• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Srinagar attack: 20 साल के यश ने शहादत से पहले दोस्‍त से की थी चैट, कहा था-हम आज हैं, कल नहीं होंगे

|

श्रीनगर। 26 नवंबर को जब देश मुंबई आतंकी हमले की 12वीं बरसी पर शहीदों और उन 160 लोगों की याद कर रहा था जिन्‍होंने पाकिस्‍तान समर्थित आतंकी हमले में जान गंवाई थी तो जम्‍मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में एक और हमले में सेना के दो जवान देश के लिए शहीद हो गए। 20 साल के सिपाही यश देखमुख और सिपाही रतन सिंह श्रीनगर के खुशीपोरा में हुए आतंकी हमले में देश के लिए शहीद हो गए। सिपाही यश, टेरिटोरियल आर्मी के साथ थे और मराठा लाइट इनफेंट्री के साथ अटैच्‍ड थे।

indian-soldier-whatsapp-chat.jpg

यह भी पढ़ें-नौसेना के युवा पायलट कमांडर निशांत का कुछ पता नहीं

जिंदगी को लेकर कही थी यह बात

यश देशमुख महाराष्‍ट्र के जलगांव के चालीगांव तालुका के रहने वाले थे। हमले से एक दिन पहले उन्‍होंने अपने एक दोस्‍त के साथ व्‍हाट्स एप पर चैट की थी। अब उनकी यह चैट वायरल हो रही है और इसे पढ़कर आपकी आंखों में आंसू आए जाएंगे। यश ने एक दिन पहले ही अपने दोस्‍त से कहा था, 'इस जिंदगी का कुछ भरोसा नहीं, आज है, कल नहीं होगी।' यश मराठा लाइट इनफेंट्री की 101 डिविजन के साथ तैनात थे। आतंकियों ने किलो फोर्स की पेट्रोलिंग पार्टी पर अचानक हमला कर दिया था। यश के दोस्‍त ने उनसे पूछा था कि वह कैसे हैं? इस पर उन्‍होंने जवाब दिया, 'मैं ठीक हूं। लेकिन हमारी इस जिंदगी के बारे में कोई कुछ नहीं कह सकता है। हम आज यहां हैं, कल नहीं होंगे।' यश के घर में उनके पिता जो खेती करते हैं, उनकी मां, दो बहनें जिनकी शादी हो चुकी और एक छोटा भाई है जो अभी स्‍कूल में पढ़ता है।

पूरा हुआ देश सेवा का सपना

यश हमेशा से सेना में जाना चाहते थे और पिछले वर्ष अपने सपने को पूरा करने के लिए कर्नाटक के बेलगाम तक गए थे। यहां पर सेना भर्ती रैली का आयोजन किया गया था। सेना में उनका सेलेक्‍शन हो सके, इसलिए उन्‍होंने फिटनेस पर पूरा ध्‍यान दिया। वह हमेशा यूनिफॉर्म पहनकर देश की सेवा करना चाहते थे। यश का मैसेज मराठी भाषा में है और अब वायरल हो गया है। इसमें उनके दोस्‍त ने शायद उनसे घाटी में बढ़ती आतंकी घटनाओं के बारे में पूछा था। पाकिस्‍तान पिछले कुछ माह से लगातार आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिशों में लगा हुआ है। श्रीनगर में हुआ आतंकी हमला घाटी में हो रहे स्‍थानीय चुनावों से ठीक 48 घंटे पहले हुआ है। 19 नवंबर को जैश-ए-मोहम्‍मद के आतंकियों की तरफ से एक बड़ी आतंकी साजिश को विफल किया गया था। नगरोटा में जम्‍मू-श्रीनगर नेशनल हाइवे पर सुरक्षाबलों ने उन आतंकियों को ढेर किया था जो हमले की फिराक से आए थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Whatsapp chat of 20 year old Indian Army soldier can bring tears to your eyes martyred in Jammu Kashmir.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X