• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

इजरायल के बाद अमेरिकियों को भी मास्क से मुक्ति! कोरोना से जंग जीतने की दहलीज पर अमेरिका

|
Google Oneindia News

वॉशिंगटन, अप्रैल 28: इस साल की शुरूआत तक अमेरिका की स्थिति कोरोना वायरस से काफी ज्यादा खराब थी। आज जो भारत की स्थिति है, वही स्थिति अमेरिका की आज से सिर्फ 4 महीने पहले तक थी, लेकिन अब अमेरिका कोरोना वायरस से जंग जीतने की दहलीज पर पहुंच चुका है। अमेरिका के नये राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अब अमेरिकियों से कह दिया है कि जो लोगो कोराना वायरस वैक्सीन की डोज ले चुके हैं, वो बिना मास्क के भी घर से बाहर निकल सकते हैं। यानि, अमेरिका अब इस जानलेवा वायरस को हराने के कगार पर पहुंचता जा रहा है। अमेरिका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने भी कह दिया है कि टीकाकरण करवा चुके लोगों को बहुत बड़ी भीड़ छोड़कर अब सामान्य स्थिति में मास्क लगाने की जरूरत नहीं है।

अमेरिकियों का छूटा मास्क से पीछा

अमेरिकियों का छूटा मास्क से पीछा

कोरोना वायरस जब पहली बार अमेरिका में मिला था, वो वक्त था जनवरी 2020। और पिछले एक साल 4 महीने में करीब 5 लाख से ज्यादा अमेरिकी लोगों की जान इस जानलेवा वायरस ने ली है। अमेरिका की खतरनाक स्थिति बनने के पीछे सबसे बड़े जिम्मेदार पूर्व राष्ट्रपति को माना जाता है लेकिन नये प्रशासन ने कोरोना संक्रमण रोकने के लिए दिन रात एक कर दिया और अमेरिका में हालात बहुत हद तक सुधरने लगे हैं। बड़े स्तर पर वैक्सीनेशन के बाद अमेरिका में स्थिति सामान्य होने लगी है। अमेरिका की प्रमुख संस्था सीडीसी ने कहा है कि बहुत बड़ी भीड़ छोड़कर अब सामान्य स्थिति में लोगों को मास्क लगाने की जरूरत नहीं है। जिसके बाद अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने ट्वीट करते हुए कहा कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका ने असाधारण प्रगति की है, और यही वजह है की सीडीसी ने आज बड़ी घोषणा की है।

वैक्सीनेशन है जरूरी

वैक्सीनेशन है जरूरी

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने ट्वीट करते हुए कहा है कि 'यदि आप पूरी तरह से वैक्सीनेट हो चुके हैं तो आपको भीड़ भाड़ वाले स्थानों को छोड़कर अन्य जगहों पर मास्क लगाने की जरूरत नहीं है, वैक्सीन आपकी जिंदगी और आपके आसपास के लोगों की जिंदगी बचाने के लिए जरूरी है।' आपको बता दें कि अमेरिका में काफी तेजी से वैक्सीनेशन अभियान चलाया गया है। राष्ट्रपति बनने के बाद जो बाइडेन ने अमेरिका में वैक्सीनेशन की रफ्तार को तेजी से बढ़ाया है। अमेरिका में अगले 2 महीने में पूरी आबादी को वैक्सीनेट करने का लक्ष्य रखा गया है। खासकर 19 साल से ज्यादा उम्र वाले लोगों को जल्द से जल्द वैक्सीन देने की कोशिश की जा रही है। अमेरिका में ऐसी व्यवस्था की जा रही है कि घर से सिर्फ 5 किलोमीटर के अंदर लोगों को वैक्सीनेशन की सुविधा मिल सके। आपको बता दें कि अमेरिका में फूली वैक्सीनेटेड उन्हीं लोगों को माना जाएगा, जिन्हें वैक्सीन का दूसरा डोज लगाए 2 हफ्ते का वक्त हो चुका है।

आराम महसूस कर रहे हैं लोग

आराम महसूस कर रहे हैं लोग

अमेरिका में वैक्सीनेशन करा चुके लोग अब रेस्टोरेंट में ग्रुप में बैठकर खाना खा सकते हैं, जहां मास्क लगाना अब जरूरी नहीं होगा। वहीं वैक्सीन लगा चुके लोगों को ग्रुप बनाने की भी इजाजत दे दी गई है। यानि, अमेरिका में अब वैक्सीनेशन करवा चुके लोग वो काम कर सकते हैं जो अब तक महामारी के दौर में नहीं कर पा रहे थे। सीडीसी ने कहा है कि वैक्सीन ले चुके लोग लो रिस्क जोन में हैं। आपको बता दें कि अमेरिका में 42 प्रतिशत से ज्यादा से लोग ऐसे हैं, जो वैक्सीन का एक डोज ले चुके हैं वहीं 30 प्रतिशत से ज्यादा ऐसे लोग हैं, जिन्होंने वैक्सीन का दोनों डोज ले लिया है। अमेरिका के सीडीसी ने कहा है कि जो लोग वैक्सीन ले चुके हैं, उन्हें खुद का ध्यान रखना होगा और ऐसे लोगों को परिवार या कम्यूनिटी का खतरा नहीं होगा। हालांकि, ऐसे लोग भी अगर बड़ी भीड़ में जाते हैं तो उन्हें मास्क लगाना जरूरी होगा।

पाकिस्तान में कोरोना वैक्सीन को लेकर जानलेवा अफवाह, लोगों ने कहा इस्लाम के खिलाफ है वैक्सीनपाकिस्तान में कोरोना वैक्सीन को लेकर जानलेवा अफवाह, लोगों ने कहा इस्लाम के खिलाफ है वैक्सीन

English summary
After Israel, fully vaccinated people can go outside in America without mask.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X