• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चीन में ऑउट ऑफ कंट्रोल हुआ कोरोना वायरस, 18 राज्यों में 'आपातकाल' लागू, टेंशन में शी जिनपिंग

|
Google Oneindia News

बीजिंग, अगस्त 02: दुनिया में कोरोना वायरस को फैलाकर खुद का आर्थिक विकास करने में लगे चीन को पहली बार पता चल रहा होगा कि कोरोना वायरस से दुनिया के बाकी देश कितना परेशान हो रहे होंगे। दुनिया के अलग अलग देशों में कोरोना वायरस कंट्रोल नहीं करने के लिए तंज कसने वाले शी जिनपिंग खुद अब कोरोना वायरस को कैसे कंट्रोल करते हों, इसपर पूरी दुनिया की नजर है। क्योंकि, चीन की सरकारी मीडिया की माने तो कोरोना वायरस चीन के 18 राज्यों में पूरी तरह से बेकाबू हो चुका है, जबकि चीन पर नजर रखने वाले जानकारों की माने तो भारत या दुनिया के दूसरे मुल्कों की तरह ही चीन में कोरोना वायरस का डेल्टा वेरिएंट खतरनाक स्थिति में जा पहुंचा है।

    Coronavirus: China में फिर कहर बरपा रहा Covid 19, US में भी बिगड़े हालात | वनइंडिया हिंदी
    18 राज्य बुरी तरह प्रभावित

    18 राज्य बुरी तरह प्रभावित

    चीन की सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक चीन के 18 राज्यों में कोरोना वायरस बुरी तरह से फैल गया है, जिसकी वजह से सरकार ने 18 राज्यों में रेड अलर्ट जारी कर दिया है। आपको बता दें कि चीन में रेड अलर्ट जारी करने का मतलब एक तरह से आपातकाल ही होता है, हालांकि चीन उसे आपातकाल नहीं मानता है। ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 10 दिनों में चीन में 300 से ज्यादा कोरोना वायरस के घरेलू मामलों का पता चला है, जबकि डेल्टा वेरिएंट से संक्रमित मरीजों की संख्या अलग है। चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों ने अकेले शनिवार को आठ प्रांतों में 53 नये मामलों की पुष्टि की है। इसके अलावा पूर्वी चीन के जिआंगसु से 53, मध्य चीन के हेनान और हुनान से 12 नये मामले सामने आए हैं। वहीं, रविवार को भी कई मामले दर्ज किए गये हैं।

    बेकाबू हो चुका है वायरस

    बेकाबू हो चुका है वायरस

    चीन पर नजर रखने वाले विशेषज्ञों का मानना है कि चीन की तरफ से पेश किए गये आंकड़े पूरी तरह से गलत हैं, क्योंकि चीन के अस्पतालों के बाहर काफी लंबी लंबी लाइनें लगी हुई हैं। वहीं जांच सेंटर्स के बाहर भी हजारों लोगों की लाइन देखी जा रही है। स्वतंत्र रिपोर्ट्स में कहा गया है कि चीन में भारत जैसा ही कोरोना वायरस संक्रमण फैलने की आशंका है और अगर ऐसा है तो एक महीने के अंदर चीन की सरकार को मजबूरन पूरे देश में सख्त लॉकडाउन लगाना होगा। फिलहाल चीन के जिआंगसू प्रांत के निनजांग में सख्त लॉकडाउन लगाना पड़ा है। जबकि, चीन की सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 18 प्रांतों के कम से कम 27 शहरों में सिर्फ शनिवार को 300 से ज्यादा मामले सामने आए हैं और इन शहरों में राजधानी बीजिंग भी शामिल है।

    95 इलाके हाई रिस्क घोषित

    95 इलाके हाई रिस्क घोषित

    ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक चीन सरकार ने हाई रिस्क इलाकों की संख्या बढ़ाकर 95 कर दी है, जबकि मीडियम रिस्क जोन की संख्या 91 कर दी गई है। घरेलू संक्रमण की यह लहर नानजिंग के लुको अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से सफाईकर्मियों के संक्रमण के साथ शुरू हुई है। बाद में मध्य चीन के हुनान प्रांत के झांगजियाजी में प्रसिद्ध पर्यटन स्थल में भीड़ लगने के बाद 18 प्रांतों में कोरोना वायरस फैल चुका है। रिपोर्ट के मुताबिक आने वाले वक्त में चीन में वायरस का विस्फोट देखने को मिलेगा।

    डॉक्टरों ने जताई गहरी चिंता

    डॉक्टरों ने जताई गहरी चिंता

    चीन के शीर्ष श्वसन रोग विशेषज्ञ झोंग नानशान ने देश में कोरोना वायरस ऑउटब्रेक को खतरनाक कहा है और कहा है कि नया वेरिएंट डेल्टा है, जो काफी तेजी से लोगों को संक्रमित करता है और चूंकी डेल्टा वेरिएंट का मरीज काफी लेट से मिला है, लिहाजा डर इस बात की है कि कहीं ये वायरस देश के बड़े हिस्से में फैल ना चुका हो। डॉक्टर झोंग ने बताया कि एक बड़े शहर के रूप में नानजिंग महामारी की रोकथाम और नियंत्रण में अच्छा काम कर रहा है, लेकिन क्या झांगजियाजी में महामारी छोटे शहर में और फैल जाएगी या नहीं यह अभी भी अज्ञात है।

    लगाया गया बेहद सख्त लॉकडाउन

    लगाया गया बेहद सख्त लॉकडाउन

    ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक झांगजियाजी शहर के मीली जियांगशी ग्रैंड थिएटर में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, जिसमें 2 हजार दर्शक पहुंचे थे। और उन्हीं दर्शकों में से एक कोरोना वायरस से पीड़ित था। ये शो काफी देर तक चला है, लिहाजा कई दर्शक कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट के संपर्क में आए हैं और उन लोगों से चीन के कई हिस्सों तक कोरोना वायरस पहुंच चुका है। रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार को प्रशासन ने सख्त आदेश जारी करते हुए झांगजियाजी में लॉकडाउन लगाते हुए सार्वजनिक काम करने वाले तमाम लोगों से हर वक्त अपना फोन ऑन रखने के लिए कहा है, ताकि हर शख्स को ट्रैक किया जा सके कि वो काम से बाहर तो नहीं जा रहा है। रविवार दोपहर से सिर्फ सरकारी और आपातकालीन गाड़ियों को ही चलने की इजाजत है। इसके अलावा कोई भी शख्स घर से बाहर नहीं निकल सकता है।

    ब्रिटेन में 'चमत्कारी' दवा Dexamethasone को मंजूरी, कोरोना वायरस के खिलाफ डॉक्टरों ने बताया रामबाणब्रिटेन में 'चमत्कारी' दवा Dexamethasone को मंजूरी, कोरोना वायरस के खिलाफ डॉक्टरों ने बताया रामबाण

    English summary
    Alarm has been sounded in 18 provinces of China after corona virus spreading badly.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X