• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

क्या थी डॉ. केके अग्रवाल की अंतिम इच्छा, परिजनों ने जारी किया नोट

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 18 मई: कई दिनों तक कोरोना वायरस से जूझने के बाद इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष डॉ. केके अग्रवाल का सोमवार देर रात निधन हो गया। 62 वर्षीय डॉ. केके अग्रवाल को तबीयत बिगड़ने के बाद दिल्ली के एम्स में भर्ती किया गया था, जहां वो पिछले एक हफ्ते से वेंटिलेटर पर थे। डॉ. अग्रवाल ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान इलाज से जुड़े कई वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किए थे, जिनके जरिए लोगों को अहम जानकारियां मिली। निधन के बाद उनके परिजनों ने ट्विटर पर एक नोट जारी किया है, जिसमें बताया गया है कि डॉ़. केके अग्रवाल की अंतिम अच्छा क्या थी।

    Dr KK Aggarwal हार गए Corona से जंग, परिजनों ने बताई उनकी अंतिम इच्छा । वनइंडिया हिंदी
    'पूरा जीवन लोगों की भलाई में लगाया'

    'पूरा जीवन लोगों की भलाई में लगाया'

    डॉ. केके अग्रवाल के परिजनों ने उनके ट्विटर हैंडल पर जो नोट जारी किया है, उसमें लिखा है, 'ओम शांति, बहुत दुख के साथ हमें आपको ये सूचना देनी पड़ रही है कि काफी दिनों तक कोरोना वायरस से जंग लड़ने के बाद 17 मई को रात 11:30 बजे हम सभी के प्रिय डॉ. केके अग्रवाल का निधन हो गया। डॉक्टर बनने के बाद से ही पद्मश्री से सम्मानित डॉ. केके अग्रवाल ने अपना पूरा जीवन लोगों की भलाई और स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता बढ़ाने में लगा दिया।'

    ये थी डॉ. केके अग्रवाल की अंतिम इच्छा

    ये थी डॉ. केके अग्रवाल की अंतिम इच्छा

    नोट में आगे लिखा है, 'यहां तक कि कोरोना महामारी के दौरान भी वो लोगों को जागरूक करने में लगे रहे। अपने वीडियो और एजुकेशनल कार्यक्रर्मों के जरिए डॉ. केके अग्रवाल करीब 10 करोड़ लोगों के बीच पहुंचे और अंसख्य लोगों का जीवन बचाया। डॉ. अग्रवाल की इच्छा थी कि उनके निधन को शोक की तरह नहीं, बल्कि जिंदगी के उत्सव की तरह मनाया जाए।'

    'विषम परिस्थितियों में भी रहते थे सकारात्मक'

    'विषम परिस्थितियों में भी रहते थे सकारात्मक'

    डॉ. केके अग्रवाल के परिजनों ने ट्विटर पर जारी नोट में कहा, 'विषम परिस्थितियों में भी सकारात्मकता फैलाने की उनकी भावना को हम में से हर एक के दिल में जीवित रखना चाहिए। आइए हम उन्हें उनके काम और अदम्य भावना के लिए याद करें। कृपया उनकी आत्मा की शांति और शोक में डूबे परिवार को इस दुख को सहने की हिम्मत के लिए प्रार्थना कीजिए।'

    डॉ. बीसी रॉय सम्मान और पद्मश्री से किया गया था सम्मानित

    डॉ. बीसी रॉय सम्मान और पद्मश्री से किया गया था सम्मानित

    आपको बता दें कि पेशे से हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. केके अग्रवाल हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के हेड के तौर पर भी जिम्मेदारी संभाल रहे थे। चिकित्सा क्षेत्र में उनके योगदान को देखते हुए 2005 में उन्हें डॉ. बीसी रॉय सम्मान और 2010 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। डॉ. अग्रवाल ने अपनी शुरूआती पढ़ाई दिल्ली से ही पूरी की थी और बाद में नागपुर यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस की डिग्री ली।

    ये भी पढ़ें-बच्चों को अभी ना लगाएं वैक्सीन, WHO के चीफ ने अमीर देशों से क्यों की ऐसी अपील?ये भी पढ़ें-बच्चों को अभी ना लगाएं वैक्सीन, WHO के चीफ ने अमीर देशों से क्यों की ऐसी अपील?

    वीडियो के जरिए फैलाई कोरोना पर जागरूकता

    वीडियो के जरिए फैलाई कोरोना पर जागरूकता

    डॉ. केके अग्रवाल सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव थे और अक्सर कोरोना वायरस पर जागरूकता को लेकर अपने वीडियो पोस्ट करते रहते थे। उनके निधन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी दुख जताया है। केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'डॉ. केके अग्रवाल का निधन पूरे देश के लिए एक झटका है। उन्होंने अपना सारा जीवन आम लोगों के स्वास्थ्य अधिकारों, विशेषकर गरीबों और वंचितों के लिए समर्पित किया। वो एक महान इंसान थे। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे।'

    English summary
    What Was Dr KK Aggarwal Last Wish, Family Members Issued Note.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X