• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जम्‍मू कश्‍मीर में अब एक भी आतंकी हमला हुआ तो छिड़ जाएगा भारत-पाकिस्‍तान के बीच युद्ध-रिपोर्ट

|

म्‍यूनिख। जम्‍मू कश्‍मीर में अब अगर कोई भी आतंकी हमला हुआ तो भारत-पाकिस्‍तान के बीच तनाव कई हद तक बढ़ जाएगा और दोनों देश एक बार फिर जंग के मैदान में होंगे। जर्मनी के म्‍यूनिख में पिछले दिनों हुई सिक्‍योरिटी कॉन्‍फ्रेंस के बाद आई एनुअल रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इस बार भारत पहले की तुलना में कहीं ज्‍यादा मजबूत प्रतिक्रिया देने को तैयार है। इस रिपोर्ट को रविवार को जारी किया गया है। इस कॉन्‍फ्रेंस में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी शिरकत की थी।

    Kashmir में एक Terror Attack से India-Pakistan में छिड़ सकता है युद्ध: रिपोर्ट

    यह भी पढ़ें-पीएम इमरान खान ने ही बम-प्रूफ घर में आतंकी मसूद अजहर को दे रखी पनाह!

    पाकिस्‍तान के आतंकी संगठन बना रहे भारत को निशाना

    पाकिस्‍तान के आतंकी संगठन बना रहे भारत को निशाना

    रिपोर्ट में कश्‍मीर मुद्दे को इस वर्ष के 10 विवादों में शामिल किया गया है। इसमें कहा गया है कि कश्‍मीर पर जारी भारत और पाकिस्‍तान में जो तनाव है वह संकट को और बढ़ा सकता है। इसमें स्‍पष्‍ट तौर पर कहा गया है कि पाकिस्‍तान, आतंकवाद को अपनी राष्‍ट्रीय नीति के तौर पर प्रयोग करता है और पाक स्थित आतंकी संगठन भारत को निशाना बना रहे हैं। इसमें कहा गया है कि अफगानिस्‍तान से अमेरिकी सेनाएं जाने की तैयारी कर रही हैं और अब इस देश में आतंकियों को रोकने के लिए कोशिशें की जाएंगी। कश्‍मीर के अलावा अफगानिस्‍तान को भी 10 टॉप संघर्षों की लिस्‍ट में रखा गया है।

    किसी भी क्षण हो सकता है परमाणु युद्ध

    किसी भी क्षण हो सकता है परमाणु युद्ध

    रिपोर्ट के मुताबि‍क पिछले कुछ वर्षों से कश्‍मीर अंतरराष्‍ट्रीय रडार से बाहर था मगर पिछले वर्ष भारत-पाकिस्‍तान के बीच तनातनी ने इसे फिर से संघर्षों की लिस्‍ट में जगह दिला दी है। रिपोर्ट में लिखा है, 'नई दिल्‍ली के पास इस बात का कोई रोडमैप नहीं है कि आगे क्‍या होगा। सबसे बड़ा खतरा है कि अब कोई भी आतंकी हमला तनाव को कई गुना बढ़ा देगा। अगर कोई नया संकट आया तो फिर विदेश ताकतों को इस विवादित सीमा पर शांति सुनिश्चित करने के लिए पूरी ताकत झोंकनी होगी।' रिपोर्ट में कहा गया है कि नॉर्थ कोर‍िया, भारत-पाकिस्‍तान और ईरान के साथ जुड़े संघर्ष किसी भी समय परमाणु तनाव की तरफ बढ़ सकते हैं।

    पुलवामा हमले के बाद बढ़ा तनाव

    पुलवामा हमले के बाद बढ़ा तनाव

    14 फरवरी 2019 को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद इंटरनेशनल बॉर्डर पर तनाव बढ़ गया था। इसके बाद पांच अगस्‍त 2019 को जब भारत ने जम्‍मू कश्‍मीर से आर्टिकल 370 हटाया था तो भी सीमा पर दोनों देशों के बीच संकट के हालात बन गए थे। इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद 16 फरवरी को पाकिस्‍तान के बालाकोट में एयर स्‍ट्राइक की थी। इस एयरस्‍ट्राइक में खैबर पख्‍तूनख्‍वां के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्‍मद के अड्डों को निशाना बनाया गया था। हवाई हमले में 300 आतंकियों के मारे जाने की खबर आई थी।

    विंग कमांडर अभिनंदन ने ढेर किया एफ-16

    विंग कमांडर अभिनंदन ने ढेर किया एफ-16

    एयर स्‍ट्राइक के अगले दिन यानी 27 फरवरी को पाकिस्‍तान एयरफोर्स के 24 जेट्स जम्‍मू कश्‍मीर में दाखिल हो गए थे। जेएफ-17 और एफ-16 जेट्स के साथ पाकिस्‍तान की वायुसेना ने कश्‍मीर में सेना के अड्डों को निशाना बनाने की कोशिश की थी। जम्‍मू के राजौरी स्थित सुंदरबनी सेक्‍टर में डॉग फाइट के दौरान विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान ने पाक के एफ-16 जेट को ढेर कर दिया था। अभिनंदन मिग-21 उड़ा रहे थे और उनका जेट भी क्रैश हो गया था। इसके बाद वह पीओके में लैंड कर गए थे। तीन दिन तक पाक के कब्‍जे में रहने के बाद एक मार्च को अभिनंदन वापस देश लौटे थे।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Any terror attack in Kashmir will lead India Pakistan to military confrontation.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X