• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

अब फोर्स प्रेगनेंसी की राह पर चीन, महिलाओं को पैदा करने होंगे कम से कम 3 बच्चे

शी जिनपिंग की सरकार जबरन बच्चे पैदा करने के लिए बाध्य करने पर विचार कर रही है।
Google Oneindia News

बीजिंग, 10 जूनः चीन की सरकार निगेटिव पॉपुलेशन ग्रोथ से परेशान है। निगेटिव पॉपुलेशन ग्रोथ को पटरी पर लाने के लिए इस कम्यूनिस्ट देश द्वारा अनेकों हथकंडे अपनाए हैं। प्रशासन की ओर से ज्यादा बच्चा पैदा करने के लिए तरह-तरह के प्रलोभन दिए जा रहे हैं, लेकिन जनता है कि सरकार की सुन ही नहीं रही। ऐसे में शी जिनपिंग की सरकार जबरन बच्चे पैदा करने के लिए बाध्य करने पर विचार कर रही है।

3 बच्चे पैदा करना जरूरी

3 बच्चे पैदा करना जरूरी

जैसा कि चीन नकारात्मक जनसंख्या परिदृश्य का सामना कर रहा है, ऐसे में इससे निपटने के लिए सरकार अपने नागरिकों को जल्दी शादी करने और प्रत्येक जोड़े को कम से कम तीन बच्चे पैदा करने के लिए मजबूर करना शुरू कर चुकी है। इसके साथ ही प्रशासन कई तरह के प्रतियोगिता भी आयोजित करा रहा है।

कम बच्चे पैदा करने से हुआ मोहभंग

कम बच्चे पैदा करने से हुआ मोहभंग

हांगकांग पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना के कारण घरों में बंद रहने को मजबूर होने, पर्याप्त भोजन की कमी, आय की कमी, बढ़ती कीमत, स्वास्थ्य समस्याओं आदि के कारण शादी करने या बच्चे पैदा करने से देश के लोगों का मोह भंग हुआ है। लोग अपने ही जीवन को आर्थिक रूप से नहीं संभाल पा रहे हैं ऐसे में बच्चों के भविष्य को सुरक्षित करने का रिस्क उठाने से चीनी नागरिक डर रहे हैं।

41 फीसदी की गिरावट

41 फीसदी की गिरावट

हांगकांग पोस्ट के मुताबिक ही चीनी सरकार को इस बात का अंदाजा है कि अधिक बच्चे पैदा करने के लिए लगातार बनाए जा रहे दबाव से नागरिक आंदोलित हैं। चीन के नेशनल ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स के मुताबिक 2013 से 2019 के बीच छह साल की अवधि में चीन में शादी की संख्या में 41 फीसदी की गिरावट आयी है। बीते साल चीन में मात्र 76 लाख जोड़ों ने शादी के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था। यह चीन में बीते 36 सालों का सबसे कम आंकड़ा है। इस कारण चीन की जन्म दर प्रति 1000 लोगों पर मात्र 7.5 रह गई है।

9 राज्यों में नकारात्मक जनसंख्या वृद्धि

9 राज्यों में नकारात्मक जनसंख्या वृद्धि

रिपोर्ट के मुताबिक चीन के 9 राज्यों में नकारात्मक जनसंख्या वृद्धि देखी गई है। यदि जन्मदर में यह गिरावट जारी रहती है तो आने वर्षों में चीन में श्रम शक्ति भी नाटकीय रूप से घट जाएगी क्योंकि देश में युवाओं की संख्या घट रही है। इसके साथ ही चीन में कम बच्चा पैदा होने की एक और वजह बताई जा रही है। चीनी महिलाओं के शैक्षिक और आर्थिक विकास के कारण उनकी शादी करने की प्रवृत्ति पुरुषों की तुलना में कम हो चुकी है। अधिकांश महिलाएं जल्दी परिवार शुरू करने की बजाए आगे पढ़ना और नौकरी करना चाहती हैं।

बच्चे पैदा नहीं करना चाहते लोग

बच्चे पैदा नहीं करना चाहते लोग

फिलहाल चीन की जनसंख्या लगभग एक अरब 41 करोड़ है। इस कम्यूनिस्ट देश में आबादी पर नियंत्रण रखने के लिए बेहद आक्रामक तरीके से प्रयास होता रहा है। चीन में लंबे समय तक एक बच्चे की नीति को सख्ती से लागू किया गया था। कई सालों बाद 2016 में नीति बदली और लोगों को दो बच्चे पैदा करने की छूट दी गई। हालांकि इसका कोई फायदा नहीं हुआ और अब जाकर यह छूट बढ़कर तीन बच्चों पर आ गयी है लेकिन लोग हैं कि अब बच्चे पैदा ही नहीं करना चाहते।

आजादी के बाद पाकिस्तान में थे 13 फीसदी हिन्दू, अब इतने रह गए शेषआजादी के बाद पाकिस्तान में थे 13 फीसदी हिन्दू, अब इतने रह गए शेष

Comments
English summary
China may turn to forced pregnancy to tackle negative population growth
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X