• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अयोध्या में कानून-व्यवस्था की कोई दिक्कत नहीं, पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था- वीके सिंह

|

नई दिल्ली। अयोध्या में जिस तरह से विहिप, शिवसेना और तमाम हिंदू संगठन अयोध्या पहुंचे हैं, उसके बीच पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा था था कि सुप्रीम कोर्ट को इस मामले में दखल देना चाहिए। उन्होंने अपील की कि सुप्रीम कोर्ट को अयोध्या में सेना भेजनी चाहिए, क्योंकि यहां कानून-व्यवस्था बिगड़ सकती है। लेकिन अखिलेश यादव के इस बयान पर केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने कहा कि अयोध्या में पर्याप्त सुरक्षाबल और तमाम तंत्र मौजूद हैं।

vk singh

वीके सिंह ने कहा कि भाजपा की सरकार अन्य दलों की सरकार की तुलना में अयोध्या में कहीं बेहतर सुविधा मुहैया कराएगी और कानून व्यवस्था की कोई दिक्कत नहीं होगी। गौरतलब है कि अखिलेश यादव ने मांग की कि सुप्रीम कोर्ट को अयोध्‍या में सेना तैनात कर सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम करने के निर्देश देने चाहिए। अखिलेश ने कहा कि भाजपा को न तो संविधान पर भरोसा है और न सुप्रीम कोर्ट पर। उन्‍होंने कहा कि अगर अयोध्‍या में सेना तैनाती की भी जरूरत पड़े तो वो भी लगाई जाए लेकिन सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम किए जाएं। अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि अयोध्या में बीजेपी किसी भी हद तक जा सकती है।

गौरतलब है कि सुरक्षा में किसी भी तरह की चूक न हो इसलिए अयोध्या में एडीजीपी और डीआईजी स्तर का एक अधिकारी निगरानी रख रहे हैं। वहीं एसपी स्तर के तीन, एएसपी स्तर के 10, डीएसपी स्तर के 21, इंस्पेक्टर स्तर के 160, 700 कॉन्सेटबल के साथ पीएसी की 42 कंपनियां और आरएएफ की पांच और एटीएस कंमाडो तैनात किए गए हैं। वहीं अयोध्या के हर एक इलाके पर निगरानी रखने के लिए ड्रोन कैमरों की तैनाती की जा चुकी है।

इसे भी पढ़ें- अयोध्या में लगेगी भगवान राम की 221 मीटर ऊंची भव्य मूर्ति, योगी आदित्यनाथ ने दी मंजूरी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
VK Singh reverts to Akhielsh Yadav says enough law & order machinery available.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X