पढ़ाई के दौरान पांच साल की बच्ची का यौन उत्पीड़न करता था 'धर्मगुरु', स्केच से हुआ भंडाफोड़

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

रियो। ब्राजील में एक चर्च के पादरी पर पांच साल की लड़की के यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है। इस बात का खुलासा तब हुआ जब बच्ची के परिजनों ने उसके बनाए कुछ स्केच देखे। स्केच में बच्ची ने पादरी की हरकतों को उकेरा था।

क्लास अटेंड करने से किया था इनकार

क्लास अटेंड करने से किया था इनकार

डेली मेल के मुताबिक, 54 वर्षीय पादरी की हरकतों का पता चलने पर बच्ची के पिता ने उसे बेनकाब किया। बच्ची के पिता को इस बात का पता तब चला था जब वह आरोपी पादरी जोएओ दा सिल्वा की क्लास अटेंड करने से मना किया था। इस वजह से वे चिंतित हुए और बच्ची से कारण जानने की कोशिश की।

पढ़ें: ससुर के साथ अंतरंग थी महिला, 8 साल के बेटे ने देखा तो कर डाली हत्या

मनोचिकित्सक ने जताई थी आशंका

मनोचिकित्सक ने जताई थी आशंका

बच्ची को परेशान देखकर वे उसे एक मनोचिकित्सक के पास ले गए। जिसने उसके यौन उत्पीड़न की आशंका जताई और बच्ची के कमरे में छानबीन करने की सलाह दी। बच्ची ने अपनी किताबों के बीच छह स्केच छुपा रखे थे, जिनमें उत्पीड़न को डीटेल में दिखाया गया था।

पढ़ें: चेंजिंग रूम में कैमरा लगाकर बनाया महिला के निजी पलों का वीडियो

बच्ची ने स्केच में उकेरा था पूरा घटनाक्रम

बच्ची ने स्केच में उकेरा था पूरा घटनाक्रम

एक स्केच में दिखता है कि खौफ से भरे चेहरे वाली बच्ची के आसपास एक शख्स घूम रहा है। जबकि दूसरे स्केच में दिखता है कि बेड पर पड़ी हुई बच्ची के साथ एक शख्स जबरदस्ती करने की कोशिश कर रहा है। स्केच में यह भी दिखाया कि बच्ची चीख रही है।

पढ़ें: मासूम लड़की के हाथ बांध कर पुलिस वाले ने की दरिंदगी, बहनों ने बनाया वीडियो

आरोपी ने कबूल कर लिया गुनाह

आरोपी ने कबूल कर लिया गुनाह

बच्ची के पिता ने पादरी को फोन करके इस बारे में सवाल पूछे तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। मामले की शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने आरोपी पादरी को कस्टडी में ले लिया है और जांच कर रही है। महिला एवं बाल अधिकार संगठन भी इस मामले में कड़ी कार्रवाई का दबाव बना रहे हैं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
church priest sexually abused five year old girl shows heart breaking sketches.
Please Wait while comments are loading...