• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

क्या बिहार चुनाव के बाद अब चिराग पासवान को छोड़ना पड़ेगा दिल्‍ली 12 जनपथ बंगला

|

नई दिल्‍ली। लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के प्रमुख चिराग पासवान, जो बिहार चुनाव में अपनी जगह बनाने में नाकाम रहे। जिसके बाद क्या उन्‍हें दिल्‍ली के जनपथ का 12 नबंर बंगले को क्या अब खाली करना पड़ेगा? चिराग पासवान को एक तरफ चुनाव में मिली हार के दुख में इस बंगले में रहने के लिए भी चुनौती का सामना करना पड़ेगा। ये वहीं बंगला है जहां उनके पिता और पार्टी के संस्थापक रामविलास पासवान 31 साल से रहते आए है। पासवान का आधिकारिक पता भी पार्टी के दो दशकों से अधिक समय से ये ही है।

chirag

बिहार में विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद ही लंबी बीमारी के बाद आठ अक्टूबर को रामविलास पासवान का निधन हो गया था, ऐसे में बीते 50 साल से बिहार की राजनीति की पहचान रहे राम विलास की विरासत को उनके बेटे चिराग पासवान ने बख़ूबी संभाला। दिवंगत पिता रामविलास पासवान की बनाई लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) ने 147 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे लेकिन जीत उन्हें एक ही सीट पर मिली है। सियासी उठापटक में इस बार चिराग पासवान नाकाम हो गए। चुनाव से पहले तक एनडीए में शामिल रही एलजेपी ने नीतीश कुमार के ख़िलाफ़ मोर्चा खोला था लेकिन अब एनडीए के पास स्पष्ट बहुमत है और नीतीश कुमार ही अगले मुख्‍यमंत्री बनने जा रहे हैं।

ljp

एक वरिष्ठ पार्टी पदाधिकारी ने कहा एलजेपी के सदस्यों ने टीओआई से स्वीकार किया कि बंगला पार्टी के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि इससे जुड़ी विभिन्न राजनीतिक गतिविधियों को देखते हुए उन्हें उम्मीद है कि चिराग दूसरी बार सांसद रह सकते हैं। "यह वर्षों से पार्टी लाइनों में कटौती करने वाले नेताओं के लिए दलित समेकन का पता है। हम सभी को इस संबोधन से भावनात्मक लगाव है।

2004 में रामविलास को मिला था ये बंगला

रामविलास पासवान ने 2002 के गोधरा दंगों के बाद तत्कालीन अटलबिहारी वाजपेयी वाली सरकार में मंत्री पद से इस्तीफा देकर एनडीए गठबंधन से भी नाता तोड़ लिया था। इसके बाद पासवान कांग्रेस के नेतृत्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) में शामिल हुए और मनमोहन सिंह कैबिनेट में 2 बार मंत्री रहे। बता दें 2004 में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने यूपीए के समर्थन देने के बाद रामविलास पासवान को ये 12 जनपथ गमले में कूच किया था।

क्या कहते हैं अधिकारी

सरकारी अधिकारियों ने कहा कि नियमों के अनुसार, पासवान का परिवार एक महीने के लिए घर में रह सकता है और फिर सरकार इसे वापस ले सकती है। उक्त 12 के आबंटन के मानदंडों से अवगत होने पर, जनपथ "सामान्य पूल" श्रेणी में आता है और ऐसे मामलों में आवंटन आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा किया जाता है। सूत्रों ने कहा कि सरकार के सहमत होने पर एलजेपी अध्यक्ष के पास बंगला आवंटित करने के लिए कुछ विकल्प हैं। एक यह है कि लोकसभा हाउस कमेटी इस बंगले को सामान्य पूल से एलएस पूल में स्थानांतरित कर सकती है और हाउस पैनल इसे दूसरी बार सांसद को आवंटित कर सकती है।

किन परिस्थितयों में चिराग इस बंगले में रह सकते हैं ?

एक और विकल्प यह हो सकता है कि अगर पीएम नरेंद्र मोदी मंत्रिपरिषद में चिराग को शामिल करते हैं। उस स्थिति में, वह एक बड़े आवास का हकदार होगे, और तीसरी संभावना आवास पर कैबिनेट समिति (CCA), आवास पर सरकार का सर्वोच्च प्राधिकरण, चिराग को बंगला आवंटित करना है। पिछले छह वर्षों में, एनडीए में अपनी वापसी के बाद, पासवान ने कई मुद्दों पर भाजपा सहित इस मुद्दे पर दलित नेताओं के साथ महत्वपूर्ण चर्चा की, जैसे कि अध्यादेश की मांग को अनुसूचित के प्रावधानों को कमजोर करने के लिए। 2018 में उच्चतम न्यायालय द्वारा जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम या सरकारी नौकरियों में एससी / एसटी की नियुक्तियों और पदोन्नति में आरक्षण सुनिश्चित करना। यदि वह राजनीति में अपनी अस्मिता का निर्माण करना चाहते हैं, तो उन्हें एक आवास के लिए छोड़ देना चाहिए, जो कि दूसरे कार्यकाल के लिए योग्य है!

पहले इन दिग्गज नेताओं के बच्‍चों से खाली करवाए जा चुके हैं ये बंगले

बता दें 2014 में, दिवंगत पूर्व पीएम चंद्रशेखर के बेटे नीरज शकर लोकसभा चुनाव में हारने के बाद 3, साउथ एवेन्यू निवास स्थान को बरकरार नहीं रख सके। जब तक समाजवादी पार्टी के पूर्व सांसद को राज्यसभा भेजा गया, तब तक निष्कासन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी थी। बाद में नीरज शकरबीजेपी में शामिल हो गईं और अगस्त 2019 में उन्हें फिर से राज्यसभा के लिए निर्विरोध चुन लिया गया। यहां तक ​​कि पूर्व मंत्री अजीत सिंह 12, तुगलक रोड के बंगले को बनाए रखने में विफल रहे, जहां उनके पिता और पूर्व पीएम चौधरी चरण सिंह और वे रहते थे। सिंह 2014 का चुनाव भी हार गए थे।

अमिताभ बच्‍चन से शख्‍स ने पूछा- आप दान क्यों नहीं करते, तो बिग बी ने दिया ये करारा जवाब

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Will Chirag be able to retain Delhi 12 Janpath bungalow?
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X