• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भगोड़े नीरव मोदी को भारत लाने के लिए CBI ने चला बड़ा दांव, UK की कोर्ट में चलाया उसके फर्जी डायरेक्टर्स का वीडियो

|

नई दिल्ली। भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी को लंदन से भारत प्रत्यर्पण की कोशिशें तेज हो गई हैं। लंदन की कोर्ट में नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को लेकर सुनवाई चल रही है। सीबीआई लगातार कोर्ट में नीरव मोदी के खिलाफ सबूत पेश कर रही है ताकि कोर्ट नीरव को भारत प्रत्यर्पित करने का फैसला दे। अपनी इसी कोशिश के तहत सीबीआई ने लंदन की कोर्ट में नीरव मोदी की फर्जी कंपनियों के फर्जी डायरेक्टर्स का एक वीडियो पेश किया है, जिसमे देखा जा सकता है कि ये डायरेक्टर कह रहे हैं कि नीरव मोदी ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी है।

संगीन आरोप

संगीन आरोप

सीबीआई ने जो वीडियो पेश किया है उसमे 6 भारतीयों को देखा जा सकता है, वह इसमे कहते हैं कि नीरव मोदी उन्हें जान से मारने, चोरी के मामले में फंसाने की धमकी देता है। सीबीआई ने यह वीडियो यूके की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया है। वीडियो में लोग आरोप लगाते है कि उन्हे मजबूर किया जा रहा है कि वह दुबई छोड़ दें, उन्हें काहिरा, मिस्र के काहिरा आने के लिए मजबूर किया जा रहा है। यही नहीं नीरव मोदी के भाई नेहाल मोदी ने उनसे फर्जी कागजों पर जबरन दस्तखत कराए। माना जा रहा है कि सीबीआई ने यह वीडियो इसलिए कोर्ट में चलाया ताकि वह कोर्ट को यह बता सके कि नीरव मोदी किस तरह से लोगों को धमकी दे रहा, जिससे कि नीरव मोदी को भारत प्रत्यर्पित करने की मुहिम को बल मिल सके।

13000 करोड़ के घोटाले का आरोप

13000 करोड़ के घोटाले का आरोप

मालूम हो कि सीबीआई और ईडी ने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में मुकदमा चलाने के लिए नीरव मोदी को भारत प्रत्यर्पित करने के लिए ब्रिटिश अधिकारियों से आग्रह किया था। 49 साल के नीरव मोदी को मार्च, 2019 में गिरफ्तारी के बाद से दक्षिण-पश्चिम लंदन के वैंड्सवर्थ जेल में रखा गया है। बता दें करीब 13,000 करोड़ रुपये के बैंक धोखाधड़ी मामले में वांछित और भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को लेकर पिछले कई दिनों से लंदन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में सुनवाई चल रही है। कोर्ट की ओर से केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) के आरोपों पर सुनवाई चल रही हैं।

कोर्ट में चल रही सुनवाई

कोर्ट में चल रही सुनवाई

सीबीआई की ओर से नीरव मोदी के प्रत्यर्पण का आग्रह आपराधिक आरोपों (धोखाधड़ी, आपराधिक साजिश, गवाहों को डराने और सबूतों को नष्ट करने) पर आधारित है। वहीं ED ने मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों में ब्रिटिश अधिकारियों से ऐसा अनुरोध किया है। भारतीय एजेंसियों ने आरोप लगाया कि नीरव मोदी के कहने पर उसके सहयोगियों के मोबाइल फोन नष्ट कर दिए गए थे। साथ ही ये भी आरोप है कि नीरव मोदी ने एक गवाह को धमकी दी थी कि अगर वो उसके खिलाफ गया तो उसकी हत्या कर दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें- भगोड़े नीरव मोदी को बचाना चाहती है कांग्रेस, उसके कार्यक्रम में शामिल हुए राहुल गांधी- रविशंकर प्रसाद

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CBI plays videos of Nirav Modi threatening his dummy directors in UK court.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X