• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Weather: मानसून ने पकड़ी रफ्तार, भारत के दो-तिहाई हिस्सों में हो सकती है झमाझम बारिश

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 19 जून। उत्तर भारत के कई इलाके जहां जून की भीषण गर्मी झेल रहे हैं, वहीं दक्षिण भारत समेत कई अन्य हिस्सों में मानसून का आगमन हो चुका है। मौसम विभाग के मुताबिक जल्द ही मानसून भारत के दो-तिहाई हिस्से में फैल जाएगा, इस दौरान तेज गर्जना के साथ भारी बारिश होने की भविष्यवाणी की गई है। महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और कर्नाटक जैसे कई राज्यों में पहले से ही तेज बारिश हो रही है जिसके चलते कई इलाकों में जल-जमाव हो गया है। कई उत्तरी राज्यों में भी आसमान में बादल छाए हुए हैं और मध्यम बारिश हो रही है।

जून के अंत में हो सकती है झमाझम बारिश

जून के अंत में हो सकती है झमाझम बारिश

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की भविष्यवाणी के अनुसार इस (जून ) महीने के अंत में पश्चिमी तट पर पछुआ हवाओं और समुद्री तटों पर ठंडी और गर्म हवा के मजबूत होने के कारण पश्चिमी तट पर भारी वर्षा होने की संभावना है। इसके अलावा पश्चिमी विच्छोभ के कारण उत्तरी-पश्चिमी भारत में मानसून की तेजी में कमी आयी है, इसके दिल्ली पहुंचने में सात से 10 दिन का समय लग सकता है। मौसम विज्ञान ने भारत के दक्षिणी हिस्सों में वर्षा के सामान्य के करीब होने की आशंका जताई है।

27 से 30 जून के बीच मानसून पकड़ेगा रफ्तार

27 से 30 जून के बीच मानसून पकड़ेगा रफ्तार

मौसम विभाग के क्षेत्रीय केन्द्रीय के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, 'दक्षिण-पश्चिम मानसून के उत्तर-पश्चिम भाग के बाकी हिस्से में देर से पहुंचने की वजह पछुआ हवाएं हैं जिसमें कुछ प्रतिकूल बदलाव हुआ है।' अपने दो सप्ताह के पूर्वानुमान मौसम विभाग ने कहा कि 27 से 30 जून के बीच मानसून के रफ्तार पकड़ने की गुंजाइश है। मानसून के कुछ दिनों में पश्चिम राजस्थान के बाहर उत्तर-पश्चिम भारत के अधिकांश में फैलने की आशंका है। इसके साथ ही पश्चिम बंगाल और गंगा के करीब इलाकों में चक्रवाती परिसंचरण बनने के कारण बारिश हो सकती है।

उत्तर प्रदेश पर मेहरबान मानसून

उत्तर प्रदेश पर मेहरबान मानसून

भारतीय मौसम वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और उत्तरी ओडिशा अगले 48 घंटों में भारी बारिश होगी। दक्षिण-पश्चिम मानसून बीते 18 जून को राजस्थान की सीमा में दस्तक दे चुका है, आने वाले दिनों में ये और आगे बढ़ेगा। दक्षिणी-पश्चिमी मानसून करीब पांच दिन के अंतराल के बाद एक फिर उत्तर प्रदेश पर मेहरबान हो गया है। अगले दो घंटों के दौरान उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश होने का अनुमान है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, मॉनसून ने आज पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश में दस्‍तक दे दी है।

गुजरात में जमकर बरसे बदरा

गुजरात में जमकर बरसे बदरा

वहीं, गुजरात में भारी बारिश से जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है, दो दिनों की जोरदार बारिश से कई इलाकों में सड़कों पर पानी भरने से नदियों के बहने जैसे दृश्य नजर आ रहे हैं। किसानों राहत महसूस कर रहे हैं। वहीं, जहां जलजमाव हुआ है, वे लोग पानी भरने से परेशान हैं। कई गांवों के रास्ते बाधित हो गए हैं। एक गांव के लोगों ने बताया कि, बुधवार रात से ही रुक-रुककर बारिश हो रही है। जोरदार बारिश के चलते फलकुं और ब्राह्मणी नदी में बाढ़ आ गई है।

यह भी पढ़ें: आणंद में मानसून से आनंद: 2 दिन में 13 इंच बारिश, गुजरात की झीलें पानी से भरीं, नदियां उफान पर

English summary
Weather Update Monsoon progressing rapidly in two-thirds of India
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X