• search
इंदौर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

इंदौर को आउटफॉल मुक्त घोषित करवाएंगे, सीएम शिवराज सिंह चौहान के दौरे की तैयारियां

|

इंदौर। जिला प्रशासन और नगर निगम इंदौर शहर को आउटफॉल मुक्त घोषित करवाने की तैयारियों में जुटा है। इसके लिए सीएम​ शिवराज सिंह चौहान का इंदौर दौरा हो सकता है। इंदौर के अधिकारी चाहते हैं कि औपचारिक रूप से सीएम की मौजूदगी में सेवन स्टार रेटिंग व वाटर प्लस सर्वे के लिए तैयार होने का ऐलान किया जाएं। इस प्रस्तावित कार्यक्रम के लिए पंचकुइया घाट को चुना गया है। पिछले दिनों पीलियाखाल नाले की लगातार सफाई के बाद पंचकुइया में पुराने घाट मिले हैं। ये घाट लगभग 300 साल पुराने बताए जाते हैं।

Indore outfall free, preparations for CM Shivraj Singh Chauhans visit

इंदौर जिला कलेक्टर मनीष सिंह और नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल ने घाट का दौरा कर वहां सफाई कार्य और कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया था। कलेक्टर ने निर्देश दिए हैं कि घाट के किनारे पर ही सीएम का कार्यक्रम कराया जाए और नगर निगम सफाई पूरी कर वहां सुंदरीकरण का काम तेज करें। पिछले कई दिन से घाट क्षेत्र में दिन-रात नाले की सफाई हो रही है।

शिवराज सिंह चौहान का कटनी दौरा, CM ने दी करोड़ों के विकास कार्यों की सौगात, कटनी रिवरफ्रंट की भी घोषणा

देश का पहला शहर होगा इंदौर

वाटर प्लस सर्टिफिकेट के लिए नगर निगम द्वारा शहर के सभी नदी-नालों में मिलने वाले गंदे पानी के आउटफॉल बंद किए जा रहे हैं। हालांकि, अभी यह काम पूरा नहीं हुआ है, लेकिन वाटर प्लस और सेवन स्टार रेटिंग सर्वे कराने की तैयारी शुरू हो गई है। इंदौर देश का पहला शहर होगा, जो नदी-नालों में बहने वाले गंदे पानी को रोककर उसे लाइन के जरिए सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट ले जाएगा और वहां पानी को उपचारित कर छोड़ा जाएगा। इस बड़ी उपलब्धि को भुनाने के लिए ही मुख्यमंत्री को बुलाने की तैयारी हो रही है।

सात दिन में ये काम पूरे करने के निर्देश

- नगर निगम के अधीक्षण यंत्री डीआर लोधी ने बताया कि कलेक्टर ने सात दिन में घाट के आसपास की सफाई, लेवलिंग, पौधारोपण और सुंदरीकरण के कार्य पूरे करने के निर्देश दिए हैं।

- पीलियाखाल नाले में पंचकुइया क्षेत्र के आसपास तो गंदे पानी की आवक रुक गई है। अब वहां जमा गाद और कचरा साफ कराया जा रहा है।

- कलेक्टर ने पास के ऊंचे-नीचे मैदान की लेवलिंग के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा पास ही में 1.73 हेक्टेयर जमीन पर बना ईंट-भट्टे की दलदली जमीन को सुखाकर उसकी लेवलिंग के निर्देश भी दिए हैं। यह जमीन नगर निगम की है और भविष्य में अतिक्रमण रोकने के लिए निगम वहां फैंसिंग कराएगा।

- ईंट-भट्टे की जमीन पर नगर निगम बगीचा या सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाने की योजना तैयार कर रहा है।

- अधिकारियों ने घाटों की मरम्मत और सफाई कराने के निर्देश भी दिए हैं और ये काम भी लगातार किए जा रहे हैं।

- अधीक्षण यंत्री ने बताया कि घाट के आसपास कीचड़ की रोकथाम के लिए पेवर ब्लॉक लगाए जाएंगे। ये सभी काम सात दिन में पूरे करने को कहा गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indore outfall free, preparations for CM Shivraj Singh Chauhan's visit
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X