• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Coronavirus को लेकर बुरी खबर: इम्यूनिटी खत्म करने वाला खतरनाक म्यूटेन्ट मिला, WB में तेजी से विस्तार

|

नई दिल्ली, अप्रैल 21: कोरोना वायरस के दूसरे लहर में इस वक्त भारत फंसा हुआ है लेकिन सबसे बड़ी दिक्कत ये है कि पिछली बार के वायरस में और इस बार के वायरस में काफी अंतर आ चुका है और इसीलिए इस बार वायरस की चपेट में आने से ज्यादा से ज्यादा लोग बीमार हो रहे हैं और मर रहे हैं। भारत में पहले से ही कोरोना वायरस दो बार म्यूटेट कर चुका है जो बेहद खतरनाक तौर पर लोगों को बीमार कर रहा है लेकिन अब जीनोम एक्सपर्ट्स का कहना है कि
कोरोना वायरस तो दो बार म्यूटेट कर ही चुका है, इसके साथ ही कोरोना वायरस ग्रुप का नया वायरस भी आ गया है, जिसका नाम बी.1.618 रखा गया है। इस म्यूटेंट वायरस की सबसे खतरनाक बात ये है कि ये शरीर के इम्यून सिस्टम को काफी तेजी से खराब करता है। वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि ये म्यूटेंट वायरस महामारी को काफी तेजी से बढ़ा रहा है और वेस्ट बंगाल में काफी तेजी से फैल रहा है।

भारत के लिए खतरे की घंटी

भारत के लिए खतरे की घंटी

अभी आप भारत में देख रहे हैं कि कोरोना वायरस का सकेंड वेभ काफी तेजी से फैल रहा है। दरअसल, इसके पीछे कोरोना वायरस के इंडियन वेरिएंट का बड़ा हाथ है जो दो बार म्यूटेट कर चुका है। कई रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि इंडियन म्यूटेंट पर वैक्सीन का कम असर हो सकता है। हालांकि, वैक्सीन और इंडियन वेरिएंट पर अभी भी रिसर्च चल रहा है। भारतीय वेरिएंट अमेरिका, ब्रिटेन और इजरायल में भी मिल चुके हैं। वहीं, बंगाल स्थिति नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल जीनोमिक्स यानि एनआईबीएमजी के एक्सपर्ट्स ने न्यू इंडियन एक्सप्रेस को कहा है कि यह ई484के समेत आनुवंशिक वेरिएंट के एक अलग सेट की विशेषता है। यह एक ऐसा म्यूटेंट वायरस बन चुका है जो शरीर के इम्यून सिस्टम को बर्बाद तो करता ही है इसके साथ ही मोनोक्लोनल एंटीबॉडी से भी बच सकता है।

    Coronavirus India Update: इन Five States में One Lakh के पार एक्टिव केस | वनइंडिया हिंदी
    नये वेरिएंट पर ज्यादा जानकारी नहीं

    नये वेरिएंट पर ज्यादा जानकारी नहीं

    वेस्ट बंगाल में कोरोना वायरस का जो नया वेरिएंट मिला है, ये विश्व के कई और देशों में भी मिल चुका है और ये कोरोना वायरस के परिवार का ही एक हिस्सा है जो म्यूटेट कर चुका है यानि अपना स्वरूप बदल चुका है। अलग अलग देशों में मिले वायरस को लेकर रिसर्च की जा रही है लेकिन वेस्ट बंगाल में जो म्यूटेट वायरस मिला है इसको लेकर अभी तक सिर्फ इतना ही पता चल पाया है कि ये बेहद खतरनाक है और लोगों के बीच ये काफी तेजी से फैलेगा। जीनोम सिक्वेसिंग के द्वारा पता चला है कि कोरोना का B.1.618 वायरस और B.1.617 वायरस पश्चिम बंगाल में काफी तेजी से लोगों संक्रमित कर रहा है और ये म्यूटेट वायरस काफी ज्यादा जानलेवा है।

    कितना खतरनाक है नया म्यूटेंट

    कितना खतरनाक है नया म्यूटेंट

    न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस का नया म्यूटेंट वायरस कितना खतरनाक है, इस सवाल के जबाव में मेडिकल एक्सपर्ट्स का कहना है कि अभी तक इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई है। एक्सपर्ट्स ने कहा है कि अभी तक कोरोना वायरस परिवार के कई म्यूटेंट वायरस मिल चुके हैं जिनमें लोगों को काफी तेजी से संक्रमित करने की क्षमता है। इतना ही नहीं म्यूटेंट वायरस में लोगो को दोबारा संक्रमित करने की भी क्षमता है, हालांकि पश्चिम बंगाल में मिले इस म्यूटेट वायरस पर अभी ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई है इसपर ज्यादा जानकारी के लिए अभी और डाटा की जरूरत है। मेडिकल एक्सपर्ट्स का कहना है कि अभी देश में कोरोना वायरस का म्यूटेट वेरिएंट ही कहर बरपा रहा है। इसीलिए आप देख रहे होंगे कि पिछले साल के मुकाबले इस साल काफी तेजी से संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं।

    कोरोना का कहर जारी, बीते 24 घंटे में सामने आए 295041 नए केस, 2023 लोगों ने तोड़ा दमकोरोना का कहर जारी, बीते 24 घंटे में सामने आए 295041 नए केस, 2023 लोगों ने तोड़ा दम

    English summary
    The Indian variant of the corona virus is spreading very fast as well as genome sequencing has shown that the virus has mutated.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X