• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

MP By Elections 2020: मतदान खत्म होने के बाद कमलनाथ ने BJP पर लगाए पैसे बांटने का आरोप, देखें Video

|

भोपाल। एमपी विधानसभा उपचुनाव की 28 सीटों पर मंगलवार को मतदान हुआ है, चुनाव आयोग के मुताबिक राज्य की इन सीटों पर कुल 69.93 फीसदी वोटिंग हुई है लेकिन मतदान के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बीजेपी पर पैसे बांटने के आरोप लगाए हैं, उन्होंने कहा कि हमें जानकारी मिली कि पुलिस-प्रशासन की मदद से पैसे चुनाव वाली जगहों पर बांटें गए हैं,कहीं-कहीं तो बीजेपी ने प्रशासन की मदद से ये काम किया है, ये कितनी शर्म की बात है, बीजेपी ने शराब, पैसा, कपड़े बांटे हैं लेकिन भाजपा ये भूल गई है कि वोटर बिकाऊ नहीं है।

कमलनाथ ने BJP पर लगाए पैसे बांटने के आरोप, देखें Video
    Madhya Pradesh by-election: Jyotiraditya Scindia और Kamal Nath ने किया जीत का दावा | वनइंडिया हिंदी

    कमल नाथ ने आगे कहा कि वहीं मुरैना जिले में सुमावली विधानसभा सीट के कासपुरा और खनेता गांव में फायरिंग की घटना हुई है, सत्ता लोभ में आज भाजपा कितना नीचे गिर गई है, इसलिए मैं चुनाव आयोग से फिर से अपील करता हूं कि वो फायरिंग वाली जगहों पर फिर से वोटिंग कराए। ये सभी घटनाएं भाजपा की निराशा को साबित करती हैं। मालूम हो कि कमल नाथ लगातार भाजपा पर खरीद-फरोख्त का आरोप लगाते आ रहे हैं। उन्होंने इससे पहले चुनावी रैली में भी कहा था कि ये बीजेपी वाले पैसे से लोग खरीदने की बात करते हैं लेकिन ये लोग यह भूल गए हैं कि एमपी की जनता बिकाऊ नहीं है।

    Video देखने के लिए यहां क्लिक करें

    आपको बता दें कि जहां कमल नाथ, बीजेपी पर जनता में पैसे बांटने का आरोप लगाया है, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि लगभग 17 पोलिंग बूथ से कांग्रेस के पोलिंग एजेंट्स को हटा दिया गया था और बूथ कैप्चर करने की प्रक्रिया हुई है, ऐसे में हम वहां दोबारा मतदान की मांग करते हैं।

    ज्योतिरादित्य सिंधिया व कमलनाथ की प्रतिष्ठा दांव पर

    गौरतलब है कि ये 28 सीटें वो हैं, जो विधायकों की मौत और ज्योतिरादित्य सिंधिया के विधायकों के कांग्रेस छोड़कर भाजपा में चले जाने के कारण खाली हुई हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया के अपने समर्थकों के साथ कांग्रेस से बगावत करने के कारण मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार गिर गई थी। उसके बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थन से भाजपा के शिवराज सिंह चौहान की सरकार बनी इसलिए इस उपचुनाव में शिवराज सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया व कमलनाथ की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।मध्यप्रदेश के इतिहास में पहली बार इतनी ज्यादा विधानसभा सीटों पर एक साथ उपचुनाव हुए हैं।

    यह पढ़ें: सिंधिया को कमलनाथ का जवाब- 'मैंने उन्हें नहीं कहा कुत्ता, जनता है गवाह'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    We got information about money being distributed in cahoots with police & administration. But voters are not for sale. We've demanded EC for repolling at 2 places where firing took place. All these incidents only prove BJP's frustration: Congress leader Kamal Nath on MP By-polls
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X