India
  • search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

अमेरिका में धड़ाधड़ बंद होने लगे अबॉर्शन क्लीनिक, गूगल ने निकाला ये रास्ता

|
Google Oneindia News

वाशिंगटन, 25 जूनः अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट द्वारा महिलाओं को गर्भपात का संवैधानिक अधिकार देने वाले 50 साल पुराने रो बनाम वेड के फैसले को पलटने के बाद अमेरिका भर में गर्भपात क्लीनिक बंद होने लगे हैं। वहीं, सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मेटा और डिज्नी जैसी कंपनियों ने अपनी महिला कर्मचारियों की मदद करने की बात कही है। इस बीच गूगल इंक ने फैसले की प्रतिक्रिया में एक कदम उठाया है। गूगल के अधिकारी ने इस सबंध में सभी कर्मचारियों को मेल भेजा है। इसमें कहा गया है कि वे बिना किसी औचित्य के ट्रांसफर के लिए आवेदन दे सकते हैं।

गूगल ने दिया ऑफर

गूगल ने दिया ऑफर

गूगल ने अपने कर्मचारियों से कहा है कि वे 'बिना औचित्य के पुनर्वास' के लिए आवेदन कर सकते हैं। फर्म अपने कर्मचारियों और उनके आश्रितों का समर्थन करने के लिए सब कुछ करेगा। गूगल ने अपने ईमेल में कर्मचारियों से से कहा है कि कंपनी का स्वास्थ्य बीमा राज्य के बाहर की चिकित्सा प्रक्रियाओं को कवर करता है ऐसे में कर्मचारी बिना किसी परेशानी के ट्रांसफर के लिए आवेदन कर सकते हैं।

माइक्रोसॉफ्ट ने भी दी राहत

माइक्रोसॉफ्ट ने भी दी राहत

वहीं, माइक्रोसॉफ्ट ने कहा कि वह अपने कर्मचारियों और उनके आश्रितों को स्वास्थ्य सेवा तक पहुंचने में मदद करने के लिए कानून के तहत सब कुछ कर सकती है, चाहे वे अमेरिका में कहीं भी रहते हों। माइक्रोसॉफ्ट 'वैध चिकित्सा सेवाओं' के लिए यात्रा व्यय सहायता का भुगतान करना जारी रखेगा जहां देखभाल की पहुंच किसी कर्मचारी के गृह भौगोलिक क्षेत्र में उपलब्धता में सीमित है।

कई राज्यों में क्लीनिक हुए बंद

कई राज्यों में क्लीनिक हुए बंद

बतादें कि सुप्रीम कोर्ट का नया निर्णय गर्भपात को अवैध नहीं बनाता है, लेकिन यह राज्यों को अपने व्यक्तिगत जनादेश पर निर्णय लेने का अधिकार देता है। इस बीच कई राज्यों ने गर्भपात क्लिनिकों को बंद करवा दिया है। ऐसा दावा किया जा रहा है कि देश में लगभग आधे राज्यों में गर्भपात पर बैन लगने जा रहा है। फिलहाल 13 ऐसे राज्य हैं जहां 24 घंटे के भीतर गर्भपात क्लीनिकों के बंद होने की खबर आ रही है।

13 राज्यों में लागू

13 राज्यों में लागू

ट्रिगर कानून, जो तत्काल प्रतिबंध की अनुमति देते हैं, पहले से ही केंटकी, लुइसियाना, अर्कांसस, साउथ डकोटा, मिसौरी, ओक्लाहोमा और अलबामा में लागू किए गए हैं। इस बीच, मिसिसिपी और नॉर्थ डकोटा में प्रतिबंध उनके अटॉर्नी जनरलों द्वारा इसे मंजूरी देने के बाद लागू होंगे। जबकि व्योमिंग का प्रतिबंध 5 दिनों में प्रभावी हो जाएगा। वहीं, यूटा का प्रतिबंध एक विधान परिषद द्वारा प्रमाणित होना चाहिए। इडाहो, टेनेसी और टेक्सास में प्रतिबंध 30 दिनों में लागू होंगे।

फैसले के बाद क्लीनिक हुए बंद

फैसले के बाद क्लीनिक हुए बंद

अदालत की राय शुक्रवार दोपहर को जैसे ही ऑनलाइन पोस्ट की गई, अर्कांसस के लिटिल रॉक में एक गर्भपात क्लिनिक का दरवाजा बंद हो गया। कर्मचारियों ने महिलाओं को यह बताने के लिए कॉल किया कि उनके अपॉइंटमेंट रद्द कर दिए गए हैं।

हर साल 39 हजार मौतें

हर साल 39 हजार मौतें

अब अमेरिका में महिलाओं को कई राज्यों में गर्भपात कराने के लिए औसतन 125 मील की यात्रा करने की जरूरत होगी। WHO के मुताबिक हर साल 2.5 करोड़ असुरक्षित गर्भपात किए जाते हैं। हर साल इससे जटिलताओं के कारण लगभग 39,000 मौतें होती हैं।

दुनिया भर में तेल रिफाइनिंग पर संकट से रिलायंस को कैसे फायदा हो रहा है?दुनिया भर में तेल रिफाइनिंग पर संकट से रिलायंस को कैसे फायदा हो रहा है?

Comments
English summary
abortion clinic shut down in usa, Google offers 'relocation' to its employees
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X