• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

World Blood Donor Day:क्यों मनाया जाता है विश्व रक्तदान दिवस, ब्लड डोनेशन से जुड़ी 5 बातें हमेशा रखें याद

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 14 जून: दुनियाभर में आज विश्‍व रक्‍तदान दिवस मनाया जा रहा है। विश्व रक्त दाता दिवस हर सा 14 जून को मनाया जाता,है। विश्व रक्तदाता दिवस, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक पहल है। यह दिन हर साल रक्तदान के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने और स्वैच्छिक अवैतनिक रक्त दाताओं के योगदान से जीवन बचाने को पहचानने के लिए मनाया जाता है। आपका रक्‍तदान किसी के लिए जीवनदान हो सकता है, इसलिए इसे महादान' भी कहा जाता है। इसका उद्देश्य सेफ और सुरक्षित ब्लड डोनेशन को लेकर वैश्विक स्तर पर जागरूकता बढ़ाना है। यह दिन सरकारी और गैर-सरकारी संस्थाओं को ब्लड डोनेशन के लिए पर्याप्त संसाधन प्रदान करने और सिस्टम और बुनियादी ढांचे को स्थापित करने के लिए अवसर भी प्रदान करता है।

    World Blood Donor Day 2021: हर साल क्यों मनाया जाता है ये दिन?, जानिए इसका इतिहास | वनइंडिया हिंदी

    World Blood Donor Day

    रक्तदान का महत्व

    डब्ल्यूएचओ के अनुसार, सेफ ब्लड और ब्लड प्रोडक्ट और उनका देखभाल और सार्वजनिक स्वास्थ्य के महत्वपूर्ण पहलू हैं। वे लाखों लोगों की जान बचाते हैं और हर दिन कई रोगियों के स्वास्थ्य और जीवन की गुणवत्ता में सुधार करते हैं। रक्त की आवश्यकता सार्वभौमिक है, लेकिन रक्त उन सभी के लिए उपलब्ध नहीं है जिन्हें इसकी आवश्यकता है।

    विश्व रक्तदाता दिवस का इतिहास

    पहला विश्व रक्त दाता दिवस 2004 में डब्ल्यूएचओ द्वारा मनाया गया था और 2005 में 58वीं विश्व स्वास्थ्य सभा में इसे वार्षिक वैश्विक कार्यक्रम के रूप में घोषित किया गया था। यह दिन ऑस्ट्रियाई जीवविज्ञानी और चिकित्सक, कार्ल लैंडस्टीनर की जयंती पर मनाया जाता है। उन्हें आधुनिक रक्त आधान का संस्थापक माना जाता है। साल 2004 में स्थापित इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य सुरक्षित रक्त और रक्त उत्पादों की आवश्यकता के बारे में जागरूकता बढ़ाना है।

    क्या है विश्व रक्तदान दिवस 2021 का थीम

    2021 के लिए विश्व रक्तदाता दिवस का थीम है 'रक्त दो और दुनिया को हराते रहो'। यह संदेश जीवन बचाने और दूसरों के स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए है। यह दुनियाभर में अधिक से अधिक लोगों को नियमित रूप से रक्तदान करने और बेहतर स्वास्थ्य में योगदान करने के लिए वैश्विक आह्वान पर भी जोर देता है। इस वर्ष के अभियान का पूरा फोकस सुरक्षित रक्त आपूर्ति सुनिश्चित करने में युवाओं की भूमिका पर है। इस साल के विश्व रक्तदान दिवस की मेजबानी इटली कर रहा है।
    इटली अपने राष्ट्रीय रक्त केंद्र के माध्यम से विश्व रक्तदाता दिवस 2021 की मेजबानी करेगा। ग्लोबल इवेंट रोम में होगा।

    ब्लड डोनेशन से जुड़ी 5 बातें हमेशा रखें याद

    - ब्लड डोनेशन करने के फायदे: रक्तदान करने से आपके भावनात्मक और शारीरिक स्वास्थ्य को लाभ होता है। मेंटल हेल्थ फाउंडेशन की एक रिपोर्ट के अनुसार ब्लड डोनेट कर दूसरों की मदद करने से तनाव कम होता है।

    -ब्लड डोनेशन से जुड़े कुछ फैक्ट: डोनर के शरीर से सिर्प एक यूनिट ब्लड ही लिया जा सकता है, एक आम व्यक्ति के शरीर में 10 यूनिट(5 से 6 लीटर) ब्लड होता है,18 से 60 वर्ष की आयु तक कोई भी ब्लड डोनेट कर सकता है।

    -अगर आप किसी तरह के वायरस से पीड़ित हैं तो ब्लड रक्त दान न करें। जैसे एचआईवी (एड्स), टीबी, हेपेटाइटिस, सिफलिस से पीड़ित लोगों को ब्लड डोनेशन की मनाही होती है।

    - बता दें कि 'O नेगेटिव' ब्लड ग्रुप यूनिवर्सल डोनर होते है। ये किसी भी ब्लड ग्रुप के व्यक्ति खून दे सकते हैं। भारत में केवल 7 प्रतिशत लोगों का ब्लड ग्रुप 'O नेगेटिव' है।

    -रक्तदान करने वालों को कमजोरी का एहसास हो सकता है। इसलिए ब्लड डोनेशन के 3 घंटे तक कोई भारी काम न करें और पौष्टिक आहार लेना जरूरी है।

    English summary
    World Blood Donor Day 2021: history, significance theme 5 things You should know about Blood donation
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X