• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ओरेकल पर लगा भेदभाद का आरोप, भारतीय कर्मचारियों को 25 फीसदी कम सैलरी

|

नई दिल्ली। अमेरिकी कंपनी ओरेकल पर अमेरिका के लेबर डिपार्टमेंट ने आरोप लगाया है कि वह भारतीय, एशियाई और अफ्रीकन अमेरिकन कर्मचारियों को को अन्य गोरे कर्मचारियों की तुलना में 25 फीसदी कम सैलरी दे रही है। आरोप है कि ओरेकल उन गोरे लोगों को जोकि एशिया के नहीं हैं उन्हें 25 अन्य लोगों की तुलना में 25 फीसदी अधिक सैलरी दी जा रही है। गौर करने वाली बात है कि ओरेकल ने भारतीय नागरिकों को एसिया में प्रोडक्ट डेवेलपमेंट के लिए चुनने में प्राथमिकता दिखाई है लेकिन इनके साथ सैलरी देने में भेदभाव किया जा रहा है।

oracle

शिकायत में कहा गया है कि ओरेकल गैर एशियाई कर्मचारियों की तुलना में अन्य कर्मचारियों को कम सैलरी दे रही है। जो कर्मचारी कम सैलरी में काम करने के लिए तैयार होते हैं उन्हें नौकरी दी जाती है। एक बार जब कर्मचारी की नियुक्ति हो जाती है तो उसमे से महिलाओं, एशियाई कर्मचारीयिों और काले कर्मचारियों को अपेक्षाकृत कम सैलरी दी जाती है। यूएस डिपार्टमेंट के ओएफसीसीपी विभाग ने अपनी शिकायत में इस बात को प्रमुखता से रखा है। शिकायत में कहा गया है कि इस मामले की जांच होनी चाहिए।

वहीं ओरेक इंडिया ने इस मामले पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है। शिकायत में कहा गया है कि जो कर्मचारी गोरे नही हैं उन्हें जनवरी 2013 से 2016 के बीच 400 मिलियन डॉलर का नुकसान हुआ है। इस भेदभाव का असर 11000 एशियाई कर्मचारियों पर पड़ा है आपको बता दें कि ओरेकल भारत के कैंपस से कर्मचारियों का चयन करता है और उन्हें अपनी कंपनी में नौकरी देता है।

इसे भी पढ़ें- बेस्ट सीएम को लेकर हुआ सर्वे, जानिए कितने लोगों की पसंद हैं योगी आदित्यनाथ

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US labour department complaint Oracle pays 25 percent less to Indian and asians.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X