• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

China Floods: हेनान प्रांत में कुदरत का कहर, चीन बांध नहीं उड़ाता तो आती और बड़ी तबाही

|
Google Oneindia News

बीजिंग, 22 जुलाई: चीन के हेनान प्रांत में मूसलधार बारिश ने जितना कहर बरपाया है, उससे उबरने में लोगों को सालों लग सकते हैं। अबतक लाखों लोगों को रेस्क्यू कर के सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है। बाढ़ और बारिश से अकेले चीन के इस प्रांत में करीब 30 लाख लोग प्रभावित हुए हैं, जिनमें से कुल 3,76,000 लोगों को इमरजेंसी डिपार्टमेंट ने सुरक्षित जगहों तक शिफ्ट किया है। चीन में इसबार की बारिश को 1,000 साल में सबसे भयानक बारिश बताई जा रही है, जिसमें मौत का आंकड़ा 33 तक बताया जा रहा है और 8 लोगों के लापता होने की बात है। बारिश के बाद बाढ़ ने वहां ऐसी भयानक तबाही मचाई है कि एक डैम को ही उड़ाना पड़ गया, ताकि हेनान प्रांत की राजधानी झेंगझोऊ को बचाया जा सके।

झेंगझोऊ शहर में सबसे ज्यादा तबाही

झेंगझोऊ शहर में सबसे ज्यादा तबाही

चीन की सेना ने वहां के बहुत ही ज्यादा आबादी वाले प्रांत हेनान की सुरक्षा के लिए एक बांध को मंगलवार को धमाका करके उड़ा दिया था। इस बीच वहां बाढ़ और बारिश से होने वाली मौतों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। जब बारिश के बाद आई बाढ़ से झेंगझोऊ के निवासी सबवे सिस्टम से लेकर स्कूलों, अपार्टमेंट और दफ्तरों में फंसने लगे थे, तब पानी निकालने के लिए पीएलए को बांध उड़ाने का आदेश दिया गया। चीन की सरकारी न्यूज एजेंसी शिन्हुआ ने एक एडिटेड वीडियो जारी कर कहा है कि 'चीन के हेनान में मूसलाधार बारिश ने कहर बरपाया है, निवासियों और समुदायों ने मुश्किल समय से निपटने के लिए एक साथ काम किया है।'

हेनान को बचाने के लिए चीन ने बांध उड़ाया

हेनान को बचाने के लिए चीन ने बांध उड़ाया

रिपोर्ट के मुताबिक इस बारिश की वजह से वहां 2,15,200 हेक्टेयर से ज्यादा की फसल बर्बाद हुई है, जिसकी कीमत करीब 188.6 मिलियन अमेरिकी डॉलर है। अकेले झेंगझोऊ शहर की आबादी 1.26 करोड़ है। अगर चीन की पीएलए ने बांध को तोड़कर पानी को दूसरी ओर नहीं मोड़ा होता तो तबाही कल्पना से बाहर हो सकती थी। रिपोर्ट के मुताबिक 12 लोगों की मौत तो अकेले तब हो गई जब सबवे स्टेशन में बाढ़ का पानी घुस गया। इस दौरान कई लोगों को गहरी चोटें भी पहुंची हैं।

बाढ़ में बह रही थी ये महिला

एक तस्वीर तो इतनी भयावह है, जिसमें चंद पल की देरी से एक महिला सैलाब के साथ बह जाती। लेकिन समय रहते ही राहतकर्मियों ने उसे बचा लिया। सारी तस्वीर अपने आप में बाढ़ और बारिश की भयानकता बयां करने के लिए काफी हैं।

महिला और दो बच्चे मिट्टी में दब गए थे

महिला और दो बच्चे मिट्टी में दब गए थे

एक तस्वीर में एक महिला अपने दो छोटे-छोटे बच्चों के साथ बाढ़ और मिट्टी में बुरी तरह से धंसी हुई दिख रही है। बच्चों के हाथ में स्कूल बैग है, जिससे पता चलता है कि शायद मां अपने बच्चों को स्कूल से ला रही थी, लेकिन वे मिट्टी में बुरी तरह फंस गए। तभी एक व्यक्ति की नजर उनपर पड़ गई और उन्हें वहां से निकाल लिया।

इसे भी पढ़ें- 15000 साल से बर्फ में कैद हैं 33 खतरनाक वायरस, भारत के पड़ोसी देश में वैज्ञानिकों ने खोजाइसे भी पढ़ें- 15000 साल से बर्फ में कैद हैं 33 खतरनाक वायरस, भारत के पड़ोसी देश में वैज्ञानिकों ने खोजा

जिनपिंग ने हेनान में सेना को लगाया

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने बाढ़ राहत और बचाव में सेना की तैनाती का आदेश दिया था। शिन्हुआ के मुताबिक पीएलए ने बचाव के काम के लिए हेनान में अपने 5,700 जवानों, पुलिस और मिलिशिया को लगाया है। बुधवार को चीन की सरकार ने हेनान में डिजास्टर रिलीफ के लिए 15.42 मिलियन डॉलर का फंड देने की घोषणा की है। (पहली तस्वीर के अलावा बाकी तस्वीरें सौजन्य-शिन्हुआ के वीडियो ग्रैब से)

English summary
Huge destruction of nature in Henan province of China, if the dam had not been blown up, there would have been a terrible tragedy
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X