• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अभिनेता अली जफर ने की इमरान खान के भाषण की तारीफ, लोगों ने सुनाई खरी-खोटी

|

नई दिल्ली। पुलवामा हमले के बाद मंगलवार को पाक पीएम इमरान खान की ओर से दिए बयान की अभिनेता और गायक अली जफर ने जमकर तारीफ की। पाकिस्तान के अली जफर ने ट्विटर पर इमरान खान की स्पीच का वीडियो शेयर करते हुए लिखा, वाह, क्या स्पीच है! इसे खुले दिल से सुना जाना चाहिए। उनके इस ट्वीट को लेकर भारत में सोशल मीडिया पर काफी गुस्सा देखने को मिल रहा है।

सोशल मीडिया पर नाराजगी

सोशल मीडिया पर नाराजगी

अली जफर के ट्वीट को लेकर भारत में सोशल मीडिया पर लोगों ने उन्हें काफी भला-बुरा कहा। कई यूजर्स ने याद दिलाया कि उन्हें लंबे समय तक बॉलीवुड में काम मिलता रहा है। अली जफर ने 2010 में तेरे बिन लादेन फिल्म से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। वह मेरे ब्रदर की दुल्हन, चश्मेबद्दूर, तेरे बिन लादेन, टोटल स्यापा, किल दिल और डियर जिंदगी जैसी कई फिल्मों में काम कर चुके हैं। साथ ही वो अपनी गायकी के लिए भी कापी मशहूर है और कई हिट गाने गा चुके हैं।

इमरान के बयान पर भारत का पलटवार, नया पाकिस्तान आतंकियों के साथ मंचा साझा करता है

 ये बोले हैं इमरान

ये बोले हैं इमरान

14 फरवरी को कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर मंगलवार को इमरान खान ने कहा, हम हिंदुस्तान में आवाजें सुन रहे हैं, पॉलिटिशन बोल रहे हैं कि पाकिस्तान को सबक सिखाना चाहिए। बदला लेना चाहिए। स्ट्राइक करनी चाहिए। अगर आप समझते हैं कि आप पाकिस्तान के ऊपर किसी किस्म का हमला करेंगे, पाकिस्तान पलटवार करने का सोचेगा नहीं, पाकिस्तान पलटवार करेगा।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा, भारत की मीडिया और नेता इस हमले के लिए उनके देश को कसूरवार ठहरा रहे हैं जो कि गलत है। खान ने कहा, बिना किसी सबूत के पाकिस्तान पर इल्जाम लगाया गया है। भारत ने कोई सबूत नहीं दिया है। यदि सबूत मिलता है, तो कार्रवाई की गारंटी देता हूं। ये नया पाकिस्तान है। हम दहशतगर्दी पर बात करने के लिए तैयार हैं। आतंक से पाकिस्तान को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है।

भारत ने दिया जवाब

भारत ने दिया जवाब

पाक पीएम के बयान पर भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि, पाकिस्तान के पीएम ने इस मामले की जांच करने की पेशकश की है, अगर भारत सबूत देता है तो। यह एक कमजोर बहाना है। 26/11 को मुंबई में हुए भीषण हमले के सबूत भारत ने पकिस्तान को सबूत मुहैया कराए गए थे। इसके बावजूद, मामले में 10 साल बाद भी कोई प्रगति नहीं हुई है। मंत्रालय ने कहा कि, इसी तरह पठानकोट में हुए आतंकी हमले पर भी कोई प्रगति नहीं हुई है।

महबूबा मुफ्ती बोलीं- इमरान खान अभी नए, मिलना चाहिए एक और मौका

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Singer Ali Zafar applauded Pak PM Imran Khan speech after Pulwama attack
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X