• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Womens Day 2020: 'जय हिंद', सैल्‍यूट के साथ शहीद पति को दी अंतिम विदाई, मिलिए बहादुरी की नई मिसाल नितिका कौल से

|

नई दिल्‍ली। पिछले वर्ष जम्‍मू कश्‍मीर के पुलवामा में शहीद हुए मेजर विभूति ढौंढियाल की पत्‍नी नितिका कौल ढौंढियाल युवाओं की नई आदर्श बनकर उभरी थीं। जिस तरह से उन्‍होंने अपने बहादुर पति को नम आंखों से 'जय हिंद' बोलकर अंतिम विदाई दी थी, वह पल आज तक लोगों के जेहन में जिंदा है। ठीक एक साल पहले मेजर विभूति शहीद हो गए थे और अब एक साल बाद उनकी पत्‍नी 28 साल की नितिका आर्मी ऑफिसर बनने को तैयार हैं। एचसीएल में जॉब कर रही निकिता शॉर्ट सर्विस कमीशन (एसएससी) की परीक्षा पास कर चुकी हैं। अब वह भी पति की तरह यूनिफॉर्म पहनने को रेडी हैं।

18 फरवरी 2019 को पुलवामा में शहीद मेजर

18 फरवरी 2019 को पुलवामा में शहीद मेजर

18 फरवरी 2019 को मेजर ढौंडियाल, जम्‍मू कश्‍मीर के पुलवामा में हुए एक एनकाउंटर में वीरगति को प्राप्‍त हुए थे। उनकी पहली बरसी पर जब यह खबर आई तो एक बार फिर नितिका कौल की याद लोगों को आ गई। नितिका ने सितंबर 2019 में एसएससी का फॉर्म भरा था। सेना के ऑफिसर्स ने उनका मार्गदर्शन किया था। नितिका की मानें तो यह उनके लिए इमोशनल पल था। नितिका अब मेरिट लिस्‍ट के आने का इंतजार कर रही हैं। इसके बाद बतौर कैडेट वह ट्रेनिंग लेंगी और एक साल की ट्रेनिंग पूरी होने के बाद वह सेना में ऑफिसर के तौर पर कमीशन हासिल करेंगी। वह फिलहाल दिल्‍ली में अपने माता-पिता के साथ रह रही हैं और उनका कहना है कि यूनिफॉर्म पहनना ही उनकी तरफ से पति को सच्‍ची श्रद्धांजलि होगी।

सेना में अफसर बनना बड़ा सपना

सेना में अफसर बनना बड़ा सपना

नितिका की मानें तो सेना में ऑफिसर बनना उनके लिए एक अहम पारी होगी। यह एक नई पारी है जो कॉरपोरेट कल्‍चर से पूरी तरह से अलग है। नितिका की मानें तो पति की मौत से बाहर आने में समय लगा था और काफी समय बाद उन्‍होंने एसएससी एग्‍जाम में बैठने का फैसला किया था। उनके लिए यह एक बड़ा फैसला था क्‍योंकि उन्‍होंने तय कर लिया था कि वह अपने पति की तरह ही आगे बढ़ना चाहती हैं। नितिका की मानें तो एग्‍जाम हॉल में दाखिल होना उनके लिए बेहद इमोशनल पल था। उनके दिमाग में कई ख्‍याल आ रहे थे। उन्‍हें महसूस हो रहा था कि उनके पति ने जब यह परीक्षा दी होगी तो कैसे दी होगी। ये ऐसे मौके थे जब नितिका को अपने पति के और करीब होने का अहसास हुआ।

शादी के 10 माह बाद शहीद मेजर

शादी के 10 माह बाद शहीद मेजर

पिछले वर्ष 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था। इसमें 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले के बाद ही पुलवामा के पिंगलान गांव में आतंकियों को ढेर करने के लिए सेना ने एक ऑपरेशन चलाया था। पिंगलान में हुए इस एनकाउंटर में चार सैनिक शहीद हुए। इसमें एक मेजर रैंक के ऑफिसर वीएस ढौंढियाल भी थे। मेजर ढौंढियाल और नितिका की शादी को 10 माह ही हुए थे और अप्रैल माह में दोनों की पहली मैरिज एनिवर्सिरी थी। नितिका कौल ने अपने पति को एक बहादुर सैनिक बताया। उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें इस बात का पूरा भरोसा है कि पति की शहादत और ज्‍यादा लोगों को सेनाओं में जाने के लिए प्रेरित करेगी। नितिका के पति मेजर ढौंढियाल ने पहली मैरिज एनीवर्सिरी के लिए प्‍लान भी बनाया था।

एक बहादुर शहीद की पत्‍नी नितिका

एक बहादुर शहीद की पत्‍नी नितिका

34 साल के मेजर ढौंढियाल सेना की 55 राष्‍ट्रीय राइफल्‍स के साथ अटैच्‍ड थे। वह घर में सबसे छोटे थे और अप्रैल में अपनी पहली एनीवर्सिरी के लिए छुट्टी पर घर आने वाले थे। उस समय नितिका एक वीडियो आया था और इस वीडियो को जिसने देखा, वह उन पर गर्व किए बिना नहीं रह सका। मेजर ढौंढियाल के शव के पास खड़ी नीतिका ने अपने पति को सैल्‍यूट किया। निकिता ने अपनी स्‍पीच में कहा, 'आपने मुझसे झूठ कहा था कि आप मुझसे प्‍यार करते हो। आप मुझसे नहीं बल्कि अपने देश से ज्‍यादा प्‍यार करते थे और मुझे इस बात पर गर्व है।' नितिका ने मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि वह कोई बेचारी नहीं हैं बल्कि एक बहादुर शहीद की पत्‍नी हैं और उन्‍हें अपने पति की शहादत पर गर्व है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Women's Day 2020: Epitome of braveray Nitika Kaul Dhoundiyal wife of Pulwama martyr Vibhuti.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X