पहुंचे हैं और महामारी के कारण बने हैं, इसलिए भविष्य में कोविड-19 से भी भयानक महामारियां फैल सकती हैं।

अफ्रीकी देश कांगो में पहली संदिग्ध मरीज मिली

अफ्रीकी देश कांगो में पहली संदिग्ध मरीज मिली

ब्रिटिश अखबार डेली मेल की एक खबर के मुताबिक अफ्रीकी देश रिपब्लिक ऑफ द कांगो (Republic of the Congo) की एक महिला मरीज में 'डिजीज एक्स' (Disease X) के पहले लक्षण दिखाई पड़े हैं। उस महिला को खून आने के साथ बुखार (hemorrhagic fever) आया था। मरीज की इबोला टेस्ट और दूसरी तमाम रिपोर्ट निगेटिव आई है, जिसके बाद डॉक्टरों में यह आशंका ज्यादा बढ़ गई है कि यह महिला रहस्यमयी वायरस 'डिजीज एक्स' (Disease X) की पहली शिकार हो सकती है, जो कोरोना से भी तेजी से फैल सकती है और इबोला से भी ज्यादा लोगों की जान ले सकती है। उस संदिग्ध महिला मरीज को फिलहाल प्लास्टिक की सुरक्षा कवर में रखा गया है और उससे दूर से ही बातचीत की जा रही है। जानलेवा बीमारी की आशंका से इलाज करने वाले डॉक्टरों में भी हड़कंप मचा हुआ है।

सोच से भी बाहर की बीमारी!

सोच से भी बाहर की बीमारी!

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 'डिजीज एक्स' (Disease X) के बारे में बताया है कि इसमें एक्स या X का मतलब है ख्याल से बाहर की चीज। जानकारी के अनुसार रूस के वैज्ञानिकों ने इस नई और रहस्यमयी बीमारी की पड़ताल शुरू कर दी है। उधर उस महिला का इलाज करने वाले डॉक्टर बोनकोले का कहना है कि 'सारे लोग डरे हुए हैं। इबोला को कोई नहीं जानता था, इसी तरह कोविड-19 का भी हमें पता नहीं था। इन नई बीमारियों से हमें डरना ही पड़ेगा।' (तस्वीरें-सांकेतिक)

इसे भी पढ़ें- Coronavirus: 12 साल से ज्यादा उम्र के बच्चों को दी जा सकेगी भारत बायोटेक की कोवैक्सीनइसे भी पढ़ें- Coronavirus: 12 साल से ज्यादा उम्र के बच्चों को दी जा सकेगी भारत बायोटेक की कोवैक्सीन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Disease X:What is a dangerous disease like corona ready to knock soon
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X