• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हांगकांग कारोबारियों को ब्रिटेन में नागरिकता, भड़के चीन ने इंग्लैंड से कहा- सबक सिखाएंगे

|

लंदन/बीजिंग: हांगकांग (Hong Kong) को कब्जाने की नीयत से वहां दमनचक्र चलाने वाले चीन (China) के खिलाफ जब दुनियाभर से आवाजें उठने लगीं तो वो भड़ककर दुनियाभर के देशों को सबक सिखाने की धमकी देने लगा है। चीन ने ताजा धमकी ब्रिटेन (Britain) को दी है, जब ब्रिटेन ने हांगकांग नागरिकों (Citizen) और उद्योगपतियों के लिए स्पेशल वीजा (Visa) के प्रावधान का एलान किया है। ब्रिटेन ने जैसे ही अपने घर का दरवाजा हांगकांग नागरिकों के लिए खोला, पिछले एक हफ्ते में हांगकांग के हजार से ज्यादा व्यापारी और उद्योगपति हांगकांग में अपना बिजनेस (Business) बंद कर ब्रिटेन जा चुके हैं, जिससे चीनी बर्बरता (Crackdown) और जुल्म की पोल खुल रही है। अब चीन ने ब्रिटेन को खुले शब्दों में धमकी देनी शुरू कर कर दी है।

xi jinping

हांगकांग पर प्रतिबंध लगाएगा चीन?

हांगकांग और ताइवान को निगलने के लिए चीन पूरी कोशिश कर रहा है। ताइवान में चीन अपने न्यूक्लियर एयरक्राफ्ट भेज रहा है तो हांगकांग के नागरिकों पर नकेल कसने के लिए उसने 'नेशनल सिक्योरिटी कानून' लागू कर दिया है। इस कानून के आने से हांगकांग के लोगों की आजादी छिन गई है। अब स्थिति ये है कि हजारों लोग इंग्लैंड जाने के लिए हांगकांग से पलायन कर रहे हैं। पलायन रोकने के लिए पहले चीन ने हांगकांग के लोगों का ब्रिटिश पासपोर्ट अवैध कर दिया है। जिसके बाद लोग हांगकांग की पासपोर्ट पर ब्रिटेन पलायन कर रहे हैं। जिसके बाद अब कहा जा रहा है कि चीन एक कदम और आगे बढ़ते हुए हांगकांग के लोगों के ब्रिटेन जाने पर ही प्रतिबंध लगा सकता है।

Hong Kong

ब्रिटिश नेशनल पासपोर्ट बनवाने की होड़

चीन ने पिछले साल जब पूरी दुनिया लॉकडाउन से गुजर रहा था, उस वक्त हांगकांग के ऊपर नेशनल सिक्योरिटी कानून थोप दिया। जिसके बाद हांगकांग से लाखों लोग ब्रिटेन जाने के लिए ब्रिटिश नेशनल ओवरसीज पासपोर्ट (BNO) पासपोर्ट बनवाने लगे। ब्रिटिश रिपोर्ट के मुताबिक, हांगकांग में रहने वाले 7.5 मीलियन की आबादी में करीब 70 प्रतिशत लोगों के पास BN(O) पासपोर्ट है और जब चीन ने हांगकांग पर नेशनल सिक्योरिटी कानून थोपा उसके बाद BN(O) पासपोर्ट बनाने वालों तादाद में 300 प्रतिशत का इजाफा हो गया। पिछले साल जुलाई से इस साल जनवरी तक करीब साढ़े सात लाख लोगों ने ब्रिटिश नेशनल ओवरसीज पासपोर्ट बनवाया है।

ब्रिटेन का अंदाजा है कि इस साल अंत तक करीब एक लाख 54 हजार हांगकांग के लोग ब्रिटेन आ सकते हैं। और अगले पांच सालों में करीब साढ़े 3 लाख हांगकांग के व्यापारी और अलग अलग लोग ब्रिटेन में स्थायी नागरिकता के लिए आ सकते हैं।

हांगकांग में चीन का जुल्म

हांगकांग चीन से पूरी आजादी चाहता है। लेकिन चीन ने हांगकांग में दमनचक्र चलाते हुए आजादी मांगने वाले हजारों लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, नेशनल सिक्योरिटी कानून लागू होने के बाद अब हांगकांग में स्वतंत्र चुनाव भी सपना बन गया। ह्यूमन राइट एक्टिविस्ट से लेकर आम नागरिकों के लिए खुली हवा में सांस लेना मुश्किल हो चुका है। ऐसे में ब्रिटेन ने चीन पर वादा तोड़ने का आरोप लगाते हुए हांगकांग के लोगों के लिए ब्रिटेन की स्थायी नागरिकता का दरवाजा खोल दिया है। जिसके बाद से ही चीन भड़का हुआ है और लगातार ब्रिटेन को देख लेने और सबक सिखाने की धमकी दे रहा है।

Special Report: समंदर में मंडरा रहा चीन से युद्ध का खतरा, अमेरिका ने उतारी पूरी फौज, सहयोगी देश भी पहुंचे

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Thousands of Hong Kong residents are moving to the UK following the announcement of a new visa scheme for UK Hong Kong residents and businessmen. Because of which China has threatened England with anger.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X