• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कुलभूषण जाधव पर छिड़े विवाद पर बीबीसी की सफ़ाई

By Bbc Hindi
बीबीसी की सफाई
Getty Images
बीबीसी की सफाई

बीबीसी ने अपने टीवी इंटरव्यू कार्यक्रम हार्ड टॉक में कूलभूषण जाधव के नाम को 'हटाने' पर सफाई दी है.

उसका कहना है कि पाकिस्तान के वित्त मंत्री असद उमर के इंटरव्यू में जाधव के जिक्र को एडिट करना "कोई संसेरशिप नहीं" था.

बीबीसी ने ट्वीट कर कहा, "हार्ड टॉक में असद उमर के इंटरव्यू से कूलभूषण जाधव का नाम टीवी कार्यक्रम से हटाए जाने की तकनीकी व्याख्या है. रिकॉर्ड किया गया इंटरव्यू बहुत लंबा था और उसे प्रसारित करना मुश्किल था. हमें उसे एडिट करना पड़ा. इसे रेडियो और टीवी के लिए अलग-अलग तैयार किया गया था."

"उनका नाम टीवी कार्यक्रम से हटाया गया था. यह कोई सेंसरशिप नहीं है. कंफ़्यूजन की वजह से ऐसा हुआ. हम दोबारा नाम लगा कर कार्यक्रम को फिर से प्रसारित करेंगे."

https://twitter.com/BBCHARDtalk/status/1073255219239272450

कूलभूषण जाधव भारतीय हैं और पाकिस्तान में जासूसी के आरोप में उन्हें फांसी की सजा सुनाई गई है.

03 मार्च 2016 को पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी ने जाधव को अवैध तरीके से घुसने और जासूसी के आरोप में गिरफ़्तार किया था.

कुलभूषण जाधव
Getty Images
कुलभूषण जाधव

भारत और पाकिस्तान के बीच का यह मामला अब अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में है और इस साल मई में इंटरनेशल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस ने भारत की अपील पर जाधव की सजा पर रोक लगा दी थी.

हार्ड टॉक में पाकिस्तान के वित्त मंत्री असद उमर ने एक सवाल के जवाब में आरोप लगाया था कि बलूचिस्तान और पाकिस्तान के अन्य प्रांतों में सीमा पार से चरमपंथ को बढ़ावा दिया जा रहा है और कुलभूषण जाधव ने इसकी जानकारी दी है.

https://twitter.com/ShireenMazari1/status/1073121469566238720

पाकिस्तान में छिड़ी बहस

बीबीसी के कार्यक्रम हार्ड टॉक में जाधव के नाम एडिट किए जाने के बाद पाकिस्तान में इस पर बहस छिड़ गई थी और ट्विटर पर लोग इसे सेंसरशिप बता रहे थे.

बीते गुरुवार को मानवाधिकारी मामलों के मंत्री शिरीन मजारी मामले में बीबीसी की आलोचना की थी और पक्षपात करने का आरोप लगाया था.

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, "जिस तरह से बीबीसी ने सेंसरशिप लगाया है और कुलभूषण के बारे में असद के जिक्र को हटाया है, वो शर्मनाक है. यह बीबीसी का पक्षपात है."

उनके इस ट्वीट के बाद लोग हार्ड टॉक के होस्ट स्टीफ़न सकर से प्रतिक्रिया मांगने लगे और पूछने लगे कि क्या ये सेंसरशिप था.

https://twitter.com/mosharrafzaidi/status/1073218237201031170

स्तंभकार मुशर्रफ जैदी ने सवाल उठाया है कि क्या बीबीसी भारत के दबाव में ऐसा कर रहा है.

इसके बाद स्टीफ़न सकर ने बीबीसी के स्पष्टीकरण वाले ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लोगों को इसका जवाब दिया.

https://twitter.com/stephensackur/status/1073256193643216896

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BBC cleans up controversy over Kulbhushan Jadhav
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X