• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Video: अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपेयो ने दी गलवान शहीदों को श्रद्धांजलि, दिल्‍ली से चीन को दिया बड़ा संदेश

|

नई दिल्‍ली। भारत और अमेरिका के बीच 27 अक्‍टूबर को तीसरी 2+2 वार्ता संपन्‍न हो गई। इस दौरान अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपेयो और रक्षा मंत्री मार्क एस्‍पर भारत आए थे। सोमवार को दोनों नेता भारत पहुंचे और शाम को दोनों नेशनल वॉर मेमोरियल गए। यहां पर दोनों ने भारतीय वीर सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद मंगलवार को अपने भारतीय समकक्षों एस जयशंकर और राजनाथ सिंह के साथ मीटिंग के बाद इन्‍होंने एक ज्‍वॉइन्‍ट प्रेस कॉन्‍फ्रेंस को संबोधित किया।

mike-pompeo.jpg
    India-US 2+2 Dialogue: Galwan Valley का ज़िक्र करते हुए Mike Pompeo ने कही ये बात | वनइंडिया हिंदी

    यह भी पढ़ें-Infantry Day: पीएम मोदी ने भी दी इनफेंट्री डे की शुभकामनाएं

    अमेरिका हर पल भारत के साथ

    पोंपेयो ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में गलवान शहीदों को जिक्र किया और चीन का जमकर फटकारा। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपेयो ने कहा, 'हम नेशनल वॉर मेमोरियल गए ताकि उन बहादुर पुरुषों और महिलाओं का सम्‍मान कर सकें जिन्होंने दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्री की रक्षा में अपने प्राण गंवा दिए जिसमें वो 20 सैनिक भी शामिल हैं जो पीएलए के खिलाफ लड़ाई में गलवान वैली में मारे गए। भारत अपनी संप्रभुता और स्‍वतंत्रता पर आने वाले खतरों से निबट रहा है और अमेरिका हर पल उनके साथ हैं।' पोंपेयो ने आगे कहा, 'हमारे नेता और नागरिक इस बात को लेकर स्‍पष्‍ट हैं कि चीनी कम्‍युनिस्‍ट पार्टी (सीसीपी) किसी भी लोकतंत्र, कानून, पारदर्शिता की दोस्‍त नहीं है। मुझे खुशी है कि भारत और अमेरिका मिलकर ऐसे कदम उठा रहे हैं जिससे न सिर्फ सीसीपी बल्कि हर खतरे के खिलाफ सहयोग मजबूत हो सके।'

    चीन को लेकर हुई चर्चा

    माइक पोंपेयो और मार्क एस्‍पर ने ज्‍वॉइन्‍ट प्रेस कॉन्‍फ्रेंस से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोवाल से भी मुलाकात की। अमेरिकी चुनावों से पहले यह एक बड़ी मीटिंग थी जो भारत और अमेरिका के बीच हुई है। पोंपेयो ने इस दौरान चीन को पूरी तरह से किनारे कर दिया। पोंपेयो ने कहा कि पिछले वर्ष भारत और अमेरिका ने साइबर मुद्दों पर आपसह सहयोग को मजबूत किया था। साथ ही उन्‍होंने याद दिलाया कि दोनों देशों की नौसेनाओं ने हिंद महासागर में एक ज्‍वॉइन्‍ट एक्‍सरसाइज को अंजाम दिया है। भारतीय अधिकारियों ने बताया है कि दोनों पक्षों ने चीन के साथ पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर जारी टकराव को लेकर भी विस्‍तार से चर्चा की है। मई माह से दोनों देशों की सेनाएं पूर्वी लद्दाख में आमने-सामने हैं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Mike Pompeo honours Indian Soldiers who lost life in Galwan Valley against China.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X