• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गलवान में शहीद रणबांकुरों के नाम पर होगा कोरोना समर्पित अस्पताल के वार्डों का नाम: DRDO

|

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर 15-16 जून की रात चीनी सेना के साथ हुए हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवानों ने शहादत दी थी। सीमा पर शहीद हुए उन भारतीय सेना के जांबाजों के सम्मान में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने बड़ा ऐलान किया है। मिली जानकारी के मुताबिक डीआरडीओ सभी शहीद जवानों के नाम पर सरदार वल्लभभाई पटेल अस्पताल के वार्डों का नाम रखेगा।

चीन के ‘जीन’ में है विस्तारवाद , उसकी जमीन हड़पो नीति से भारत समेत दुनिया के 23 देश परेशान

    1962 India-China War: Galwan Valley जब Chinese Army ने Gorkha Post को घेरा था | वनइंडिया हिंदी

    wards of the corona dedicated hospital will be named on martyred army personnel In Galwan Valley Clash

    गौरतलब है कि 15 जून की रात चीनी सेना ने एलएसी पर घुसपैठ की कोशिश की जिसके बाद भारतीय सेना के जवानों ने उन्हें पीछे हटने को कहा। तभी इसी बीच कुछ चीनी सैनिकों ने कर्नल संतोष बाबू पर हमला कर दिया। अपने कर्नल को बचाने के दौरान कई अन्य जवान भी घायल हो गए थे। इस घटना में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हुए थे, चीन ने भी माना कि उसके कुछ जवान घायल हुए हैं लेकिन मरने वाले सैनिकों की संख्या का खुलासा नहीं किया था।

    गलवान में शहीद हुए जवानों के नाम

    1. कर्नल संतोष बाबू, हैदराबाद

    2. सब. नुदूराम सोरेन, मयूरभंज

    3. सब. मंदीप सिंह, पटियाला

    4. सब. सतनाम सिंह, गुरदासपुर

    5. हवलदार के. पलानी, मदुरै

    6. हवलदार सुनील कुमार, पटना

    7. हवलदार बिपुल रॉय, मेरठ

    8. दीपक कुमार, रीवा

    9. सिपाही राजेश ओरंग, बीरभूम

    10. सिपाही कुंदन कुमार, साहिबगंज

    11. सिपाही गणेश राम, कांकेर

    12. सिपाही चंद्रकांत प्रधान, कंधामल

    13. सिपाही अंकुश, हमीरपुर

    14. सिपाही गुरबिंदर, संगरूर

    15. सिपाही गुरतेज सिंह, मनसा

    16. सिपाही चंदन कुमार, भोजपुर

    17. सिपाही कुंदन कुमार, सहरसा

    18. सिपाही अमन कुमार, समस्तीपुर

    19. सिपाही जयकिशोर सिंह, वैशाली

    20. सिपाही गणेश हंसदा, ईस्ट सिंघभूमि

    भारत की रक्षा से जुड़े अनुसंधान कार्यों के लिये देश की अग्रणी संस्था रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने शुक्रवार को देश की सुरक्षा के लिए अपनी जान कुर्बान करने वाले गलवान शहीदों के सम्मान में दिल्ली स्थित कोरोना समर्पित सरदार वल्लभभाई पटेल के विभिन्न वार्डों का नाम उनके नाम पर रखने का निर्णय लिया है। डीआरडीओ के चेरयमैन जी सतीश रेड्डी ने इस बात की जानकारी दी है।

    अब सीने के एक्स-रे से लगाया जा सकेगा कोरोना का पता, IIT-गांधीनगर के रिसर्चर ने बनाया ऐसा वेब-टूल

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    wards of the corona dedicated hospital will be named on martyred army personnel In Galwan Valley Clash
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more