• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

चाबहार में दफ्तर खोलेगी भारतीय कंपनी

Google Oneindia News
चाबहार बंदरगाह

नई दिल्ली, 23 अगस्त। चाबहार के शहीद बेहिश्ती बंदरगाह को चलाने वाली कंपनी इंडिया पोर्ट्स एंड ग्लोबल (आईपीजीएल) कंपनी जल्द ही तेहरान और चाबहार में अपने दफ्तर खोलेगी. उम्मीद की जा रही है कि स्थानीय दफ्तर खोलने से बंदरगाह के जरिए व्यापार को प्रोत्साहित करने में मदद मिलेगी.

यह घोषणा तेहरान में केंद्रीय बंदरगाह, नौवहन और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल की ईरान के उप राष्ट्रपति मोहम्मद मोखबर से मुलाकात के बाद की गई. सोनोवाल ने मुलाकात के दौरान इस प्रांत में व्यापार को कई गुना बढ़ाने में चाबहार की केंद्रीय भूमिका को रेखांकित किया.

(पढ़ें: मोदी और जिनपिंग ने दिया मध्य-एशियाई देशों की अहमियत पर जोर)

भविष्य की ओर

मुलाकात के बाद जारी किए गए एक वक्तव्य में बताया गया कि सोनोवाल का मानना है कि मध्य एशिया और दक्षिण एशिया, बल्कि दक्षिण पूर्वी एशिया भी, के बीच व्यापार का एक तेज और किफायती जरिया बनने की चाबहार की क्षमता अभी भी अप्रयुक्त है.

वक्तव्य के मुताबिक मोखबर ने भी कहा कि चाबहार के विकास से व्यापार और जहाज में माल की लदाई की मात्रा में वृद्धि होगी. आईपीजीएल जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट और कांडला पोर्ट ट्रस्ट द्वारा मिल कर बनाई भारत सरकार की एक जॉइंट वेंचर कंपनी है, जो चाबहार के शहीद बेहिश्ती बंदरगाह को चलाती है.

(पढ़ें: अफगानिस्तान में भारतीय निवेश का क्या भविष्य है?)

भारत सरकार के मुताबिक आईपीजीएल अभी तक चाबहार के जरिए 48 लाख टन से भी ज्यादा माल का व्यापार कर चुकी है. 2020 में भारत ने चाबहार के जरिए ही 75,000 टन गेहूं अफगानिस्तान भेजा था.

भारत के सामरिक हित

सोनोवाल की यात्रा के दौरान, दोनों देशों ने समुद्र से यात्रा करने वालों की मदद के लिए असीमित यात्राओं के योग्यता प्रमाण पत्र की मान्यता पर एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर भी हस्ताक्षर किए. इसका उद्देश्य दोनों देशों के नाविकों की आवाजाही को सुगम बनाना है.

(पढ़ें: कैसे ग्वादर भारत की जगह बन गया पाकिस्तान का हिस्सा?)

चाबहार ईरान का एकलौता समुद्री बंदरगाह है और भारत इसे अपनी सामरिक हितों को पूरा करने की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण मानता है. इसके जरिए भारत पूरी तरह से पाकिस्तान को नजरअंदाज कर अफगानिस्तान और मध्य एशिया तक के देशों में अपना सामान भेज सकता है.

Source: DW

Comments
English summary
indian firm ipgl to open offices in tehran and chabahar
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X