• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना से जंग में मिला अमेरिका का साथ, भारत पहुंचे 1.25 लाख रेमेडिसविर इंजेक्शन

|

नई दिल्ली, मई 2: भारत इन दिनों घातक वायरस कोरोना की दूसरी लहर की भयावहता से जूझ रहा है। स्थिति यह है कि अस्पतालों में जरूरी दवाओं के साथ-साथ ऑक्सीजन की भारी किल्लत से जूझना पड़ रहा है। ऑक्सीजन और कोरोना मरीज के इलाज में काम आने वाली दवाओं के अभाव में मरीजों की जान जा रहा है। इस बीच भारत की मदद के लिए और देश भी आगे आ रहे हैं। इसी कड़ी में आज फिर अमेरिका से फ्लाइट के जरिए मदद भारत पहुंची है।

    Coronavirus: US से 125,000 Remdesivir भारत पहुंची, Germany से आए 4 ऑक्सीजन कंटेनर | वनइंडिया हिंदी

    America help india

    इस दौरान नई दिल्ली में स्थित अमेरिकी दूतावास ने बताया कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अमेरिकी लोग भारत के साथ एकजुट हैं। आज एंटी वायरल ड्रग रेमेडिसविर की 125,000 शीशियां यूएस से भारत पहुंची हैं। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि भारत की मदद के लिए यह चौथी राहत शिपमेंट है। अभी और मदद सामग्री रास्ते में है।

    अमेरिका से 125 टन चिकित्सा एवं राहत सामग्री लेकर शनिवार रात दिल्ली पहुंचेगा नेशनल एयरलाइंस का जंबो जेटअमेरिका से 125 टन चिकित्सा एवं राहत सामग्री लेकर शनिवार रात दिल्ली पहुंचेगा नेशनल एयरलाइंस का जंबो जेट

    वहीं इससे पहले भारत की मदद के लिए अब तक 3 शिपमेंट भारत आ चुके हैं, जिसमें कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में भारत को मदद मिलेगी। 400 ऑक्सीजन सिलेंडर्स, करीब 10 लाख कोरोना टेस्ट किट और अन्य उपकरणों को लेकर अमेरिकी विमान पहुंचा। इसके अलावा कई सौ टन दवा और राहत सामग्री भारत पहुंच चुकी है। आपको बता दें कि अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने बताया था कि इन दिनों में भारत को 100 मिलियन डॉलर की सप्लाई की जाएगी। इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के बीच भी कोरोना संकट पर बातचीत हुई थी।

    English summary
    India receives 1.25 lakh vials of remdesivir from US
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X