• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

साउथ चाइना सी पर चीन ने दी अमेरिका को युद्ध की धमकी

|
Google Oneindia News

बीजिंग। चीन की आधिकारिक मीडिया ने अमेरिका को युद्ध की धमकी दी है। मीडिया ने कहा है कि अगर अमेरिका ने साउथ चाइना सी पर जाने से उसे रोका तो फिर बड़ा युद्ध छिड़ेगा। चीन की मीडिया की ओर से यह प्रतिक्रिया उस समय आई है जब अमेरिका के भावी विदेश सचिव रेक्‍स टिलरसन ने चीन को नए द्वीप पर रोकने या उस प्रतिबंधित करने की बात कही है।

south-china-sea-china-us-war-साउथ-चाइना-सी-अमेरिका-चीन-युद्ध.jpg

अमेरिका की सबसे कठोर प्रतिक्रिया

चीन के सरकारी अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स की ओर से लिखा गया है, 'क्‍या टिलरसन की शेखी सीनेट के लिए सिर्फ धोखा नहीं है। सीनेटर्स का समर्थन जुटाना और जानबूझकर चीन की ओर कठोर रुख दिखाना था, जिसके सहारे उनकी नियुक्ति की संभावनाओं को बढ़ाने का प्रयास किया गया।' टिलरसन को नए अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप ने स्‍टेट सेक्रेटरी के पद के लिए चुना है। टिलरसर ने साउथ चाइना सी पर चीन के कृत्रिम द्वीप निर्माण को बिल्‍कुल रूस की ओर से क्रीमिया पर नियंत्रण करने जैसा ही बताया है। नई अमेरिकी सरकार चीन को इस मुद्दे पर एक साफ संकेत भेजना चाहती है कि 'पहले द्वीप का निर्माण बंद किया जाए और दूसरा चीन को यहां पर प्रतिबंधित किया जाए।' ग्‍लोबल टाइम्‍स की ओर से लिखा गया है, 'यह अभी साफ नहीं है कि उन्होंने जो भी बातें कहीं हैं उनमें से उनके लिए कौन सी अहम है? लेकिन उनकी बातों पर ध्यान देना काफी जरूरी है क्योंकि अमेरिका की ओर से अभी तक यह सबसे कठोर प्रतिक्रिया है।'

टिलरसन को सीनेट की मंजूरी मिलना बाकी

चीन के एक और सरकारी अखबार चाइना डेली ने भी कुछ इसी तरह की प्रतिक्रिया दी है। इसमें लिखा है, 'यह सवाल अभी बना हुआ है कि क्या एक्सॉन मोबिल कॉर्प के पूर्व चेयरमैन और मुख्य कार्यकारी टिलरसन को विदेश सचिव के रूप में सीनेट की मंजूरी मिलेगी? अगर उनकी नियुक्ति होती है, तो यह देखने लायक होगा कि चीन के विरुद्ध उनके विचार किस हद तक अमेरिकी विदेशी नीतियों का रूप लेते हैंघ्‍ आखिरकार, अमेरिकी सीनेट के विदेश मामलों की समिति के सामने बीते बुधवार को नियुक्ति की सुनवाई के दौरान उन्‍होंने जो कुछ भी कहा वह उनका व्यक्तिगत झुकाव हैं।' वहीं चीन की मीडिया से अलग चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि चीन और अमेरिका के हित एक जैसे हैं और दोनों ही देश एक दूसरे का समर्थन कर सकते हैं।

English summary
Chinese media has warned of a 'large scale war' if US blocks its access to the artificial island in South China Sea.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X