• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

वेटिकन सिटी जाएंगे क्लाइमेट चेंज पेरिस के अध्यक्ष आलोक शर्मा, जलवायु परिवर्तन पर चर्च के नेताओं से होगी बात

|

लंदन, मई 10: यूनाइटेड नेशंस क्लाइमेट चेंज कॉन्फ्रेंस को लेकर सीओपी-26 यानि कॉन्फ्रेंस ऑफ द पेरिस के अध्यक्ष आलोक शर्मा कल वेटिकन सिटी जाएंगे। जहां वो वेटिकन सिटी में मौजूद चर्चों के पादरियों से मुलाकात करेंगे। इस मुलाकात के दौरान आलोक शर्मा इस बात पर विचार करने की कोशिश करेंगे कि आस्था को भी क्लाइमेंट चेंज से कैसे जोड़ा जा सकता है।

COP26 president designate Alok Sharma

क्लाइमेट चेंज और चर्च की भूमिका

सीओपी-26 के अध्यक्ष आलोक शर्मा ने वेटिकन सिटी के दौरे से पहले कहा कि 'मैं वेटिकन सिटी के दौरे को लेकर काफी उत्साहित हूं। इस दौरान कैथोलिक चर्च के अधिकारियों से मुलाकात के दौरान ये समझने की कोशिश की जाएगी कि क्लाइमेट चेंज को लेकर चर्च क्या योगदान दे सकता है'। उन्होंने कहा कि 'मुझे कैथोलिक चर्च ने हमेशा उत्साहित किया है और दुनिया के टेम्परेचर को 1.5 डिग्री सेल्सियस तक कम करने के लिए पूरी दुनिया के सहयोग की जरूरत है। खासकर उन लोगों के सहयोग की काफी जरूरत है, जो समाज के ऊपर अपना प्रभुत्व रखते हैं।'

आस्था से होगा असर

सीओपी-26 के अध्यक्ष आलोक शर्मा ने कहा कि क्लाइमेट चेंज को लेकर जागरूकता बढ़ाने में धार्मिक ग्रुप्स काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने कहा कि 'दुनिया भर में जागरूकता और महत्वाकांक्षा बढ़ाने में धार्मिक समूहों की महत्वपूर्ण भूमिका है'। आपको बता दें कि यूनाइटेड नेशंस क्लाइमेट चेंज कॉन्फ्रेंस इस साल नवंबर में होने जा रही है और उससे पहले आलोक शर्मा पूरी दुनिया का दौरा कर रहे हैं ताकि इस कॉन्फ्रेंस को कामयाब बनाया जा सके। वेटिकन सिटी के दौरे के दौरान आलोक शर्मा चर्च के कई अधिकारियों से मुलाकात कर सकते हैं। कैथोलिक चर्च की ओर से जलवायु कार्यक्रम को प्रोत्साहित करने में केंद्रीय और पवित्र वेटिकन के नेता कार्डिनल पारोलिन से भी वो मुलाकात कर सकते हैं।

आपको बता दें कि यूनाइटेड नेशंस क्लाइमेट चेंज को लेकर विश्वव्यापी कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर रहा है। ये आयोजन इस साल फ्रांस की राजधानी पेरिस में 9 नवंबर से 19 नवंबर तक चलेगी, जिसमें विश्व के तमाम बड़े नेता जलवायु परिवर्तन पर बात करेंगे।

तेजी से पिघल रहे हैं हिमालय के ग्लेशियर, भारत पर आने वाले सबसे बड़े खतरे का बजा अलार्मतेजी से पिघल रहे हैं हिमालय के ग्लेशियर, भारत पर आने वाले सबसे बड़े खतरे का बजा अलार्म

English summary
COP26 President Alok Sharma will visit Vatican City tomorrow. Where he will talk to the church priests about the climate change conference.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X