• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

क्‍या कहा था 2012 में पंजाब में ड्रग्‍स की लत पर राहुल गांधी ने

|
Google Oneindia News

नई दिल्‍ली। इन दिनों फिल्‍म 'उड़ता पंजाब' की वजह से पंजाब में मौजूद ड्रग्‍स की समस्‍या के बारे में हर कोई चर्चा कर रहा है। कांग्रेस के उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी सोमवार यानी 13 जून को जालंधर में इस पर एक धरना करने जा रहे हैं। पंजाब में विधानसभा चुनावों को देखते हुए इसे एक राजनीतिक स्‍टंट माना जा रहा है।

पढ़े-इन आंकड़ों को देखिए और जानिए वजह क्‍यों पंजाब है 'उड़ता पंजाब'..पढ़े-इन आंकड़ों को देखिए और जानिए वजह क्‍यों पंजाब है 'उड़ता पंजाब'..

What Rahul Gandhi said on Punjab and drugs problem in 2012

क्‍या कहा था राहुल गांधी ने

राहुल गांधी ने अक्‍टूबर 2012 में भी इस मुद्दे पर एक ऐसा बयान दिया था जिसने उन्‍हें खबरों में ला दिया था़। राहुल गांधी चंडीगढ़ की एक यूनिवर्सिटी में थे और यहीं पर उन्‍होंने इस समस्‍या पर चर्चा की। राहुल गांधी ने कहा, 'पंजाब के 10 युवाओं में से हर सात युवा ड्रग्‍स का आदी है।'

पढ़ें-चंडीगढ़ में स्‍कूल के बाह‍र बिकते हैं ड्रग्‍स वाले पराठें!पढ़ें-चंडीगढ़ में स्‍कूल के बाह‍र बिकते हैं ड्रग्‍स वाले पराठें!

ड्रग्‍स को बताया अपराध की वजह

हालांकि राहुल गांधी को उनके बयान के लिए काफी खरी-खोटी भी सुनाई गई थी। राहुल का मानना है कि पंजाब में ड्रग्‍स की वजह से ही यहां के युवाओं में क्राइम की ओर झुकाव बढ़ा है।

कांग्रेस ने लिया श्रेय

राहुल गांधी का मानना है कि पंजाब की अकाली दल की सरकार ने कभी इस समस्‍या पर ध्‍यान नहीं दिया और इसकी वजह से यहां हालात बेकाबू हो गए हैं। वहीं दूसरी ओर पंजाब में चुनावों को ध्‍यान में रखते हुए कांग्रेस ने यह कहना शुरू कर दिया है कि राहुल गांधी पहले ऐसे नेता थे जिन्‍होंने सबसे पहले इस समस्‍या के बारे में बात करनी शुरू की थी।

English summary
In the year 2012 Congress Vice President Rahul Gandhi went to Chandigarh to attend a university event. Here he said that 7 out of 10 youth in Punjab are addicted to drugs.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X