• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट की दूसरी महिला जज रूथ बदर गिंस्बर्ग का निधन, कैंसर से थीं पीड़ित

|

वाशिंगटन। अमेरिका में सुप्रीम कोर्ट की जज रूथ बदर गिंस्बर्ग का निधन हो गया है। वह अमेरिका के सुप्रीम कोर्ट की दूसरी महिला जज थीं और 87 वर्ष की थीं। उन्होंने महिलाओं के अधिकारों के लिए काफी काम किया है, जिसके लिए आज भी उनके काम की काफी सराहना होती है। गिंस्बर्ग के निधन का कारण कैंसर बताया जा रहा है, वह टास्टेटिक अग्नाशय कैंसर से पीड़ित थीं। गिंस्बर्ग को युवा महिलाएं काफी पसंद करती हैं और अपनी प्रेरणा मानती हैं। अदालत में उदारवादी विंग के नेता के तौर पर अपने आखिरी साल बिताने वाली गिंस्बर्ग को महिलाओं और अल्पसंख्यकों के अधिकारियों के लिए हमेशा याद किया जाएगा।

america, supreme court, ruth bader ginsburg, ruth bader ginsburg died, ruth bader ginsburg death, ruth bader ginsburg death reason, ruth bader ginsburg news, ruth bader ginsburg news update, ruth bader ginsburg died due to cancer, ruth bader ginsburg cancer, अमेरिका, सुप्रीम कोर्ट, रूथ बदर गिंस्बर्ग की मौत, रूथ बदर गिंस्बर्ग का निधन, रूथ बदर गिंस्बर्ग न्यूज

जानकारी के मुताबिक उन्हें साल 1999 में पहली बार कैंसर की शुरुआत का पता चला था, जिसके बाद समस्याएं लगातार बढ़ती चली गईं। अब उनके निधन की जानकारी अमेरिकी अदालत ने एक बयान जारी करके दी है, जिसमें कहा गया है कि गिंस्बर्ग का निधन 87 साल की उम्र में वाशिंगटन में उनके घर पर हुआ है। गिंस्बर्ग को सख्ती से नियमों का पालन करने के लिए जाना जाता है। ऐसा बताया जाता है कि 1970 के दशक में उन्होंने छह महत्वपूर्ण मामलों में महिला अधिकारों को लेकर तर्क दिए थे। इनमें से पांच में उन्हें जीत मिली थी।

गिंस्बर्ग की प्रसिद्धि का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि क्लिंटन ने ये तक कह दिया था कि रूथ बदर गिंस्बर्ग को अमेरिका के इतिहास की किताबों में अपनी जगह बनाने के लिए सुप्रीम कोर्ट की किसी सीट की भी जरूरत नहीं है। वो ऐसे काम पहले ही कर चुकी हैं। उनके फैसले ना केवल आज भी याद किए जाते हैं बल्कि महिलाओं के कल्याण के लिए बेहतर भी साबित हुए हैं। गिंस्बर्ग ने समय-समय पर नागरिक अधिकारों को लेकर भी अपनी आवाज बुलंद की है। उनके कार्यकाल के समय ही हत्यारों को 18 साल से कम उम्र के लोगों के लिए और बैद्धिक रूप से अक्षम लोगों के लिए असंवैधानिक घोषित किया गया था।

अब अमेरिका ने TikTok सहित इस चीनी ऐप को किया बैन, 20 सितंबर से नहीं कर सकेंगे डाउनलोड

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
american supreme court justice ruth bader ginsburg no more at the age of 87
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X