• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने हिंदी में ट्वीट करके भारत को शुक्रिया कहा, जानिए क्या है मामला?

|

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन प्रमुख टेड्रोस एडहानॉम में मंगलवार को हिंदी भाषा में एक ट्वीट करके सबको चौंका दिया। हिंदी भाषा में डब्ल्यूएचओ प्रमुख द्वारा किया गया ट्वीट भारत सरकार द्वारा उठाए गए उस कदम के लिए था, जिससे कोरोना प्रभावित सभी विकासशील देशों में सुलभ और सस्ती दवा और वैक्सीन पहुंचाई जा सके। इस ट्वीट में डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने भारत के साथ-साथ दक्षिण अफ्रीका का भी शुक्रिया अदा किया है।

    Coronavirus Vaccine: WHO प्रमुख ने हिंदी में Tweet कर India को क्यों कहा शुक्रिया? | वनइंडिया हिंदी

    who

    सावधान रहें! सितंबर-अक्टूबर में दिल्ली में कोरोना मृत्यु दर लगभग दोगुनी हो गई है

    डब्लयूएओ प्रमुख हिंदी भाषा में अपने ट्वीट में लिखा, धन्यवाद भारत और दक्षिण अफ्रीका, बौद्धिक संपदा के मुद्दे पर कोविड-19 के संदर्भ में पुनर्विचार के सुझाव के लिए ताकि वैक्सीन, दवा आदि कम दाम पर उपलब्ध कराए जा सके, ये एक सराहनीय कदम है।

    who

    गौरतलब है अक्टूबर महीने की शुरूआत में भारत सरकार ने विश्व स्वास्थ्य संगठन से कहा था कि विकासशील देशों के लिए कोरोनावायरस की दवाओं और टीके के निर्माण और उनके आयात को सरल बनाने के लिए बौद्धिक संपदा नियमों (Intellectual Property Rules) को थोड़े वक्त के लिए दरकिनार करें। 2 अक्टूबर को डब्ल्यूएचओ लिखे गए एक पत्र में भारत के साथ-साथ दक्षिण अफ्रीका ने बौद्धिक संपदा अधिकार के व्यापार संबंधित पहलुओं पर समझौते के हिस्से में छूट देने का आह्वान किया था।

    who

    फरवरी 2021 तक भारत की आधी आबादी कोरोनावायरस से संक्रमित हो सकती हैः रिपोर्ट

    डब्ल्यूटीओ की वेबसाइट पर प्रकाशित पत्र में कहा गया है कि नए डायग्नोस्टिक के रूप में कोरोनावायरस के लिए मेडिकल व्यवस्था और वैक्सीन विकसित किए गए हैं। दोनों देशों ने कहा कि विकासशील देश महामारी से प्रभावित हैं और पेटेंट सहित बौद्धिक संपदा अधिकार उनके लिए सस्ती दवा की उपलब्धता में बड़ी बाधा बन सकते हैं।

    who

    OMG! चीन में फूड पैकेट पर जिंदा मिला कोरोनावायरस, दुनिया ने पहली बार देखा जानलेवा वायरस

    गौरतलब है पूरी दुनिया में अब तक 4 करोड़ से अधिक लोग कोरोनावायरस की चपेट में हैं और करीब 11 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। पूरी दुनिया में 40 से अधिक वैक्सीन कैंडीडेट्स पर काम चल रहे हैं और कई ऐसे वैक्सीन कैंडीडेट्स हैं, जो मानव परीक्षण के अंतिम दौर में चल रहे हैं और माना जा रहा है कि 2020 के अंत तक वैक्सीन की उपलब्धता संभव है और फरवरी 2021 तक वैक्सीन की बाजार उपलब्धता संभव हो सकती है।

    क्या 2016 में अर्थव्यवस्था पुनरुद्धार पर उभरे ट्रंप, महामारी पर 2020 में गंवा सकते हैं कुर्सी?

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    World Health Organization chief Tedros Adhanom surprised everyone by making a tweet in Hindi language on Tuesday. The tweet by the WHO chief in the Hindi language was for a move by the Indian government to make accessible and affordable medicine and vaccines accessible to all developing countries in Corona. In this tweet, the WHO chief thanked India as well as South Africa.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X