• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

#UtkalExpressDerailment:धारा 304 के तहत अज्ञात शख्स के खिलाफ केस दर्ज

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। मुजफ्फरनगर रेल हादसे के कारण इस वक्त यूपी समेत पूरा देश सकते में हैं, विपक्ष जहां इस हादसे के लिए भाजपा सरकार को कोस रही है वहीं दूसरी ओर सोशल मीडिया पर भी जमकर रेलमंत्री सुरेश प्रभु के खिलाफ बयानबाजी हो रही है। इस हादसे में अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है और 150 से ज्यादा जख्मी हैं।

मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा: अधिकारियों को प्रभु का निर्देश, शाम तक बताओ दोषी कौनमुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा: अधिकारियों को प्रभु का निर्देश, शाम तक बताओ दोषी कौन

दुर्घटना इतनी भयावह थी कि पटरी से उतरे 13 कोच एक-दूसरे पर जा चढ़े, यहां तक कि एक कोच पास के मकान में और दूसरा कोच ट्रैक के किनारे स्थित तिलक राम इंटर कॉलेज कॉलेज में जा घुसा। इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 304A (लापरवाही की वजह से मौत) का केस दर्ज किया गया है।

शनिवार शाम 5 बजकर 46 मिनट पर हुआ हादसा

गौरतलब है कि कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस ट्रेन पुरी से हरिद्वार जा रही थी। ट्रेन को रात 9 बजे हरिद्वार पहुंचना था लेकिन पहुंचने से पहले ही शनिवार शाम 5 बजकर 46 मिनट पर ये हादसा हो गया।

PM मोदी ने घटना पर दुख जताया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खतौली रेल हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि यूपी सरकार और रेल मंत्रालय सभी जरूरी मदद मुहैया कराने में जुटे हैं, उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की

मुआवजे की घोषणा

हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों और घायलों के लिए सरकार ने मुआवजे की घोषणा की है। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने मारे गए लोगों के लिए 5 लाख और रेल मंत्रालय ने 3.5 लाख के मुआवजे की का ऐलान किया है, वहीं घायलों को 50 हजार रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।

English summary
#UtkalExpressDerailment: Case registered against unknown persons under various sections including 304 A of IPC (death due to negligence)
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X