• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चाची-मौसी के अंतिम संस्‍कार के लिए उन्नाव रेप पीड़िता के चाचा को मिली पैरोल

|

लखनऊ। उन्‍नाव रेप पीड़िता के चाचा महेश सिंह को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने पैरोल दे दी है। बता दें कि रेप पीड़िता की चाची और मौसी की रायबरेली जाते वक्‍त ट्रक की टक्‍कर में मौत हो गई थी। उन्‍हीं के अंतिम संस्‍कार के लिए कल पीड़िता के चाचा रायबरेली जेल से पैरोल पर छूटेंगे और अंतिम संस्कार के बाद जेल वापस जाएंगे। पत्नी व साली के अंतिम संस्कार के लिए घर में कोई पुरुष नहीं है। गौरतलब है कि पीड़िता का परिवार मंगलवार सुबह से ही पैरोल के लिए धरने पर बैठा था। इस हादसे में रेप पीड़िता और वकील बुरी तरह जख्‍मी हुए हैं।

चाची-मौसी के अंतिम संस्‍कार के लिए उन्नाव रेप पीड़िता के चाचा को मिली पैरोल

दोनों लखनऊ के अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में वेंटिलेटर पर हैं। आपको बता दें कि पीड़ित लड़की से जुड़े दो और मामलों की जांच भी CBI कर रही है। एक मामला पीड़ित लड़की के पिता को पीट-पीटकर मार डालने और दूसरा मामला लड़की के साथ गैंगरेप करने का है। दोनों ही मामलों में उन्नाव के बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उसके भाई आरोपी हैं। सड़क हादसे के मामले में भी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, उनके भाई, 10 लोग नामजद और करीब 15 से 20 अज्ञात लोग आरोपी हैं। जिनके खिलाफ सोमवार को पुलिस ने हत्या और हत्या के प्रयास के आरोप में FIR दर्ज कराई है।

शवों के गांव पहुंचने से पहले भारी पुलिस बल तैनात

उन्नाव के माखी गांव में दुष्कर्म पीडि़ता की चाची व मौसी के शव का अंतिम संस्कार होने को लेकर गांव में पुलिस की सुरक्षा और बढ़ा दी गई। सोमवार को तीन थानों की पुलिस के साथ पीएसी को तैनात किया गया था पर मंगलवार को सफीपुर, आसीवन, फतेहपुर चौरासी, बांगरमऊ, अजगैन और अचलगंज आदि थानों की पुलिस माखी पहुंच चुकी थी। पीडि़ता के घर के बाहर फोर्स की मुस्तैदी के साथ गांव भर में फोर्स गश्त भी कर रहा है। शव कितने समय पहुंचेंगे इस संबंध में पुलिस अधिकारी भी कुछ स्पष्ट नहीं बता रहे हैं।

Read Also- होटल के कमरे में NRI संग राखी सावंत ने की गुपचुप शादी, जानिए क्‍या है सच्‍चाई

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Unnao rape survivor's uncle gets parole for last rites of family members.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X