• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत की इस IT कंपनी पर लगा नेताओं और उद्योगपतियों की जासूसी का आरोप, इस तरह अश्‍लील मैसेज भेजकर फंसाया जाता था

|

नई दिल्‍ली। भारत की एक आईटी कंपनी पर गंभीर आरोप लगा है। इस कंपनी का नाम है बेलट्रोक्‍स और उसपर देश के बड़े नेताओं, उद्योगपतियों और सरकारी अधिकारियों की जासूसी का आरोप लगा है। जासूसी का जाल सिर्फ भारत ही नहीं बल्‍कि यूरोप से लेकर अमेरिका तक फैला था। हैरान करने वाली बात ये है कि कंपनी लोगों को अश्‍लील मैसेज भेजती थी और ब्‍यूरोक्रेट्स को फंसाती थी। साफ शब्‍दों में कहें तो मामला कुछ-कुछ हनीट्रैप जैस था। अमेरिकी एजेंसियां फिलहाल इसकी जांच कर रही हैं। जिन अमेरिकी कंपनियों और लोगों पर इसने निशाना साधा है उसमें प्राइवेट इक्विटी की सबसे बड़ी कंपनी KKR और मडी वॉटर्स भी शामिल हैं।

दिल्‍ली में एक चाय की दुकान के उपर है BellTroX का ऑफिस

दिल्‍ली में एक चाय की दुकान के उपर है BellTroX का ऑफिस

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बेलट्रोक्‍स का ऑफिस पश्चिमी दिल्ली में एक चाय की दुकान के ऊपर है। कंपनी के मालिक का नाम सुमित गुप्‍ता है। हालांकि सुमित ने इस संबंध में कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है कि वो किसके लिए काम करते हैं। आपको बता दें कि साल 2015 में सुमित गुप्‍ता अमेरिका में एक हैकिंग के केस में पकड़े गए थे। उसके बाद साल 2017 में सुमित अमेरिका से फरार हो गए।

क्‍या कहना है मडी वॉटर्स के सीईओ का

क्‍या कहना है मडी वॉटर्स के सीईओ का

मडी वाटर्स के संस्थापक कार्सन ब्लॉक ने कहा कि वह 'निराश थे, लेकिन उन्हें ये जानकर हैरानी नहीं हुई कि उन्हें बेलट्रॉक्स के एक ग्राहक ने हैकिंग का निशाना बनाया है।' हैकर्स द्वारा उपयोग किए जाने वाले संसाधनों की मैपिंग में पिछले दो साल से जुटे इंटरनेट वॉचडॉग ग्रुप सिटीजन लैब के शोधकर्ताओं ने मंगलवार को एक रिपोर्ट जारी करते हुए कहा कि उन्हें यकीन था कि बेलट्रॉक्स कर्मचारी जासूसी कर रहे थे। सिटीजन लैब के शोधकर्ता जॉन स्कॉट-रेलटन ने कहा कि- 'यह सामने आए अब तक के सबसे बड़े spy-for-hire अभियान में से एक है।

लिस्‍ट में इनके नाम

लिस्‍ट में इनके नाम

इस लिस्ट में दक्षिण अफ्रीका के न्यायाधीश, मेक्सिको के राजनेता, फ्रांस के वकील और अमेरिका का एक पर्यावरण समूह है। बेलट्रॉक्स द्वारा निशाना बनाए गए हजारों लोगों में से इन मुट्ठी भर लोगों ने उन मैसेज का जवाब नहीं दिया था। रायटर ये नहीं बता सका कि हैकिंग के कितने प्रयास सफल हुए थे।

कंपनी ऐसे फंसाती थी

कंपनी ऐसे फंसाती थी

बाताया जा रहा है कि जाजूसी करने के लिए दिल्ली की ये कंपनी हजारों ई-मेल भेजती थी जिसमें अश्लील मैसेज होते थे। इतना ही नहीं क्लाइंट को भड़काने के लिए पॉर्न मैसेज उनके रिश्तेदारों को भी भेजे जाते थे। बाद में जब लोगों को शक हुआ तो फिर इन मैसेज पर नजर रखी जाने लगी। फिलहाल पूरे मामले की जांच चल रही है।

सैटेलाइट इमेज में हुआ खुलासा, अब पैंगॉन्ग झील के पास चीन बढ़ा रहा तैनाती, दिख रहे हैं टेंट और नाव

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
With absence content and Horoscopes, How an IT Firm Spied on Politicians, Investors Worldwide.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X