• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

यहां कोरोना वायरस शब्द के इस्तेमाल पर लगा प्रतिबंध, जानिए क्या है पूरा मामला?

|

नई दिल्ली। मध्य एशियाई राष्ट्र तुर्कमेनिस्तान ने पूरी दुनिया महामारी बनकर कहर ढा रहे नोवल कोरोनो वायरस शब्द के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है। दरअसल, कोरोना वायरस संक्रमण के मामले में अब तक जीरो तुर्कमेनिस्तान ने मीडिया को "कोरोनो वायरस" शब्द के इस्तेमाल से प्रतिबंधित किया है।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

ban

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार तुर्कमेनिस्तानी सरकार द्वारा जानलेवा कोरोना वायरस शब्द पर प्रतिबंध लगाने के बाद अब स्कूलों, अस्पतालों और कार्यस्थलों में वितरित स्वास्थ्य सूचना के ब्रोशर से कोरोना वायरस शब्द को पूरी तरह से हटा दिया गया है।

जर्मनी एक लाख नागरिकों का कराएगा COVID-19 एंटीबॉडी टेस्ट, जानिए क्या है मामला?

12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

ban

विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक 2019 के आखिरी पायदान में मौजूद गैस-संपन्न निरंकुश पूर्व सोवियत राष्ट्र तुर्कमेनिस्तान दुनिया के सबसे रूढिवादी देशों में से एक है। तुर्कमेनिस्तान कोरोना वायरस से बुरी तरह से प्रभावित देश ईरान का पडो़सी है, जहां अब तक 44,000 से अधिक कोरोना संक्रमण के मामले दर्ज हुए हैं और 2898 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है।

ban

सीमाओं के परे पेरिस स्थित पत्रकारों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक तुर्कमेनिस्तान में कोरोना वायरस शब्द पर प्रतिबंध के अलावा वहां चेहरे पर मास्क पहनने अथवा कोरोनो वायरस के बारे में बात करने वालों को सादी वर्दी में तैनात पुलिस गिरफ्तार भी कर लेती हैं।

यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की सेवा और चिकित्सकों की सुरक्षा में तैनात किए जाएंगे रोबोट्स!

ban

वर्ष 2006 से एक सर्वव्यापी व्यक्तित्व पंथ के जरिए तुर्कमेनिस्तान में शास करते आ रहे राष्ट्रपति गुरबंगुली बर्दिमुखमेदोव को तुर्कमेनिस्तान के "अर्कदाक," या रक्षक के रूप में माना जाता है।

ban

सावधान! जानिए, कपड़ों पर कब तक जीवित रहता है कोरोना वायरस?

उल्लेखनीय है पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से अब तक 672830 लोग संक्रमित हो चुके हैं और इस जानलेवा वायरस से अबतक 43271 की असामयिक मौत हो चुकी है। चीन के वुहान शहर से पूरी दुनिया में फैला कोरोना वायरस का केंद्र यूरोपीय देश के बाद अमेरिका बन गया है, जहां अब तक सर्वाधिक 188530 लोग संक्रमित हो चुके हैं जबकि इटली में अकेले सर्वाधिक 12428 लोगों की मौत हो चुकी है।

एक छोटी गलती और कोरोना वायरस की सबसे बड़ी शिकार बन गई इटली, क्या थी वह गलती?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
So far Zero Turkmenistan has banned the media from using the term "corono virus" in the case of corona virus infection. According to media reports, after the Turkmenistan government banned the term deadly corona virus, the term corona virus has now been completely removed from brochures of health information distributed in schools, hospitals and workplaces.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X